होम -> स्पोर्ट्स

बड़ा आर्टिकल  |  
Updated: 05 सितम्बर, 2019 06:39 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार बॉलर Mohammed Shami की किस्मत न जाने कौन से पैन से लिखी गई है, उनकी स्याही फैलती ही रहती है. क्रिकेटर तो कमाल के हैं, लेकिन विवाद उनके जीवन से इस तरह जुड़ गए हैं कि वो कुछ अच्छा भी करें तो चर्चे बुराई की वजह से ज्यादा होते हैं. ठीक बॉलीवुड के Salman Khan की तरह.

फिल्हाल मोहम्मद शमी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ है. मामला घरेलू हिंसा का है और शिकायत करने वाली हैं उनकी पत्नी Hasin Jahan. 2018 में मोहम्मद शमी पर उनकी पत्नी हसीन जहां ने मारपीट, रेप, हत्या की कोशिश और घरेलू हिंसा जैसे कई गंभीर आरोप लगाए थे. अदालत में दोनों के तलाक का केस भी चल रहा है. मोहम्मद शमी और उनके भाई हासिद अहमद को अदालत ने 15 दिन के अंदर सरेंडर करने को कहा है. 15 दिनों में सरेंडर नहीं किया तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

mohammed shami and wifeशमी ने सरेंडर नहीं किया तो गिरफ्तारी पक्की है

मोहम्मद शमी की किस्मत में शोहरत तो खूब लिखी है लेकिन वजह अच्छी और बुरी दोनों ही हैं. एक तरफ तो ये क्रिकेटर पूरी दुनिया में अपनी बॉलिंग का डंका बजा डालता है. देश का हीरो बन जाता है, लेकिन बात जब इनके निजी जीवन की होती है तो इनकी छवि विलेन जैसी हो जाती है. खेल के मैदान में खड़े शमी के लिए तालियां बजती हैं और घर के मैदान में गालियां.

मोहम्मद शमी की जिन्दगी में इतने उतार चढ़ाव देखने को मिलते हैं कि किसी मसालेदार बॉलीवुड सिनेमा में देखने नहीं मिलते. यहां वो हीरो भी हैं और विलेन भी, लाइफ में पैसा भी है, शोहरत भी. वफा भी है, बेवफाई भी. बस अब एक बायोपिक बनने की ही देर है. फिल्म तो जब बनेगी, तब बनेगी, पहले उनकी कहानी जान लेते हैं.

निजी जीवन में कैसे हैं शमी

शमी कितने सच्चे और कितने झूठे हैं वो तो बाद में पता चलेगा, लेकिन एक इंसान के तौर पर उनमें जो अच्छाई देखने को मिलती है वो ये कि शमी में कोई भी बुरी आदत नहीं है. जैसे न वो शराब पीते हैं, न सिगरेट. इस तरह के कोई शौक शमी को नहीं हैं. खिलाड़ी होने के नाते अपने निजी जीवन में भी वो काफी अनुशासित हैं. उनके बात करने के तरीके से ये जरा भी नहीं लगता कि वो अपने जीवन में किसी पर भी चिल्लाते भी होंगे. कूल लगते हैं शमी. लेकिन बीवी ने घरेलू हिंसा के आरोप लगाए.

मेहनत टीम इंडिया तक ले आई

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के रहने वाले मोहम्मद शमी अमरोहा के रहने वाले हैं और खेतों में क्रिकेट खेलना शुरू किया. वो अपने खेत के बीच बनी सीमेंट की पिच पर खेला करते थे. पिता ने हुनर को सलाम किया और शमी को मुरादाबाद में क्रिकेट कोच बदरूद्दीन की अकैडमी में भेज दिया. सालों तक डलहौज़ी और टाउन क्लब के लिए क्रिकेट खेलने के बाद शमी को बंगाल की अंडर-22 टीम में जगह मिली. 2010 में रणजी खेलने के बाद 2013 में उन्हें टीम इंडिया के लिए चुना गया. 2015 में ऑस्ट्रेलिया में हुए विश्व कप के पहले हुए टेस्ट दौरों में शमी अपने चरम पर थे.

mohammed shami and wifeलव मैरिज का ऐसा अंजाम किसी ने नहीं सोचा था

परिवार की मर्जी से की शादी

हसीन जहां प्रोफेशनल मॉडलिंग किया करती थीं. वो कोलकाता नाइट राइडर्स की एक चीयर लीडर बनीं थीं. इस दौरान दोनों की मुलाकात हुई और दोनों एक दूसरे को दिल दे बैठे. 6 जून 2014 को शमी ने अपने परिवार की मर्जी के खिलाफ जाकर हसीन जहां से शादी की थी. 2014 में शमी से शादी करने के बाद हसीन जहां ने मॉडलिंग छोड़ दी थी. दोनों के एक बेटी है. जो 4 साल की है.

कट्टरपंथियों के खिलाफ पत्नी के साथ शमी

2016 में जब मियां बीवी के संबंध अच्छे थे तो दोनों की एक प्यारी सी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई. जिसपर बहुत विवाद हुआ था. मुस्लिम कट्टरपंथियों को मोहम्मद शमी की बीवी के कपड़े रास नहीं आ रहे थे. इसके लिए शमी को इस्लाम का हवाला देकर समझाइश दी जा रही है कि उन्हें अपनी बीवी को सलीके के कपड़े पहनाने चाहिए. शमी को शर्मिंदा करने की पूरी कोशिशें की जा रही थीं लेकिन मोहम्मद शमी खुले विचारों वाले व्यक्ति हैं जिन्होंने अपनी पत्नी का समर्थन करते हुए ट्रोलर्स को मुंह तोड़ जवाब दिया.

 mohammed shami and wife मुस्लिम कट्टरपंथियों के खिलाफ पत्नी के साथ खड़े थे शमी

हसीन जहां के बारे में..

वही बीवी जो जो अच्छे वक्त में ये कहा करती थी कि शमी जब घर आते हैं तो माहौल ईद जैसा लगता है. जो बीवी पति के बाहर जाने पर उसे मिस करती थी आज वो नफरत करती है. हसीन जहां शमी से पहले 2002 में सैफुद्दीन से लव मैरिज कर चुकी थीं. वो पश्चिम बंगाल के बीरभूम में स्टेशनरी की दुकान चलाते हैं. लेकिन बाद में वो उन्हें छोड़क कर चली गईं, क्यों वो अपने पैरों पर खड़ी होना चाहती थीं. 2010 में हसीन जहां का तलाक हो गया. इस शादी से हसीन जहां के दो बेटियां हुईं. मोहम्मद शमी से भी हसीन जहां की एक बेटी है जिसकी उम्र 4 साल है.

लेकिन उन्होंने शमी से शादी करते वक्त इस बात की जानकारी नहीं दी थी. शमी का कहा था, 'हसीन ने मुझसे अपनी पहली शादी के बात छुपाई थी और अपनी दोनों बेटियों के बारे में भी मुझे गलत जानकारी दी थी. उन्होंने कहा था कि ये दोनों उनकी बहन की बेटियां हैं.'

जब घर के झगड़े सरेआम हुए

2018 में मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने अपने पति पर ऐसे गंभीर आरोप लगाए जिसने सभी को हैरान कर दिया. मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने फेसबुक पेज पर शमी पर बेवफाई के आरोप लगाए थे. हसीन ने वाट्सऐप के स्क्रीन शॉट्स शेयर किए थे. जिसमें दावा किया गया था कि ये स्क्रीन शॉट शमी की दूसरी लड़कियों से हुई चैट के थे. हसीन के मुताबिक शमी दूसरी लड़कियों से अंतरंग चैट करते थे, विरोध करने पर उनके साथ मारपीट करते थे. कई साल से वो ये प्रताड़ना सहती आ रही थीं.

कोलकाता पुलिस ने हसीन जहां की शिकायत के बाद शमी पर आईपीसी की सात धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था. हसीन जहां ने शमी और उनके भाई के खिलाफ केस दर्ज करवाया था. शमी के खिलाफ आईपीसी की धारा 498 ए (दहेज उत्पीड़न) और धारा 354 (यौन उत्पीड़न) के तहत मामला दर्ज है, जबकि उनके भाई हासिद अहमद पर धारा 354 (यौन उत्पीड़न) के तहत मामला दर्ज है.

मैच फिक्सिंग के आरोप

आरोप यहीं तक नहीं रुके. हसीन जहां ने शमी पर मैच फ़िक्सिंग का गंभीर आरोप भी लगाया. जिसका नतीजा ये हुआ कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने टीम के खिलाड़ियों को मिलने वाले कॉन्ट्रैक्ट में से मोहम्मद शमी को बाहर कर दिया और जांच शुरू की गई. BCCI की एंटी करप्शन यूनिट ने शमी को मैच फ़िक्सिंग के आरोप में निर्दोष पाया और शमी को दोबारा अनुबंधित किया. यहां हसीन झूठी साबित हुईं और शमी निर्दोष.

shami के आरोपों पर जवाब

शमी पर हसीन जहां ने ये भी कहा था कि वो उन्हें उनके और बच्ची के लिए खर्च के लिए पैसे नहीं देते. जबकि ये आरोप तब लागाए गए थे जब हसीन जहां एक साल से खुद शमी के कार्ड का इस्तेमाल कर रही थीं. यहां भी वो एक बार फिर झूठी साबित होती हैं. शमी ने हमेशा यही कहा कि उनपर लगने वाले आरोप बेबुनियाद हैं. शमी खुद को निर्दोष बताता आए हैं. लेकिन फेमिनिस्ट ब्रिगेड ने उनपर भरोसा नहीं किया. इधर हसीन जहां का कहना है कि वो इस मामले पर मरते दम तक लड़ने के लिए तैयार हैं. तो वहीं शमी ने अपनी बच्ची की खातिर बार-बार सुलह करने की पेशकश की. सुनिए अपने ऊपर लगे आरोपों पर शमी का क्या कहना था.

दुखी था लेकिन हारा नहीं...एक खिलाड़ी की वापसी

अपने ऊपर लगे इन इल्जामों से शमी दुखी तो थे लेकिन पारिवारिक कलेश का असर शमी ने अपने क्रिकेट पर कभी पड़ने नहीं दिया. बल्कि वो और बेहतर होकर उभरे. सुनिए किस तरह शमी ने वापसी की-

आईपीएल में धमाल मचाया और इस साल मई में शुरू हुए विश्व कप में वो एक नियमित गेंदबाज के तौर पर टीम में भले ही नहीं थे लेकिन जब उन्हें अफगानिस्तान के खिलाफ खेलने का मौका मिला तो हैट्रिक लेकर तहलका मचा दिया. वर्ल्ड कप में लगातार तीन बार 4 विकेट लेने वाले मोहम्मद शमी पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए. शानदार फॉर्म में चल रहे शमी वर्ल्ड कप 2019 में पांच विकेट लेने वाले छठे गेंदबाज बने. उन्होंने पूरी दुनिया में अपनी गेंदबाजी का लोह मनवाया.

दुनिया को बोल्ड करने वाला आज खुद क्लीन बोल्ड हो रहा है

इत्तेफाक से 3 सितंबर शमी का जन्मदिन भी होता है. और इसे इत्तेफाक ही कहेंगे कि जन्मदिन पर शमी को गिरफ्तारी का वारेंट तोहफे में मिला. एक सम्मानित क्रिकेटर के जीवन का ये सच उसका सबसे बड़ा नासूर बन गया है. हसीन जहां की ओर से दर्ज मामले की सुनवाई के दौरान अदालती निर्देश के बावजूद शमी हाजिर नहीं हो सके थे. इसी वजह से उनके खिलाफ वारंट जारी किया गया. 15 दिनों के अंदर अगर शमी सरेंडर नहीं करते तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा. हालांकि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने कहा है कि वह चार्जशीट देखने के बाद ही इस मामले पर कोई फ़ैसला करेगा. बीसीसीआई से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि यह ऐसा मामला नहीं लगता जिसमें तत्काल कार्रवाई की ज़रूरत हो. चार्जशीट देखने के बाद इस मामले में कोई फैसला किया जाएगा.

मोहम्मद शमी झूठ बोल रहे हैं या हसीन जहां ये तो देर सवेर अदालत बता ही देगी. लेकिन हसीन जहां की भी कुछ बातें उन्हें कठघरे में खड़ा तो करती ही हैं. शमी को दोषी बनाने के लिए शमी पर एक नहीं हर वो केस ठोका गया है जिससे शमी का निकलना बहुत मुश्किल लगता है. एक साथ 7 केस ठोक देना नफरत की इंतेहा दिखाता है. देखते हैं शमी को अभी और क्या-क्या देखना बाकी है...

ये भी पढ़ें-

मोहम्मद शमी के मैन ऑफ द मैच न चुने जाने पर भी 'हिंदू-मुस्लिम' हो गया!

शमी की एक आउट-स्विंग जो वाइड और नो बॉल दोनों है

मुंह छुपाते फिरे मोहम्मद शमी की बीवी को बुर्के की सलाह देने वाले

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय