charcha me| 

सोशल मीडिया

 |  6-मिनट में पढ़ें  |   14-09-2018
श्रुति दीक्षित
श्रुति दीक्षित
  @shruti.dixit.31
  • Total Shares

भारत में मर्दानगी दिखाने के कई तरीके होते हैं. कहीं किसी को बच्चे पैदा करना मर्दानगी लगता है, कहीं किसी के लिए लड़की पटाना मर्दानगी होता है, कहीं किसी के लिए लड़की पर एसिड फेंकना मर्दानगी होती है तो किसी के लिए लड़की को पीटना या धमकाना. इसी तरह की मर्दानगी दिखाने वाला एक वीडियो फिलहाल सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो में एक लड़का एक लड़की को किसी ऑफिस में बहुत मार रहा है. बेरहमी से उसके बाल पकड़ रहा है, बिना किसी बात के पीटता हुआ दिख रहा है.

दिल्ली पुलिस ने इस वीडियो में जो लड़का है उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली है. दरअसल, ये वीडियो रोहित सिंह तोमर का है. रोहित जी अपने इंस्टाग्राम अकाउंट को चौधरी रोहित तोमर के नाम से चलाते हैं. रोहित के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है ज्योति शर्मा ने.

वायरल वीडियो, छेड़छाड़, पिटाई, दिल्ली, पुलिसउस वायर वीडियो का स्क्रीन शॉट जिसमें रोहित बुरी तरह से एक लड़की को पीट रहा है

पुलिस के मुताबिक रोहित और ज्योति एक दूसरे से प्यार करते थे. कुछ समय पहले दोनों का ब्रेकअप हुआ था. रोहित के स्वाभाव से उसे दिक्कत थी. इसके बाद ज्योति को लगातार रोहित धमकी देने लगा. एक दिन उसके घर पर आकर पथराव भी किया और उसपर एसिड फेंकने की धमकी दी. जब ज्योति के घर वालों को ये पता चला तो उन्होंने एफआईआर करवाई. उसके बाद ज्योति ने बताया कि रोहित ने कुछ समय पहले उसे ये वीडियो भेजा था जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. रोहित ने कहा था कि अगर ज्योति ने उससे शादी नहीं की तो ज्योति का भी यही हाल होगा. इस वीडियो में जिस लड़की को मारा जा रहा है वो कौन है ये तो नहीं पता, लेकिन ये लड़का रोहित है इसके बारे में बता दिया गया है.

चौंकाने वाली बात ये है कि रोहित सिंह तोमर (चौधरी) दिल्ली पुलिस के सब इंस्पेक्टर अशोक कुमार चौधरी का बेटा है. द प्रिंट की रिपोर्ट के अनुसार रोहित को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन अभी वो पुलिस स्टेशन में नहीं है. और साथ ही में अशोक कुमार चौधरी का भी कुछ पता नहीं चल रहा.

जिस वीडियो को लेकर सोशल मीडिया पर बवाल चल रहा है उसे ट्विटर पर राजेंदर (Rajendar) नाम के एक यूजर ने शेयर किया है.

हालांकि, ये वीडियो सबसे पहले फेसबुक पेज ‘Turban and Beard’ पर आया था.

ज्योति शर्मा का कहना है कि पुलिस ने रोहित पर कार्रवाई तो की थी, लेकिन वो पुलिस स्टेशन पर नहीं है. शायद उसकी बेल हो गई. द प्रिंट की रिपोर्ट के अनुसार तिलक नगर के SHO सत्या प्रकाश को पता ही नहीं है कि रोहित कहां है. उनका कहना है कि रोहित को गिरफ्तार किया गया था और कोर्ट भेजा गया था, लेकिन अब वो कहां है इसके बारे में कोई जानकारी नहीं.

हालांकि, रोहित को अरेस्ट करने से पहले दिल्ली पुलिस ने ट्वीट कर सारे मामले की जानकारी जरूर दे दी थी.

1 मिनट 44 सेकंड के जिस वीडियो को लेकर इतना बवाल हो रहा है उसमें रोहित कॉल सेंटर की एक लड़की को बेरहमी से पीट रहा है. लड़की बचने की मिन्नतें कर रही है. जिस इंसान ने ये वीडियो रिकॉर्ड किया वो अली था. रोहित का दोस्त और क्लासमेट. अली कह रहा है वीडियो में कि 'रोहित आराम से', 'तू पागल है क्या, इतना काफी है' पर रोहित नहीं सुन रहा. अली ने उस लड़की जिसे मारा जा रहा है उसका नाम 'अमृता' भी कहा और उसे खड़े होने को कहा पर अली ने किया कुछ नहीं.

द प्रिंट की रिपोर्ट के मुताबिक अली (जिसका कॉल सेंटर था जहां ये सब हुआ) वो रोहित का दोस्त है और उसने ये वीडियो उसकी सुरक्षा के लिए बनाया ताकि उसे बाद में कोई नुकसान न पहुंचा सके. रोहित और अमृता दोनों ही नशे में थे और किसी विवाद के चलते ये हुआ था.

तिलक नगर के SHO रोहित के पिता जी के दोस्त हैं और ज्योति का कहना है कि इसलिए रोहित के खिलाफ कड़ी कार्यवाही नहीं हो रही. द प्रिंट की रिपोर्ट में ज्योति ने ये भी कहा है कि उसे और उसके परिवार को धमकाया जा रहा है.

ये पूरा मामला देखकर लगता है कि जैसे हर गली मोहल्ले में होने वाली घरेलू हिंसा और पढ़े-लिखे, लेकिन कम अक्ल मर्दों की बात हो रही है जो बस यही चाहते हैं कि लड़की वही करे जो वो चाहते हैं. कितना आसान है आज के जमाने में रोहित जैसे किसी पुलिसवाले के बेटे के लिए ज्योति जैसी किसी आम लड़की को धमकी देना? एसिड फेंक दूंगा कहना? एसिड अटैक को लेकर भारत में कितने कानून बने हैं, फिर भी प्यार में पड़े आशिक के लिए इतना आसान है लड़की को धमकाना और अगर वो पुलिस में जाकर शिकायत करे तो उसकी सुनने वाला भी कोई नहीं. मीडिया में जितने मामले आते हैं उससे लगता है कि दुनिया कहां जा रही है पर असल में ऐसे न जाने कितने मामले हैं जिनकी कोई सुध ही नहीं लेता. वो मीडिया में नहीं आते. उनके वीडियो वायरल नहीं होते.

DMK नेता ने की महिला की पिटाई..

एक अन्य मामले में DMK के पूर्व पार्षद सेल्वकुमार का गुस्सा देखने को मिला है. इस वीडियो में तमिलनाडु के एक ब्यूटी सैलून में सरेआम वो महिला को पीटते नजर आ रहे हैं. वीडियो वायरल होने बाद पार्टी ने उन्हें बाहर कर दिया.

वैसे तो ये वीडियो 25 मई 2018 का है, लेकिन ये वायरल अब हो रहा है. ये एक सीसीटीवी कैमरा की फुटेज है. इस वीडियो में चार अन्य महिलाएं भी नजर आ रही हैं.

इस मामले में भी पुलिस ने मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है. पर कार्यवाही कितनी होती है ये तो वक्त ही बताएगा. हालांकि, ये सभी जानते हैं कि ऐसे मामलों में कार्यवाही कितनी होती है?

ऐसी न जाने कितनी लड़कियां हैं जो भारत की कथित मर्दानगी का शिकार हो जाती हैं. ये तो एक किस्सा है जनाब जिस देश में हर 15 मिनट में एक लड़की का बलात्कार हो रहा है, जहां महिलाओं के प्रति हिंसा के 70% मामले दर्ज ही नहीं होते उस देश से क्या उम्मीद लगा कर बैठे हैं आप? ये दो वीडियो हैं और इस समय ही न जाने कितनी महिलाएं ऐसी भारतीय मर्दानगी का शिकार हो रही होंगी, लेकिन क्या उनके लिए ये स्थिती बदल पाएगी?

ये भी पढ़ें-

Viral Video: कृष्‍ण जन्‍म पर भाजपा के 'राम कदम' की रावण वाली बात

Viral Video : जब जंगली बिल्लियों की तरह एक दूसरे पर टूट पड़ी 5 मुस्लिम महिलाएं

लेखक

श्रुति दीक्षित श्रुति दीक्षित @shruti.dixit.31

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय