होम -> स्पोर्ट्स

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 06 जनवरी, 2019 09:09 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujmaurya87
  • Total Shares

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हो रहे चौथे और आखिरी टेस्ट मैच के चौथे दिन क्रिकेट के मैदान पर कई रिकॉर्ड बने और टूटे. इनमें सबसे बड़ा कारनामा किया है भारतीय स्पिनर कुलदीप यादव ने. उन्होंने महज 99 रन देकर 5 विकेट चटका दिए, जिसकी मदद से पूरी ऑस्ट्रेलियाई टीम महज 300 रन बनाकर ही आउट हो गई. इसका नतीजा ये हुआ कि ऑस्ट्रेलिया को 33 साल बाद अपनी ही सरजमीं पर भारत के खिलाफ फॉलोऑन खेलने पर मजबूर होना पड़ा. लेकिन हैरानी की बात ये है कि अपनी गेंदबाजी से कंगारुओं को उधेड़ कर रख देने वाले इस धुरंधर स्पिनर को पिछले तीन टेस्ट मैच में मौका ही नहीं दिया गया था. वहीं दूसरी ओर, कुलदीप के इन नए रिकॉर्ड के बाद एक और बहस छिड़ गई है कि यदि टेस्‍ट मैचों में कुलदीप की जगह पक्‍की की जाती है तो वे आर अश्विन और रवींद्र जडेेेेजा के लिए मुकाबला कड़ा हो जाएगा. सिडनी टेस्‍ट में जडेजा ने गेंद और बल्‍ले दोनों से अपना जौहर दिखाया है.

ऑस्ट्रेलिया में कुलदीप से पहले आखिरी बार भारतीय स्पिनर अनिल कुंबले ने 5 विकेट लिए थे. उन्होंने ये उपलब्धि करीब 12 साल पहले 2007 में मेलबर्न में खेले गए टेस्ट मैच के दौरान हासिल की थी. उनसे पहले 1955 में इंग्लैंड के जॉनी वार्डले ने सिडनी में खेले टेस्ट में पारी में 79 रन देकर 5 विकेट लिए थे. इस तरह अगर देखा जाए तो कुलदीप यादव ने 64 साल पुराने रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है. कुलदीप यादव ने टेस्ट मैच में दूसरी बार 5 विकेट लिए हैं. इससे पहले उन्होंने राजकोट में वेस्टइंडीज के खिलाफ 5 विकेट लिए थे. चौथे दिन के मैच में कुलदीप यादव हीरो बन गए हैं. हर कोई उनकी तारीफ करते नहीं थक रहा है. 5 विकेट लेने का उनका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है.

शेन वॉर्न ने भी की तारीफ

आर अश्विन की जगह लेने के लिए कुलदीप यादव की दावेदारी कितनी तगड़ी है, इसका अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि शेन वॉर्न ने भी कुलदीप की गेंदबाजी की तारीफ की. पहले कुलदीप यादव ने कहा- 'अपने आइडल के सामने 5 विकेट हॉल लेना मेरे लिए गर्व की बात है.' इस पर शेन वॉर्न ने एक ही नंबर की जर्सी वाली तस्वीर पोस्ट करते हुए ट्वीट किया- 'तुमने अच्छी गेंदबादजी की और 5 विकेट हॉल के लिए बधाई. तुम्हारे प्यारे शब्दों के लिए धन्यवाद. तुम्हारे साथ काम करना और तुम्हें गेंदबाजी करते हुए देखना मेरे लिए खुशी की बात है.'

कुलदीप यादव यूं ही नहीं हैं दावेदार

आर अश्विन के बाद स्पिनर की जगह पाने के लिए कुलदीप यादव तगड़े दावेदार हैं, क्योंकि टेस्ट और ODI दोनों ही फॉर्मेंट में उन्होंने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है. अभी तक कुलदीप ने सिर्फ 6 टेस्ट खेले हैं, लेकिन 24 विकेट अपने नाम कर लिए हैं. टेस्ट मैच में कुलदीप की आईसीसी रैंकिंग 53 है, क्योंकि उन्होंने टेस्ट मैच खेले ही बहुत कम है, लेकिन अगर बात एक दिवसीय मैचों की करें तो भारतीय स्पिनर्स में वह सबसे ऊपर हैं. ODI फॉर्मेट में उन्हें तीसरी रैंकिंग हासिल है. यानी टेस्ट के मामले में तो अभी उनकी किसी अन्य स्पिनर से तुलना नहीं की जा सकती है, लेकिन अगर ODI के रिकॉर्ड देखें तो ये कहना गलत नहीं होगा कि कुलदीप यादव ही आर अश्विन की जगह लेने के लिए सबसे तगड़े दावेदार हैं.

ये है दावेदारों की लिस्ट और उनकी रैंकिंग

भारतीय स्पिनर आर अश्विन की जगह कुलदीप यादव के अलावा यजुवेंद्र चहल और रवींद्र जड़ेजा ले सकते हैं. यजुवेंद्र चहल की ओडीआई में आईसीसी रैंकिंग 6 है, जबकि रवींद्र जड़ेजा की ओडीआई में रैंकिंग 29 है. वहीं दूसरी ओर, 5 विकेट लेकर कई रिकॉर्ड अपने नाम करने वाले कुलदीप यादव की आईसीसी रैंकिंग 3 है. हालांकि, अगर टेस्ट मैच पर नजर डाली जाए तो रवींद्र जडेजा छठे नंबर पर हैं. यहां एक दिलचस्प बात ये है कि खुद आर अश्विन भी आठवें नंबर पर हैं.

कुलदीप यादव, यजुवेंद्र चहल, रवींद्र जडेजा, आर अश्विनभारतीय स्पिनर आर अश्विन की जगह कुलदीप यादव के अलावा यजुवेंद्र चहल और रवींद्र जड़ेजा ले सकते हैं.

कुलदीप यादव ने 33 ओडीआई में 1704 गेंदों में 67 विकेट चटकाए हैं, जबकि यजुवेंद्र चहल ने 34 ओडीआई में 1807 गेंदों में 56 विकेट चटकाए हैं. यानी एवरेज में कुलदीप यादव ऊपर हैं. अब अगर तुलना रवींद्र जड़ेजा से की जाए तो उन्होंने 144 ओडीआई में 7255 गेंदों में 169 विकेट लिए हैं. अब अगर कुलदीप यादव की गेंदबाजी से रवींद्र जड़ेजा के रनों की तुलना करते हुए औसत विकेट निकाले जाएं तो करीब 285 विकेट होंगे. इतना ही नहीं, खुद आर अश्विन ने 111 ओडीआई में 6021 गेंदों में 150 विकेट लिए हैं, जिनकी तुलना कुलदीप यादव के औसत के करें तो विकेट्स की संख्या करीब 236 आएगी. यानी हर लिहाज से ODI फॉर्मेट के लिए तो कुलदीप यादव की बेस्ट हैं.

जिस तरह महेंद्र सिंह धोने की जगह लेने के लिए दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत तगड़े दावेदार हैं, उसी तरह आर अश्विन की जगह लेने के लिए रवींद्र जड़ेजा, यजुवेंद्र चहल और कुलदीप यादव हैं. रैंकिंग और विकेट के मामले में सिर्फ ओडीआई को ध्यान रखें को कुलदीप यादव सबसे तगड़े दावेदार हैं. लेकिन अगर टेस्ट मैच को देखें तो उसमें रवींद्र जड़ेजा बाजी मार लेंगे, क्योंकि कुलदीप यादव ने टेस्ट मैच खेले ही बहुत कम हैं. गेंदबादी और रैंकिंग को ध्यान रखते हुए ये जरूर कहा जा सकता है कि ओडीआई के लिए कुपदीप यादव ही बेस्ट च्वाइस हैं, जबकि टेस्ट में रवींद्र जड़ेजा आर अश्विन की जगह ले सकते हैं. ये सब देखकर ये तो साफ है कि अब जब भविष्य में किसी टीम का चयन होगा और आर अश्विन की जगह किसी और को लेने पर चर्चा होगी तो इन स्पिनरों के मामले में ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाजों की तरह सिलेक्‍टर्स का चकरघिन्नी हो जाना तय है.

ये भी पढ़ें-

लोकेश राहुल ने बल्लेबाजी से ना सही, लेकिन ईमानदारी से सबके दिल जीत लिए!

अफसोस, ऋषभ पंत के 159 रन गलत समय पर आए

क्रिकेट मैदान पर होने वाली छींटाकशी का ऐसा क्‍लाइमैक्‍स कभी नहीं हुआ

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय