होम -> समाज

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 08 अक्टूबर, 2019 03:10 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

एक परफेक्ट पार्टनर का सपना तो हर कोई देखता है. हालांकि परफेक्ट होने के सबके अपने-अपने मापदंड होते हैं. जिस तरह अच्छी लड़की और अच्छा लड़का होने के मापदंड हैं उसी तरह अच्छी गर्लफ्रेंड GF और अच्छा boyfriend BF होने के भी हैं.

आज बात करते हैं BF की यानी boyfriend की. एक अच्छा boyfriend बनने के लिए बहुत सी बातें ऐसी हैं जिनपर लड़के भी थोड़ा ध्यान दें तो परफेक्ट पार्टनर बन सकते हैं. बस ये सब करना बंद कर दें.

1. उसके दोस्तों को अपना प्रतिद्वंदी न समझें

अगर कोई प्यार करता है तो पजेसिव होना स्वाभाविक होता है. लेकिन ज्यादातर लड़के ये समझते हैं कि उसकी गर्लफ्रेंड सब छोड़कर सिर्फ उसकी गर्लफ्रेंड बनी रहे. जिस तरह आप सिर्फ boyfriend बनकर नहीं रह सकते उसी तरह लड़की भी सिर्फ गर्लफ्रेंड बनकर नहीं रह सकती. और अगर लड़की के पुरुष दोस्त हुए तो ज्यादातर boyfriend उनपर कभी भरोसा नहीं करते. लड़की और उसके दोस्तों के बीच दूरी बढ़ाते हैं. अगर आप भी इसी तरह के boyfriend हैं तो ऐसा करना तुरंत बंद कर दें.

2. उसके फैसले आप न लें

सामान्य घरों में अक्सर फैसले घर के पुरुष लेते हैं इसलिए ज्यादातर लड़कों में ये भावना होती है कि वो फैसला लेने में परफेक्ट हैं. हो सकता है कि आप अपनी गर्लफ्रेंड से बेहतर फैसले ले सकते हों, लेकिन अगर आप अपनी गर्लफ्रेंड के फैसले भी खुद ही लेते हैं. यहां तक कि उसे क्या करना है, क्या नहीं करना है ये भी आप ही डिसाइड करते हैं तो ये करना तुरंत बंद कर दें. गर्लफ्रेंड को बेचारी या फिर बच्चा मत समझिए.

relationshipgirlfriend के फैसले उसी को लेने दें

3. उसका 'भाई' बनने की कोशिश न करें

हमारे समाज में अब तक यही समझाया गया है कि लड़कियों की रक्षा करनी चाहिए. और इसीलिए लड़कों को ये लगता है कि वो boyfriend बनने के बाद लड़की के रखवाले या फिर गार्जियन बन गाए हैं. ख्याल रखना अच्छी बात है, रखना भी चाहिए लेकिन ज्यादा ख्याल रखने के चक्कर में लड़के कभी-कभी उसके बड़े भाई की तरह व्यवहार करने लगते हैं. लड़की को कहां जाना है, किसके साथ जाना है. कैसे जाना है, क्या पहनना है क्या नहीं, ये भी अगर आप ही डिसाइड करते हैं तो ये करना तुरंत बंद कर दें. आज की लड़कियां अपना ध्यान रखना जानती हैं. इस तरह की बातों से लड़कियों को लगता है कि जैसे उसपर कोई भरोसा नहीं करता.

4. उसपर नजर मत रखें

BF बनने के बाद लड़के अपनी गर्लफ्रेंड से ये उम्मीद रखते हैं कि वो उन्हें अपने पल-पल की जानकारी दें. वो ऑफिस कितने बजे पहुंची, ब्रेक में क्या खाया, फिर कितने बजे ऑफिस से निकली, किसके साथ निकली, घर कितने बजे पहुंची जैसी सामान्य जानकारी वो हर रोज लेते हैं. अगर आप भी ऐसा करते हैं तो मत करें, क्योंकि किसी भी व्यक्ति को विजिलेंस में रहना पसंद नहीं होता. हर किसी को पर्सनल स्पेस चाहिए ही होता है. गर्लफ्रेंड को भी.

5. अपने दोस्तों के सामने शो-ऑफ न करें

ज्यादातर लड़कों को गर्लफ्रेंड मिलना ट्रॉफी मिलने जैसा होता है. और इसीलिए कुछ की आदत होती है कि अपने दोस्तों के सामने वो अपने रिलेशनशिप के बारे में खूब शो-ऑफ करते हैं. हंसी-मजाक में ही सही लेकिन अगर ये आदतन होता है तो इसे बंद कर दें, नहीं तो आपकी गर्लफ्रेंड असहज और परेशान हो जाएगी.

6. उसके पर्सनल स्पेस को खत्म न करें

Girlfriend और boyfriend में एक बात जरूर होती है कि दोनों एक दूसरे का भरोसा जांचते हैं. और ऐसे में एकदूसरे से उनके सोशल मीडिया अकाउंट के पासवर्ड मांगते हैं. अगर आप भी भरोसा चेक करने के लिए अपनी गर्लफ्रेंड से उसका पासवर्ड मांगते हैं तो ऐसा मत करिए. इन चीजों से कोई भी असहज होता है. और असहज होने का मतलब ये नहीं कि कोई आपसे कुछ छिपा रहा है. कुछ चीजें पर्सनल ही होनी चाहिए.

relationshippersonal space का सम्मान करें

7. ये न कहें कि 'तुम मेरी सबकुछ हो'

ये सुनने में बड़ा अच्छा लगता है कि 'तुम मेरी सबकुछ हो'. लेकिन बहुत से BF सच में ही गर्लफ्रेंड को अपना सबकुछ समझने लगते हैं. वो न अपने बारे में सोचते हैं, न अपने परिवार के. प्यार जताने के लिए पैसा बहाते हैं, गर्लफ्रेंड को इंप्रेस करने के लिए महंगे तोहफे देते हैं. पागलों की तरह उनके आगे-पीछे घूमते हैं. उन्हें लगता है यही अच्छे boyfriend की निशानी है. पर नहीं आज की समझदार लड़कियां अपने BF से ऐसी उम्मीद नहीं करतीं. एक अच्छा boyfriend बनने के लिए पहले आपको एक अच्छा और जिम्मेदार व्यक्ति बनना होगा जिसकी कोई भी महिला इज्जत करे.

8. ये मत पूछें कि 'मैं तुम्हारा सबकुछ हूं न'?

जिस तरह गर्लफ्रेंड को अपना सबकुछ समझना गलत है उसी तरह खुद को उसका सबकुछ बताना भी गलत है. बहुत से लड़कों में ये आदत होती है कि वो चाहते हैं कि गर्लफ्रेंड उसेक लिए कुछ भी करे, अपने ख्वाब छोड़ दे, अपना रहन-सहन त्याग दे. वो गर्लफ्रेंड को लेकर बहुत ज्यादा पजेसिव होते हैं. उन्हें डर होता है कि कहीं गर्लफ्रेंड छोड़ न दे. वो अक्सर पूछते रहते हैं कि 'तुम मुझसे कितना प्यार करती हो?' वो गर्लफ्रेंड पर अपना कंट्रोल बनाए रखना चाहते हैं. बार-बार इमोशनल होकर कहते हैं 'बेबी, you love me ना'. लेकिन ऐसा करने से उल्टा ही होता है. जब भी आप उसे कंट्रोल करने की कोशिश करते हैं या अजीब व्यवहार करते हैं तो लड़की की निगाह से गिर जाते हैं.

9. Micro-cheating न करें

Micro-cheating का मतलब एक तरह का धोखा देना ही है. बहुत से लोगों में ये आदत होती है कि गर्लफ्रेंड होते हुए भी वो अपनी एक्स गर्लफ्रेंड के सोशल मीडिया अकाउंट पर जाकर स्टेटस देखते हैं, ऑफिस में कलीग के साथ फ्लर्ट करते हैं. इस तरह के व्यवहार को Microcheating कहा जाता है. जिसमें आप भले ही पूरी तरह से धोखा न दे रहे हों लेकिन सीमाएं तो लांघ ही लेते हैं. लेकिन धोखा छोटा हो या बड़ा, धोखा ही होता है. और अगर पकड़े गए तो कभी अच्छा नहीं होता, इसलिए ऐसा कभी न करें.

10. इमोशनल को crazy न कहें

बहुत से लड़के बात-बात में अपनी गर्लफ्रेंड के लिए ऐसा बोल देते हैं कि - 'अरे पागल है ये' 'She is crazy'. अक्सर लड़के आपस में इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करते हैं. ये बताने के लिए कि लड़की ज्यदा इमोशनल है, ज्यादा टेंशन लेती है, या फिर ज्यादा पजेसिव है. लेकिन क्रेजी है का मतलब कई बार ये भी समझा जाता है कि 'इमोशन तो हैं लेकिन मुझे ये बिलकुल पसंद नहीं.' ध्यान रखें कि लड़कियां अपने इमोशन दिखा देती हैं, उसे समझने की जरूरत है न कि उसपर ओवर रिएक्ट करने की.

ये भी पढ़ें-

अपने boyfriend यानी BF को ये बातें कभी नहीं बतानी चाहिए !

बेटी की शादी के लिए ये सब करना बंद कर दें पिता

1-2 साल के अंदर ही ब्रेकअप हो जाने के कारण एक्सपर्ट ने कुछ ये बताए हैं

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय