charcha me| 

होम -> ह्यूमर

 |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 04 जुलाई, 2022 11:08 PM
रीवा सिंह
रीवा सिंह
  @riwadivya
  • Total Shares

ज़रा-सी बारिश क्या हुई पूरी दिल्ली का कुर्ताफाड़ रोमांस फ़ेसबुक पर मंडरा रहा है. हां भाई. पता चल गया बारिश हुई है. तुमलोग कार के शीशे पर बूंदों की तस्वीरें नहीं लगाते तो भी पता चल जाता. थोड़ी बारिश और हो गयी तो फ़्लायओवर से बहते पानी में शावर लेती कार की तस्वीरें अपने आप आ जातीं. भारतवर्ष में लोग ज़्यादा बेसब्री से बारिश का इंतज़ार करते हैं या महबूब का. इसका पता नहीं लगाया जा सका है. कोई शोध हो भी नहीं रहा इसलिए निकट भविष्य में भी असमंजस ही रहेगा.चार बूंद बारिश होते ही लोगों का कुकरी शो शुरू हो जाता है. बरसो रे मेघा... गाते हुए अभी बेसन फेटा जाता है कि बारिश ग़ायब. लोग जलेबी बनाकर ऐलान करते हैं कि होममेड है. अरे. पता है होममेड है! जलेबी की शक्ल चीख-चीखकर कह रही है कि हलवाई उसका ये हश्र हरगिज़ नहीं करेगा.

Weather, Rainfall, Pizza, Tea, Kitchen, Chef, Pakoda, Satire, Delhiदिल्ली में बारिश का होना भर था हर दूसरे आदमी के अंदर का शेफ जाग गया है

पीत्ज़ा में मटर डाल देते हैं संजीव कपूर के फूफा लोग और कहते हैं घर पर बनाया है. घर पर ही तुम्हें यह आज़ादी प्राप्त है बेटा कि मटर. परवल. कटहल... सब डाल दो. बाहर ऐसे नायाब एक्सपेरिमेंट करोगे तो पीत्ज़ा ख़ुद किचन से इस्तीफ़ा दे देगा. कुछ होनहार आते हैं - मटन बनाया है. बटर चिकन फ़्रॉम माय किचन.

तुम्हारे किचन से है तो क्या टेबल पर पतीला. कड़ाही. कलछी सब लेकर प्रस्तुत होना ज़रूरी था? मतलब सर्विंग डिशेज़ भी एक चीज़ होती है या सीधा पतीले में कूद जाओगे इस बार! चाय की प्याली की ख़ूबसूरत तस्वीरें आती हैं. हज़ारों की कप बालकनी की पतली-सी रेलिंग पर रखते हुए तुम्हारा कलेजा नहीं कांपता?

ज़रा भी बैलेंस बिगड़ा तो कप की अस्थियां मिलेंगी लेकिन मनमौजी आशिक़ हुए जा रहे हैं ग़ालिब के चचाजान. कप रेलिंग पर रखेंगे तभी बारिश और रोमांस का मिलन होगा.

बारिश हो रही है. किचन में चाय-पकौड़े का इंतज़ाम हो चुका है. मिट्टी दी ख़ुशबू सुन रहे हैं लेकिन बारिश में जाएंगे नहीं. गल जाएंगे. खिड़की पर चिपककर चार किलोमीटर दूर से मज़ा लेंगे. कोई बताओ इन्हें कि समुंदर में नहाकर कितनी भी नमकीन हो गयी हो. घुलोगी नहीं. पूरे फ़ीड को मौसम समाचार बनाना है. उतना एंजॉय कर भी नहीं पा रहे जितना दिखाना पड़ रहा है. बारिश हो रही है तो एंजॉय करो. करोगे कैसे नहीं. करना ही पड़ेगा! नहीं तो ऑड वन आउट.

ये भी पढ़ें -

होगी मैगी इमोशन. लेकिन कोई तीनों टाइम-सातों दिन उसे खाएगा तो तलाक ही होगा!

संजय राउत के 5 'हलकट' बयान जो नॉटी तो बिल्कुल नहीं हैं

तैय्यब अली ज़माने के लिए आशिक लड़की ने लड़का बन सांप भी मारा और लाठी भी नहीं तोड़ी!

लेखक

रीवा सिंह रीवा सिंह @riwadivya

लेखिका पेशे से पत्रकार हैं जो समसामयिक मुद्दों पर लिखती हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय