New
समाज  |  5-मिनट में पढ़ें
कानपुर में आखिरकार गाय की बदौलत पिटबुल और रॉटविलर को अपनी 'औकात' पता चल ही गयी!
सियासत  |  4-मिनट में पढ़ें
स्कूलों में सर्वधर्म समभाव के लिए 'कलमा' पढ़ाए जाने की क्या जरूरत है?
ह्यूमर  |  5-मिनट में पढ़ें
Friday riots: तीसरे को जोड़ने के लिए दो पत्थर चिल्लाए- 'आज जुम्मा है...'
ह्यूमर  |  5-मिनट में पढ़ें
सब धर्मो पर सॉफ्ट स्टैंड: मिशन 2024 की रणनीतिक योजना है!
ह्यूमर  |  4-मिनट में पढ़ें
अल्लाह ने दुनिया बनाई, फिर अल्लाह ने कानपुर बनाया... अब दंगे को मत रोइये
सियासत  |  4-मिनट में पढ़ें
1931 में गणेश शंकर विद्यार्थी किस 'सांप्रदायिकता' की भेंट चढ़े थे?
ह्यूमर  |  3-मिनट में पढ़ें
बस डर है कि 'विमल' के दाने-दाने जैसी 'केसरी' न हो जाए अपने कानपुर की मेट्रो!
समाज  |  एक अलग नज़रिया  |  6-मिनट में पढ़ें
‘ओमिक्रॉन सबको मार डालेगा’ इस डर से पत्नी व बच्चों की हत्या, कोविड से बड़ी बीमारी डिप्रेशन है!
सोशल मीडिया  |  6-मिनट में पढ़ें
Kanpur guthka man: जभऊ गुटखा खाते पकड़ाओ, तो बहाना रेडीमेड है- सुपारी खा रहे थे!