होम -> सियासत

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 28 अप्रिल, 2019 06:03 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujkumarmaurya87
  • Total Shares

आए दिन किसी न किसी गलत वजह से चर्चा में रहने वाला पाकिस्तान एक बार फिर से सुर्खियां बन रहा है. इस बार मामला सामने आया है लड़कियों को पाकिस्तान से चीन ले जाने का. दावा किया जा रहा है कि चीन के लोग पाकिस्तानी लड़कियों से शादी कर रहे हैं और उन्हें चीन ले जाकर वहां देह व्यापार में धकेल दे रहे हैं. कई मामले तो शरीर के अंग निकाल कर बेचने के भी सामने आए हैं.

चीन पाकिस्तान इकोनॉमिक कोरिडोर को लेकर पहले ही पाकिस्तान में विरोध प्रदर्शन हो रहे थे. पाकिस्तान के लोग इससे बिल्कुल खुश नहीं हैं. वहीं अब लड़कियों को गलत धंधे में धकेलने की ये खबर इमरान खान की परेशानियां और बढ़ा सकती है. समय रहते इमरान खान ने सख्त रुख नहीं अपनाया और इस समय वह हर ओर से ऐसी मुसीबतों से घिर चुके हैं, जिनका चाह कर भी समाधान नहीं निकाल सकते. आइए एक नजर डालें उन मुद्दों पर, जो इमरान खान की कब्र खोदने का काम कर रहे हैं.

चीन, पाकिस्तान, इमरान खान, मानव तस्करीइमरान खान इस समय चारों ओर से मुसीबतों से घिर चुके हैं, जिसके जिम्मेदार वह खुद ही हैं.

पाकिस्तान से चीन लड़कियों की तस्करी

ये सिलसिला पहले पाकिस्तानी ईसाई लड़कियों से शुरू हुआ, लेकिन अब मुस्लिम लड़कियों को भी इसमें फंसाया जाने लगा है. चीन से लोग पाकिस्तान आते और गरीब तबके के घरों की लड़कियों के परिवार को खूब सारे पैसे देकर उन लड़कियों से शादी कर लेते. इस काम को अंजाम देने के लिए पाकिस्तान में कई शादी कराने वाली एजेंसियां भी लिप्त हैं. एक चीनी व्यक्ति की पाकिस्तानी लड़की से शादी के पीछे तर्क दिया जाता है कि वह शख्स CPEC में निवेश करना चहता है और पाकिस्तानी लड़की से शादी करने के बाद वह पाकिस्तानी नागरिक हो जाएगा. आपको बता दें कि पाकिस्तान सिटिजनशिप एक्ट 1951 के तहत पाकिस्तानी लड़की से शादी करने पर किसी भी विदेशी को पाकिस्तान की नागरिकता देने की मनाही है. यानी साफ है, कि इस शादी का मकसद CPEC में निवेश नहीं, बल्कि कुछ और ही है.

पाकिस्तानी न्यूज चैनल ARY News के अनुसार लड़कियों के परिवार को 4 लाख रुपए तक दिए जाते हैं और हर महीने 40,000 रुपए तक का भुगतान करने का वादा भी करते हैं. साथ ही, लड़की के परिवार में से किसी एक पुरुष को चीनी का वीजा भी दिलाने का वादा करते हैं. इतने सारे पैसों की वजह से बहुत सारी लड़कियों की तो उनके परिवार वाले ही जबरदस्ती शादी करा देते हैं. न्यूज चैनल के एक छापे में तो एक चीनी शख्स के साथ 6 पाकिस्तानी लड़कियां (पत्नियों के रूप में) मिलीं, जिनमें से एक की उम्र महज 13 साल थी. इस्लामाबाद एयरपोर्ट से तो कुछ समय पहले एक चीनी व्यक्ति को गिरफ्तार भी किया गया था जो जबरदस्ती एक पाकिस्तानी महिला को अपनी पत्नी बताकर चीन ले जा रहा था. वाशिंगटन के पत्रकार और एनालिस्ट मलिक सिराज अकबर कहते हैं कि हो सकता है जल्द ही पाकिस्तान में चल रहे अवैध शादियों के रैकेट की खबर को भी दबा दिया जाए. पाकिस्तानी लोगों में चीन के लिए नफरत फैलने से पहले ही इस खबर को एक 'फेक न्यूज' करार दिया जाए.

सिर्फ चीन को फायदा पहुंचाने वाला CPEC कोरिडोर

जब चीन से पाकिस्तान तक CPEC कोरिडोर बनाने की बात हुई तो पाकिस्तान ने ये समझा था कि इससे उसे भी फायदा होगा, लेकिन असलियत कुछ और ही है. इसमें सिर्फ चीन का फायदा है, जो इमरान खान बखूबी समझते हैं, लेकिन चीन के कर्ज तले दबे होने की वजह से मुंह बंद कर के बैठना पड़ रहा है. इस कोरिडोर को बनाने के लिए बहुत सारे किसानों की जमीन का अधिग्रहण किया गया, जिसकी सही कीमत नहीं चुकाई गई. किसान नाराज हैं. इस कोरिडोर से पाकिस्तान में ढेर सारी नौकरियां पैदा हो सकती थीं, लेकिन चीन अधिकतर कामगार, खासकर इंजीनियर अपने ही देश से ला रहा है. पाकिस्तान से सिर्फ कुछ हद तक मजदूरों को काम पर रखा जाता है. यानी चीन ने इस कोरिडोर को चौतरफा फायदे के लिए इस्तेमाल किया है.

एक ओर चहेते आतंकी और दूसरी ओर पूरी दुनिया

एक ओर पूरी दुनिया है और दूसरी ओर इमरान खान के चहेते आतंकी. दुनिया ये दबाव डाल रही है कि इमरान खान आतंकवाद पर लगाम लगाएं, वहीं दूसरी ओर हाफिज सईद और मसूद अजहर जैसे आतंकी चाह रहे हैं कि इमरान खान उनका बचाव करें. अब ओर पूरी दुनिया आतंकवाद को खत्म करने की कोशिशें कर रही है, वहीं इमरान खान को आतंकवाद को पनाह देनी पड़ रही है, क्योंकि उन्हें अपनी जान का भी खतरा है.

जान का खतरा और जांच का डर

एक ओर आतंकी हैं, जिनकी बात नहीं सुनी तो इमरान खान की जान पर बन सकती है. बेनजीर भुट्टो की आखिरकार हत्या ही हुई थी. वहीं दूसरी ओर उन्हें जांच का डर भी है. जुल्फिकार भुट्टो को फांसी दी गई थी, नवाज शरीफ भी जेल तक की यात्रा कर चुके हैं. इमरान खान की बहन पर कुछ विदेशी प्रॉपर्टी के मामले में टैक्स चोरी के आरोप हैं. इमरान खान की पूर्व पत्नी रेहाम खान ने भी उन पर घरेलू हिंसा के आरोप लगाए हैं. विपक्ष आरोप लगाता है कि इमरान खान ने अमेरिका में भी एक शादी की है और उनकी एक एक लड़की भी है, जो कि इस्लाम धर्म के हिसाब से काफी गंभीर मामला है. इस मुद्दे पर इमरान खान लोगों के बीच देखते ही देखते सबकुछ खो सकते हैं. जब तक सेना इमरान खान से खुश है, तब तक तो सब सही है, लेकिन अगर इमरान खान की किसी हरकत से सेना नाराज हुई, भले ही वह आतंकवाद पर लगाम लगाने वाली क्यों ना हो, इमरान खान मुसीबत में पड़ सकते हैं. उन पर चल रहे जो केस अभी दफन हैं, उन गड़े मुर्दों को दोबारा उखाड़ा जाएगा और हो सकता है कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की तरह ही इमरान खान की जेल की सलाखों तक पहुंच जाएं.

पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था भी बेहद खराब स्थिति में पहुंच चुकी है. यहां ये कहना गलत नहीं होगा कि इमरान खान ऐसी परेशानियों के बीच फंस चुके हैं, जिनसे वह चाहकर भी बाहर नहीं निकल सकते. आतंकवाद का खात्मा नहीं करने से दुनिया नाराज है और अगर आतंकवादियों के खिलाफ कुछ किया तो आतंकियों समेत पाकिस्तानी सेना नाराज हो जाएगी. इन सबका ठीकरा आखिरकार फूटेगा इमरान खान के सिर पर. लगातार खराब स्थिति की ओर जा रहे पाकिस्तान को बचाने के बचाए इमरान खान हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं और वो दिन दूर नहीं जब इसी तरह की कोई मुसीबत उनके राजनीतिक सफर को खत्म करते हुए ताबूत की आखिरी कील साबित हो. इमरान खान पाकिस्तानी सेना का मोहरा बने हुए हैं. शुरुआत में सत्ता के लालच में उन्होंने विरोध नहीं किया और अब इधर कुआं, उधर खाई वाली नौबत आ चुकी है. ये देखना दिलचस्प होगा कि लड़कियों की तस्करी को देखकर भी इमरान खान चीन के फायदे के लिए आंखें मूंद लेते हैं या फिर कोई सख्त कदम उठाते हैं.

ये भी पढ़ें-

आतंकी बुरहान वानी पर पाकिस्तानी फ़िल्म 'शहीद'! पड़ोसी नहीं सुधरेगा...

सड़क पर उतरे सपोर्ट के बावजूद मोदी को 'शाइनिंग इंडिया' क्यों नहीं भूल रहा?

मोदी इंटरव्यू भी देते हैं, जवाब भी देते हैं - बशर्ते कोई सुनना चाहे!

Chinese Illegal Marriage Operators, Pakistani Women, Imran Khan

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय