होम -> सोशल मीडिया

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 11 दिसम्बर, 2020 03:32 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

Political और Apolitical डिबेट बहुत लंबी है. जैसा माहौल है देश के अधिकांश लोगों ने अपने को दो गुटों में बांट दिया है. एक गुट सरकार और सरकार की नीतियों के साथ है तो दूसरा गुट ऐसा है जो मुखर होकर सरकार और उसके फैसलों की आलोचना करता है. इस बंदरबांट में क्यों कि पूरा देश है सिने जगत क्यों पीछे रहता. सरकार बनाम आलोचक ये विभाजन बॉलीवुड में भी है. परेश रावल (Paresh Rawal), प्रसून जोशी (Prasoon Joshi), अक्षय कुमार (Akshay Kumar), कंगना रनौत (Kangana Ranaut), अनुपम खेर (Anupam Kher) ये पहले वर्ग के लोग हैं जबकि अली फ़ज़ल (Ali Fazal), हिमांशी खुराना (Himanshi Khurana), अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap), स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) दूसरे गुट के लोग हैं. सरकार कोई भी बड़ा छोटा फैसला ले और ये लोग उस फैसले पर अपना मत न प्रकट करें ऐसा वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य में तो असंभव है. अक्सर अपने ट्वीट (Swara Bhaskar tweet) और विटी जवाबों से ट्विटर पर सुर्खियां बटोरने वाली इसी दूसरे गुट की स्वरा भास्कर एक बार फिर से चर्चा में हैं. स्वरा की वेब सीरीज 'भाग बीनी भाग' न केवल देश में बल्कि विदेशों तक में सुर्खियां बटोर रही है. सीरीज ताइवान की राष्ट्रपति Tsai Ing- Wen को भी खूब पसंद आई है और उन्होंने स्वरा की जमकर तारीफ की है. तारीफ में जहां ताइवान की राष्ट्रपति Apolitical थीं तो वहीं जैसे जवाब स्वरा ने दिए मालूम दे रहा था कि इन जवाबों के जरिये भी कहीं न कहीं वो देश की सरकार और उसके कामों/ फैसले को दूसरे देश के सामने कमतर आंक रही हैं. कुल मिलाकर स्वरा अपने जवाबों में भी पूर्णतः पॉलिटिकल थीं.

Bhaag Beanie Bhaag, Netflix, Film, Swara Bhaskar, Comedy, Taiwanताइवान की राष्ट्रपति और स्वरा भास्कर ने एक दूसरे की खूब जमकर तारीफ की है

विचलित न होइए उपरोक्त बातों में कुछ भी बढ़ा चढ़ाकर नहीं कहा गया है हम उन्हीं जवाबों का अवलोकन कर रहे हैं जिन्हें स्वरा ने दिया और एक बार फिर सुर्खियों को अपने नाम किया. ताइवान की राष्ट्रपति Stai Ing-Wen ने स्वरा की सीरीज 'भाग बीनी भाग' के लिए बधाई देते हुए उन्हें covid-19 के नार्मल होने के बाद ताइवान आने का निमंत्रण भी दिया.

बता दें कि स्वरा की इस सीरीज के लिए भारत में ताइवान के प्रतिनिधि कार्यालय में बतौर डिप्टी कार्यरत Dr Mumin Chen ने अपना इंट्रोडक्शन देते हुए उन्हें एक ट्वीट किया. Chen ने लिखा कि, 'स्वरा, आपको अपने नए ड्रामा की सफलता के लिए बधाई.क्या मैं आपसे अपनी राष्ट्रपति Tsai Ing-Wen और ताइवान की ऑडियंस को हाय बोलने का अनुरोध कर सकता हूं? वो आपके ड्रामा को नेटफ्लिक्स पर से देख सकते हैं.

अब इस ट्वीट को देखें तो सीधे सीधे तारीफ हुई है. मगर इस ट्वीट को देखकर स्वरा कुछ इस तरह उत्साहित हुईं कि उन्होंने इसमें भी हल्की फुल्की राजनीति का तड़का लगा दिया.

Dr Mumin Chen के ट्वीट का जवाब देते हुए स्वरा ने लिखा कि 'हाय सर! 'भाग बीनी भाग' पर आपके फीडबैक का धन्यवाद. हां कृपया इसे देखने के लिए ताइवान में लोगों को प्रोत्साहित करें और राष्ट्रपति @iingwen को आभार. मैंने हमेशा ही राष्ट्रपति को उनके विश्वास और राजनीतिक संकल्प के लिए एडमायर किया है. और हां जिस तरह ताइवान ने कोविड-19 की चुनौतियों का निपटारा किया वो सराहनीय है. इसके बाद स्वरा ने हैश टैग लगाया #rolemodel

स्वरा के इस ट्वीट का जवाब खुद राष्ट्रपति Tsai Ing Wen ने दिया. उन्होंने लिखा कि, हमें ये जानकर खुशी हो रही है कि हमें भरात में भी एक दोस्त मिल गया है जो कि रचनात्मक है. इसके बाद ताइवान की राष्ट्रपति ने लिखा कि वैश्विक महामारी के इस मुश्किल दौर में विश्व भर के लोगों को हंसाने के लिए और उनमें साहस का संचार करने के लिए आपका धन्यवाद. इंटरनेशनल ट्रेवल सुरक्षित शुरू होने के बाद हम ताइवान यात्रा पर आपको आमंत्रित करते हैं. ' भाग बिनी भाग के लिए शुभकामनाएं.

इस रिप्लाई पर भी स्वरा सीधा और सधा हुआ जवाब दे सकतीं थीं लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. उन्होंने इसमें भी राजनीति डाल दी. स्वरा ने 'थैंक यू' कहते हुए लिखा कि आपके इस आभारी मैसेज के लिए धन्यवाद. मैं भी ताइवान आने के लिए बेकरार हूं. लोकतंत्र के समर्थन में जो स्टैंड आपने लिया वो प्रेरणा देने वाला है.

बात सीधी और शीशे की तरह एकदम साफ है. ताइवान की तरफ से स्वरा से सीधी बात हो रही थी मगर जिस तरह उन्होंने अपने जवाब में राजनीति का परिचय दिया वो इसलिए भी विचलित करता है क्योंकि जैसे उनपर यहां देश में सरकार न जाने कितने जुल्म ओ सितम कर रही है. उन्हें ताइवान के रूप में एक कंधा मिला जिसपर सिर रखकर उन्होंने रो लिया और अपने मन की भड़ास निकाल ली.

स्वरा का ये अंदाज सही है या इसकी आलोचना होनी चाहिए. हम आज ज्यादा कुछ नहीं कहेंगे अब जो फैसला करना है वो देश की जनता को करना है. जनता ही बताए जो जवाब स्वरा के हैं वो संतुष्ट करने वाले हैं या फिर वो सरासर गलत और एक दूसरे देश के सामने एक देश के रूप में भरात की गलत छवि को पेश करते हैं.

ये भी पढ़ें -

दिलजीत दोसांज-कंगना रनौत की लड़ाई ने सरकार-किसानों के बीच बातचीत पर मट्ठा डाल दिया!

सोनिया गांधी के जन्मदिन पर अपमानजनक हैशटैग ट्रेंड कराने वाले तो अपना ही चरित्र दिखाते हैं

ट्रोल को ट्रोल करने के चक्कर में कपिल शर्मा फिर ट्रोल हो गए

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय