होम -> स्पोर्ट्स

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 03 नवम्बर, 2019 07:56 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujkumarmaurya87
  • Total Shares

हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के साथ रांची में खेले गए तीन टेस्ट मैच की सीरीज (India vs South Africa Test Match Series) को भारत ने 3-0 से अपने नाम कर लिया है. इस मैच में रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को मैन ऑफ द सीरीज (Man of the Series) चुना गया, जिन्होंने 4 पारियों में पहाड़ जैसा स्कोर बनाते हुए 529 रन बनाए हैं. उनकी बल्लेबाजी ने दुनियाभर के क्रिकेट प्रेमियों और यहां तक खिलाड़ियों का भी दिल जीत लिया. कोच रवि शास्त्री ने कहा कि रोहित शर्मा ने मुश्किल परिस्थितियों में भी बल्लेबाजी की. वह बोले कि जो रोहित शर्मा ने किया वो जबरदस्त है. यहां तक कि खुद कप्तान कोहली (Virat Kohli) भी रोहित शर्मा की तारीफ किए बिना नहीं रह सके और रोहित शर्मा की तुलना वीरेंद्र सहवाग से कर दी. ये टेस्ट मैच भी भारत विराट कोहली की कप्तानी में ही जीता है, लेकिन इस बार कोहली की चर्चा बहुत ही कम है, जबकि रोहित शर्मा की हर कोई तारीफें कर रहा है. बातें तो यहां तक होने लगी हैं कि रोहित शर्मा वनडे-टेस्ट (ODI-Test Match) मैच में विराट कोहली से भी बेहतर बल्लेबाज (Best Player of indian cricket team) हैं. तो क्या वाकई ऐसा है? चलिए एक नजर आंकड़ों पर डालते हैं.

बातें हो भी क्यों ना, रोहित शर्मा ने काम ही ऐसा किया है. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी डॉन ब्रेडमैन का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया है. आपको बता दें कि ब्रेडमैन का अपने ही देश में टेस्ट क्रिकेट में 98.22 के एवरेज से रन बनाने का रिकॉर्ड था. रोहित शर्मा ने 99.84 के एवरेज से रन बनाते हुए ब्रैडमैन के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है. इस टेस्ट सीरीज में 529 रन बनाकर रोहित शर्मा ने आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में लंबी छलांग लगा ली है, जबकि टीम के कप्तान विराट कोहली ने टेस्ट रैंकिंग में कुछ अंक गंवा दिए हैं. अब रोहित शर्मा टेस्ट रैंकिंग में 10वें नंबर पर पहुंच गए हैं. कोहली ने 10 प्वाइंट गंवाए जरूर हैं, लेकिन उनकी रैंकिंग अभी भी दूसरे नंबर पर बरकरार है. रोहित शर्मा का तेजी से बढ़ता प्रदर्शन हर किसी को हैरान कर रहा है और इसी के चलते उन्हें लेकर चर्चा भी खूब हो रही है. तो क्या वाकई ऐसा है कि रोहित शर्मा का प्रदर्शन विराट कोहली से अच्छा हो गया है? चलिए एक नजर आंकड़ों पर डालते हैं.

रोहित शर्मा, विराट कोहली, टेस्ट मैच, क्रिकेटदक्षिण अफ्रीका के साथ हुए टेस्ट मैच के बाद अब रोहित और विराट में तुलना शुरू हो गई है.

टेस्ट मैच: अभी भी विराट कोहली हैं रोहित शर्मा से आगे

अगर बात टेस्ट मैच की करें तो विराट कोहली ने अब तक 82 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें उन्होंने 7066 रन बनाए हैं. इसमें उन्होंने 26 शतक मारे हैं, 7 दोहरे शतक मारे हैं और 22 अर्धशतक मारे हैं. वहीं दूसरी ओर रोहित शर्मा ने अब तक 30 मैच खेले हैं, जिनमें उन्होंने 2114 रन बनाए हैं. इसमें उन्होंने 6 शतक, 1 दोहरा शतक और 10 अर्धशतक मारे हैं. यानी अगर एवरेज देखा जाए तो विराट कोहली 54.78 फीसदी पर हैं, जबकि रोहित शर्मा 48.05 फीसदी पर. वहीं शतकीय पारियां खेलने में भी रोहित शर्मा पीछे हैं, जबकि कोहली आगे हैं.

वनडे: दोहरे शतक के मामले में विराट दूर-दूर तक कहीं नहीं

अब अगर वन डे मैच की बात करें तो विराट कोहली ने कुल 239 मैच खेले हैं, जिनमें 11,520 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 43 शतक मारे हैं, जबकि 54 अर्धशतक मारे हैं. उनका औसत 60.31 फीसदी का है. दूसरी ओर रोहित शर्मा ने अब तक 218 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 8686 रन बनाए हैं. इन मैचों में उन्होंने 27 शतक, 3 दोहरे शतक और 42 अर्धशतक मारे हैं. उनका औसत 48.53 फीसदी का है. यानी वन डे मैच में भी रन बनाने की संख्या और स्पीड के मामले में रोहति शर्मा अभी विराट कोहली से पीछे हैं. हां, अगर वन डे में लगाए उनके 3 दोहरे अर्धशतक देखें, तो विराट कोहली इस तुलना में दूर-दूर तक कहीं नहीं हैं.

विराट कोहली VS रोहित शर्मा की कप्तानी

अगर सिर्फ दक्षिण अफ्रीका के नजरिए से एक नजर कोहली की कप्तानी पर डालें तो मिलेगा कि उनकी कप्तनी में भारत ने करीब 70 फीसदी मैच जीते हैं. अब तक दोनों देशों के बीच कोहली की कप्तानी में 10 मैच खेले गए हैं, जिनमें से ये भारत की सातवीं जीत है. जबकि अन्य कप्तानों को देखें तो 29 में से महज 7 मैच ही भारत जीता था. अब तक विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने कुल 80 मैच खेले हैं, जिनमें से 58 मैच भारत जीता है और सिर्फ 19 मैच हारा है. ऐसे में उनका औसत 75 फीसदी आता है. वहीं दूसरी ओर, रोहित शर्मा की कप्तानी में भारत ने कुल 22 मैच खेले हैं, जिनमें से 17 भारत ने जीते हैं, जबकि 5 में हार मिली है. यानी कप्तानी में मैच जिताने का रोहित शर्मा का औसत करीब 80 फीसदी है. भले ही अंदर मामूली हो, लेकिन रोहित शर्मा की कप्तानी में भारत का प्रदर्शन विराट कोहली की कप्तानी की तुलना में अच्छा देखने को मिला है.

भले ही दक्षिण अफ्रीका के साथ खेले गए मौचों को देखकर ये साफ होता है कि विराट कोहली बेहद सफल कप्तान हैं, लेकिन विश्व कप में भारत के हारने के बाद विराट की कप्तानी पर सवाल भी उठे थे. बता दें कि विश्व कप की प्रबल दावेदार भारतीय टीम इस खिताब से दो कदम दूर ही ढेर हो गई थी और सेमीफाइनल में इंग्लैंड से हार गई थी. पूरे विश्व कप में भारतीय टीम का प्रदर्शन बेहतरीन था, लेकिन सेमीफाइनल में बाहर होना फैंस को नाराज करने वाला रहा. इससे पहले भी कोहली की कप्तानी में चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मैच में भारतीय टीम को पाकिस्तान के हाथों करारी शिकस्त मिली थी. यहां तक बातें होने लगी थीं कि विराट कोहली की जगह अब रोहित शर्मा को टीम का कप्तान बना देना चाहिए. कोहली के खिलाफ ये बात भी जाती है कि अब तक उनकी कप्तानी में मल्टीनेशनल टूर्नामेंट में भारत ने एक भी ट्रॉफी नहीं जीती है.

आपको बता दें कि विराट कोहली फिलहाल भारतीय टीम के उप-कप्तान हैं, जो कप्तान की गैर-मौजूदगी में टीम को संभालते हैं. आपको बता दें कि पिछला एशिया कप और निदहास ट्रॉफी का खिताब भारत में रोहित शर्मा की कप्तानी में ही जीता था. इसके अलावा उनकी कप्तानी में उनकी टीम 3 आईपीएल ट्रॉफी भी जीत चुकी है. एक और खास बात है जो रोहित शर्मा को विराट कोहली से बेहतर कप्तान बनाती है, वो ये कि कोहली अपनी टीम बार-बार बदलते रहते हैं, जिसके चलते उनकी आलोचना होती है, जबकि रोहित शर्मा अपनी टीम पर काफी भरोसा करते हैं और उन्हें बार-बार मौके देते हैं. एशिया कप के दौरान हांगकांग के खिलाफ भुवनेश्वर कुमार ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था, जिसके बाद उनकी जगह खलील अहमद को लाने की बात हो रही थी, लेकिन रोहित ने भुवनेश्वर पर भरोसा दिखाते हुए टीम में रखा. उस मैच में भुवनेश्वर को मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला.

ये भी पढ़ें-

इमरान की जितनी बेइज्जती कश्मीर ने नहीं कराई, मिस्बाह की दो मैचों की हार ने करा दी!

धोनी के संन्‍यास का मुद्दा अब जंग का रूप लेता जा रहा है

मोहम्मद शमी की जिंदगी में उठापटक पर एक बायोपिक फिल्‍म तो बनती है

Rohit Sharma, Virat Kohli, Test Match

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय