बड़ी ख़बरें-बड़ी बहस

सिनेमा  |  4-मिनट में पढ़ें
बाटला हाउस : अतीत के सवालों का एनकांउटर करने की कोशिश

बाटला हाउस : अतीत के सवालों का एनकांउटर करने की कोशिश

फिल्म Batla house में पुलिस को लेकर ऐसा ड्रामा रचने की कोशिश की गई जो यह साबित करने में लगा रहा कि पुलिस ग़लत हो ही नहीं सकती क्योंकि वो जान जोखिम में डालकर गोली चलाती है.
स्पोर्ट्स  |  3-मिनट में पढ़ें
क्या लारा और सरवन रोक पाएंगे टीम इंडिया का विजय रथ?

क्या लारा और सरवन रोक पाएंगे टीम इंडिया का विजय रथ?

महान बल्लेबाजों में से एक लारा और अपने जमाने के शानदार बल्लेबाजों में शामिल सरवन भारत के खिलाफ एंटीगा में होने वाले पहले टेस्ट मैच से पूर्व लगने वाले शिविर में वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों को गुर सिखाएंगे और टीम के सदस्यों के साथ अपने अनुभव साझा करेंगे.
सियासत  |  6-मिनट में पढ़ें
जनसंख्या के मुद्दे पर राजनीतिक विस्फोट घातक न हो जाए

जनसंख्या के मुद्दे पर राजनीतिक विस्फोट घातक न हो जाए

भारत में बढ़ती जनसंख्या को लेकर हमेशा से चिंता जताई जाती है लेकिन इस गंभीर मुद्दे पर कभी सार्थक और सटीक समाधान निकलने की कोशिश नहीं की गयी है. आज देश में इस गंभीर मुद्दे पर घोर मंथन, विचार विमर्श होना चाहिए.
समाज  |  5-मिनट में पढ़ें
भारत में मुसलमानों की बढ़ती आबादी से जुड़े सारे मिथक अब टूट जाएंगे

भारत में मुसलमानों की बढ़ती आबादी से जुड़े सारे मिथक अब टूट जाएंगे

जनसंख्या को लेकर जो आंकड़े नेशनल फेमिली हेल्थ सर्वे ने दिए हैं उनमें मुसलमानों को लेकर एक बड़ा मिथक टूटा है, आंकड़े बता रहे हैं कि देश के मुस्लिम परिवारों की प्रजनन दर बहुत तेजी के साथ लगातार कम हो रही है.
सियासत  |  3-मिनट में पढ़ें
रजनीकांत ने यूं ही मोदी-शाह की तारीफों के पुल नहीं बांधे

रजनीकांत ने यूं ही मोदी-शाह की तारीफों के पुल नहीं बांधे

जिस तरह कश्मीर मसले पर रजनीकांत ने मोदी-शाह की जोड़ी की तारीफ की है तमिलनाडु की सियासत में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है. माना जा रहा है कि आने वाले वक़्त में रजनीकांत और भाजपा तमिलनाडु के खाली वैक्यूम को भर सकते हैं.
सियासत  |  5-मिनट में पढ़ें
मोदी की जनसंख्या नीति इमरजेंसी की नसबंदी और चीन की वन चाइल्‍ड पॉलिसी से कितनी अलग?

मोदी की जनसंख्या नीति इमरजेंसी की नसबंदी और चीन की वन चाइल्‍ड पॉलिसी से कितनी अलग?

अब तक 'छोटा परिवार, सुखी परिवार, माना जाता रहा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब छोटे परिवार को देशभक्त परिवार का तमगा दे डाला है. ऐसा करके मोदी ने बड़बोले बीजेपी नेताओं की हौसलाअफजाई तो की है - लेकिन 'सबका विश्वास' हासिल करना नाममुकिन होगा.
समाज  |   बड़ा आर्टिकल
रक्षा-संबल : कहानी जो बताती है कि कैसे भाई बहन का रिश्ता तमाम रिश्तों से बड़ा है

रक्षा-संबल : कहानी जो बताती है कि कैसे भाई बहन का रिश्ता तमाम रिश्तों से बड़ा है

भाई और बहनों के बीच कितने भी मन मुटाव क्यों न हो जाएं. कितनी भी लड़ाइयां क्यों न हों मगर इस रिश्ते में ऐसा बहुत कुछ होता है जो इसे खास बनाता है. इसी रिश्ते को दर्शाती एक बेहद खूबसूरत कहानी जो हमें ये बताती है कि क्यों भाई और बहन एक दूसरे के बिना अधूरे हैं.
समाज  |  5-मिनट में पढ़ें
क्या एक कश्मीरी पंडित को अपनाने को तैयार है कश्मीर?

क्या एक कश्मीरी पंडित को अपनाने को तैयार है कश्मीर?

कश्मीर से आर्टिकल 370 और 35 (ए) हटाए जाने से सारा देश खुश है मगर उन कश्मीरी पंडितों का क्या जिन्होंने भय के साय में घाटी छोड़ी थी. सवाल है कि क्या उन कश्मीरी पंडितों को अपनाने को तैयार है कश्मीर ?
सियासत  |  4-मिनट में पढ़ें
पाकिस्तान तो वही करेगा जो वो हमेशा से करता आया है

पाकिस्तान तो वही करेगा जो वो हमेशा से करता आया है

आतंक और आतंकी पाकिस्तान के लिए बेशकीमती सियासी मोहरे हैं. इसका इस्तेमाल सिर्फ भारत के खिलाफ ही नहीं होता. ईरान, अफ़ग़ानिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल जैसे कई रंगमंचों में इनका नाटक हमेशा जारी रहता है.
सिनेमा  |  4-मिनट में पढ़ें
Mika Singh न इधर के रहे, न उधर के? ये क्या मजाक है !

Mika Singh न इधर के रहे, न उधर के? ये क्या मजाक है !

Mika Singh के पाकिस्तान जाने पर कुछ देशभक्त नाराज हो सकते हैं, स्वाभाविक है. लेकिन नाराज होकर मीका सिंह की आवाज बंद कर देने का निर्णय वैसी ही प्रतिक्रिया है जैसी इस वक्त पाकिस्तान दे रहा है.
सियासत  |  5-मिनट में पढ़ें
पंजाबियों को भड़काने वाले पाकिस्तानी मंत्री के सामने लोगों ने सनी देओल खड़ा कर दिया !

पंजाबियों को भड़काने वाले पाकिस्तानी मंत्री के सामने लोगों ने सनी देओल खड़ा कर दिया !

फवाद हुसैन ने पता नहीं क्या सोचकर भारतीय सेना के पंजाबियों को भड़काने की कोशिश की. सोशल मीडिया पर लोगों ने फवाद के सामने सन्नी देओल को खड़ा कर दिया है, जिनके डायलॉग सुनने भर से फवाद हुसैन थर-थर कांपते नजर आएंगे.
सियासत  |  6-मिनट में पढ़ें
कश्‍मीर: लोगों की आजादी बड़ी है या जिंदगी?

कश्‍मीर: लोगों की आजादी बड़ी है या जिंदगी?

कश्मीर मामले में जो बताएं सुप्रीम कोर्ट ने कहीं हैं वो इसलिए भी स्वागत योग्य हैं क्योंकि कोर्ट भी ये जानता है कि लोगों की आजादी के मुकाबले उनकी जान कहीं ज्यादा कीमती हैं और इस मुश्किल वक़्त में प्राथमिकता लोगों कि जान ही होनी चाहिए.