होम -> सिनेमा

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 19 जून, 2020 11:57 AM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

एक ऐसे समय पर जब एंटरटेनमेंट के नाम पर ओटीटी (OTT) का दौर हो और अमेज़न प्राइम (Amazon Prime) से लेकर नेटफ्लिक्स (Netflix), एम एक्स प्लेयर, ज़ी 5 कुछ भी खोलते वक़्त हिंसा/ खून खराबे के दर्शन हों बड़ा मुश्किल होता है मनोरंजन के नाम पर कुछ ऐसा ढूंढना जिसे परिवार के साथ बैठ कर देखा जा सके. ओटीटी प्लेटफॉर्म्स का जैसा डिज़ाइन है वाक़ई बड़ा मुश्किल है कि परिवार के बच्चे या फिर बुजुर्ग एक साथ बैठें और कुछ देखें. पूरे परिवार को साथ लेकर मनोरंजन की तलाश करने वालों के लिए अच्छी खबर है एमएक्स प्लेयर (MX Player) पर निशीथ नीरव नीलकंठ की चर्चित वेब सीरीज "पति पत्नी और वो (Pati Patni Aur Woh) रिलीज हो गई. सीरीज का जॉनर कॉमेडी है और इसके लीड रोल में रिया सेन (Riya Sen), अनंत विधात (Anant Vidhaat) और विन्नी अरोड़ा (Vinni Arora) हैं.

Pati Patni Aur Woh, MX Player, Web Series, Anant Vidhaat Sharmaपति पत्नी और वो जिसे आप पूरे परिवार के साथ देख सकते हैं

क्या है सीरीज की कहानी

कहानी का बैक ड्रॉप चूंकि बनारस है इसलिए इसे देखना अपने आप में एक विजुअल ट्रीट है. जैसे ही इस सीरीज की शुरुआत होती है इसमें ऐसा बहुत कुछ है कि जब दर्शक इसे एकबार देखना शुरू करेगा तो इसे पूरा करके ही उठेगा. बहरहाल बात कहानी की हुई है तो जैसा कि हम बता चुके हैं कहानी बनारस की है जहां रहने वाले मोहन (अनंत विधात) की हंसती खेलती ज़िन्दगी में ट्विस्ट तब आता है जब उसकी पत्नी सुरभी (विन्नी अरोड़ा) की मौत हो जाती है.

दिलचस्प बात ये है कि सुरभी की आत्मा मोहन को दिखाई देती है और वो उससे बात भी कर सकती है. मोहन को दुखी देखकर सुरभी उसे अपनी कसम देती है कि वो शादी कर ले. मोहन बात मान जाता है और यहीं से आता है उसकी कहानी में ट्विस्ट. दूसरी बीवी के रूप में मोहन को रिम झिम (रिया सेन) मिलती है जो कि बला की खूबसूरत है. ये बात सुरभी की आत्मा को थोड़ा टेंशन दे देती है. सुरभी को लगता है कि इतनी सुंदर बीवी पाने के बाद तो अब मोहन उसे बिल्कुल ही भूल जाएगा. यही इस सीरीज की कहानी है.

मोहन सुरभी और रिमझिम के बीच बैलेंस कैसे बनाता है? कैसे वो अपनी खुशियों, अपनी जिंदगी को बचाता है यही इस सीरीज की कहानी है. करीब 10 एपिसोड्स की इस सीरीज में कई ट्विस्ट और टर्न है जो आपको पूरे परिवार के साथ हंसने का पूरा मौका देंगे. अच्छा हां इस सीरीज को लेकर सबसे अच्छी बात ये है कि एम एक्स प्लेयर पर ये पूरी तरह फ्री है तो अब देर किस बात की देख डालिये इसे.

कौन कौन सी बातें बनाती हैं इस सीरीज को खास

अनंत विधात इस सीरीज की जान हैं जिन्हें हम सलमान खान के साथ सुल्तान में देख चुके थे. चाहे सीरियस सींस हों या फिर कॉमेडी शॉट्स पर जो टाइमिंग अनंत की रहती है वो कमाल की है. सीरीज में जैसा इनका काम है इसे देखने के बाद इस बात को आसानी से समझा जा सकता है कि अपनी सीरीज 'पति पत्नी और वो' में निर्देशक निशीथ नीरव नीलकंठ ने अनंत विधात को लेकर कोई गलत फैसला नहीं किया है.

इसके अलावा इस सीरीज में विन्नी अरोड़ा का होना अपने आप में एक दिलचस्प बात है. पूरी सीरीज में जैसी एक्टिंग विन्नी ने की है उसे देखकर यही लगेगा कि जैसे विन्नी हमारे आस पास की कोई लड़की है.

वहीं बात अगर रिया सेन की हो तो रिया इस पूरी सीरीज में ठीक वैसे ही निकल कर आई हैं जैसे किसी बड़े फैशन शो में कोई शो स्टॉपर. इस सीरीज में रिया ने उस कहावत को भी गलत साबित किया है जिसमें कहा गया है कि सुंदर चेहरा अच्छी एक्टिंग नहीं कर सकता.  इस पूरी सीरीज में जैसे दो पत्नियां एक दूसरे से जली हैं वो किसी को भी हंसने पर मजबूर कर देगा. साथ ही आपको इसमें वो दर्द भी दिखेगा जो एक बीवी को उस वक़्त होता है जब उसका पति किसी और के साथ हो.

वो बातें जिनपर निर्देशक को थोड़ी मेहनत करनी चाहिए थी.

अब चूंकि हर चीज बेस्ट नहीं होती तो सिद्धांत यहां भी लागू होता है. शुरुआत के 2 एपिसोड तक तो दर्शकों को मजा आता है मगर जैसे जैसे आप बाकी के एपिसोड ली की तरफ बढ़ते हैं कहानी बोझिल होती जाती है. महसूस होता है कि जो सींस दिखाए जा रहे हैं वो यूं ही व्यर्थ में डाले गए हैं. सीरीज में ऐसे भी तमाम दृश्य हैं जिनको देखकर यही लगा कि इसे डालकर निर्देशक ने ये साबित किया है कि उनके अंदर अनुभव की कमी है.

बाकी इस बात को कहने में हमें कोई गुरेज नहीं है कि ये सीरीज बनारस की बोली, भाषा और संस्कृति को समझने के लिए देखी जा सकती है.

क्या कहता है फाइनल वर्डिक्ट

सीरीज परिवार के साथ बैठकर देखने लायक सीरीज है. साथ ही इसका जॉनर कॉमेडी है तो इतना कंफर्म है कि आपको मजा आने वाला है. बाकी ये एक ऐसी सीरीज है जिसमें आपकल बहुत दिमाग लगाने की ज़रूरत नहीं है. अगर आप दिमाग नहीं लगाते है तो आपको भरपूर मनोरंजन मिलेगा. सीरीज फ्री है इसलिए इसे देखते हुए आपका कहीं से कोई नुकसान नहीं होने वाला है.

ये भी पढ़ें-

Sushant Singh Rajput Suicide : क्रोनोलॉजी देखिये फिर समझिये क्या वो वाकई आत्महत्या थी?

Sushant Singh Rajput death: घायल शेरनी बनी कंगना की दहाड़ ही सुशांत को सच्ची श्रद्धांजलि है

Swara Bhaskar का कंगना विरोध तो सुशांत राजपूत से 'दगाबाजी' साबित हुआ!

Pati Patni Aur Woh, MX Player Web Series, Husband

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय