होम -> समाज

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 09 फरवरी, 2019 06:02 PM
श्रुति दीक्षित
श्रुति दीक्षित
  @shruti.dixit.31
  • Total Shares

शादी दो लोगों का मेल होती है और इस बात को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है कि शादी में दोनों पति-पत्नी को एक दूसरे की इज्जत करना और एक दूसरे को समझना चाहिए. एक शादी के टूटने के कई कारण हो सकते हैं और उनमें से एक ये भी है कि कोई व्यक्ति अपने पति/पत्नी की इज्जत नहीं करता है. पिछले हफ्ते इंटरनेट पर अहमदाबाद के एक जोड़े की बात चल रही थी जो रिश्तेदारों की लड़ाई की वजह से जिनता तलाक कुछ घंटों में ही हो गया, लेकिन अब एक ऐसी शादी की चर्चा जोरों पर है जो कुछ घंटे छोड़िए कुछ मिनट भी नहीं चली. ये शादी है एक कुवैती जोड़े की जो महज 3 मिनट के अंदर ही टूट गई.

जहां एक ओर इस शादी को लोग मज़ाक समझ रहे हैं वहीं दूसरी ओर अगर देखा जाए तो इस शादी के टूटने की वजह सराहनीय है. अगर किसी भी एक पार्टनर को लगे कि उसकी इज्जत शादी में नहीं होनी है तो उसे ऐसे रिश्ते से छुटकारा मिलना चाहिए. ये पूरी तरह पार्टनर पर निर्भर करता है कि क्या वो अपने साथी के साथ पूरी जिंदगी रिश्ता निभा पाएगा या नहीं.

आखिर क्यों हो गया शादी के 3 मिनट बाद तलाक?

एक कुवैती जोड़े ने कोर्ट में शादी की और कोर्ट रूम से बाहर आते वक्त पत्नी का पांव फिसल गया. सिर्फ इतनी सी बात पर पति ने पत्नी का मजाक उड़ाया और उसे बेवकूफ भी कहा. अगर आपसे पूछा जाए कि आपका पार्टनर गिर जाएगा तो आप उसकी मदद करेंगे या फिर उसका मजाक उड़ाएंगे और उसे बेवकूफ कहेंगे? यहां बात दोस्ती की नहीं हो रही यहां बात हो रही है पति-पत्नी की जो शादी के बंधंन में बंधे ही हैं और शादी करते वक्त एक दूसरे से बराबरी का वादा किया है.

तलाक, शादी, जोड़ा, पार्टनर, डेटिंगशादी में अगर किसी पार्टनर की इज्जत नहीं तो वो रिश्ता कभी सफल नहीं हो सकता!

पत्नी को लगा कि जिस शादी में उसकी अभी इज्जत नहीं हो रही है उसमे आगे चलकर क्या होगी. पत्नी अपने पति की इस हरकत से नाराज हो गई और फौरन कोर्ट रूम में वापस जाकर तलाक की मांग की. ये शायद इतिहास की सबसे छोटी शादी होगी क्योंकि ये सिर्फ तीन मिनट ही चल पाई.

जब ये खबर इंटरनेट पर फैली तो सोशल मीडिया के सिपाहियों ने उस महिला का समर्थन किया.

महिला ने जो किया उसे स्वाभिमान कहा जा रहा है.

कुछ लोग इसे आज़ादी भी कह रहे हैं. पर ये असल में स्वाभिमानी महिला की आज़ादी का परिचय ही है. किसी भी रिश्ते की नींव विश्वास और इज्जत होती है. कई बार लोग अपने भावी पति-पत्नी का स्वभाव नहीं जान पाते और इसलिए ऐसे शादी के बंधंन में बंध जाते हैं जिसमें वो खुश नहीं रह पाएंगे. पर कई बार शादी के बाद लोग इस बात को नहीं समझ पाते कि उनकी जिंदगी किस मोड़ पर जा रही है और बिना सोचे समझे वो किसी ऐसे रिश्ते का बोझ ढोते रहते हैं.

अनजाने में भी कई बार दुखा देते हैं पार्टनर का दिल-

हो सकता है ऊपर दिए गए केस में पति को ये अहसास नहीं हुआ हो कि वो पत्नी के साथ क्या कर रहा है. जाने-अनजाने में कई बार ऐसा होता है कि पति-पत्नी एक दूसरे का दिल दुखा देते हैं और उनकी इज्जत नहीं करते जैसे-

1. किसी भी बात पर डांट देना या गुस्सा हो जाना. बिना सोचे समझे छोटी सी गलती पर ज्यादा रिएक्ट करना कई बार भारी पड़ सकता है.

2. लगातार किसी न किसी बात पर ताना मारना या फिर मजाक उड़ाना. पति-पत्नी अगर एक दूसरे की कमजोरी को नहीं समझेंगे तो एक दूसरे की इज्जत कभी नहीं कर पाएंगे.

3. अपने साथी को कमतर समझना, उसके काम को अपने से छोटा समझना. ये किसी रिश्ते में खटास पैदा करने के लिए काफी होता है.

4. किसी भी गलतफहमी में बात न करना बल्कि दूसरे पर ही दोष मढ़ना.

5. दूसरी शादियों को देखकर जलना और साथी को ताने मारना.

6. किसी अन्य से स्त्री/पुरुष को अपने पति या पत्नी से बेहतर बताना.

फिल्म इंग्लिश-विंग्लिश में श्रीदेवी (शशी) के पति उनसे कहते हैं, 'तुम्हारा तो जन्म ही लड्डू बनाने के लिए हुआ है.' बाद में कहते हैं, 'अरे मजाक था भई और तुम्हारी तारीफ ही तो है.' श्रीदेवी उस फिल्म में लड्डू का बिजनेस करती हैं. उनके पति के लिए वो सिर्फ एक महिला हैं जो उनका घर संभालती हैं और लड्डू बनाकर बेचती हैं, लेकिन अमेरिका में उन्हें 'आंटरप्रेन्योर (Entrepreneur)' कहा जाता है. खुद के लिए बिजनेसवुमेन का तमगा सुनकर शशी खुश हो जाती है.

ये एक फिल्मी सीन था, लेकिन ये समझने के लिए बहुत जरूरी है कि इस तरह ही पति-पत्नी के रिश्ते में कई बार दरार पड़ जाती है. भले ही पति-पत्नी कोई भी काम कर रहे हों, लेकिन अगर पार्टनर की इज्जत नहीं होगी तो वो न ही खुद पर न ही शादी पर भरोसा कर पाएगा. कई बार पति-पत्नी ऐसी ही बातों से अपने साथी का दिल दुखा देते हैं. खाना अच्छा न बनने पर ताना मारना, अपने साथी की अहमियत न समझना, ज्यादा पैसे न कमा पाने पर ताना मारना, परिवार और रिश्तेदारों की वजह से कुछ कहना, अपने साथी को खुद से नीचे समझना ये सब कुछ इज्जत न करने का ही तो दूसरा रूप है. आखिर ऐसे रिश्ते में कितना समय लगेगा किसी पार्टनर को अपने साथी की इज्जत करना सीखने में. ये बात भले ही छोटी सी लग रही हो, लेकिन इसके मायने बहुत हैं.

ये भी पढ़ें-

ऐसा देश जहां लगभग हर शादीशुदा इंसान लेता है तलाक!

वर्जिनिटी टेस्ट की रोंगटे खड़े करने वाली परंपरा, जिसपर महिला आयोग की अब नजर पड़ी

लेखक

श्रुति दीक्षित श्रुति दीक्षित @shruti.dixit.31

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय