charcha me| 

होम -> सोशल मीडिया

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 07 मार्च, 2019 03:35 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

अभिनंदन वर्धमान जब पाकिस्तान के कब्जे में थे, तब पाकिस्तान ने उनके कुछ वीडियो शेयर किए थे. एक वीडियो में अभिनंदन चाय पीते दिख रहे थे और अफसर उनसे सवाल कर रहे थे. सवाल करते हुए अफसर ने उनसे कहा कि 'I hope you like the tea' यानी उम्मीद है आपको चाय पसंद आई होगी. जिसपर अभिनंदन ने कहा 'tea is fantastic, thankyou' यानी चाय बहुत बढ़िया है, धन्यवाद.

वीडियो में अभिनंदन की बाकी बातों पर भारतीय भले ही भरोसा न करें. लेकिन पाकिस्तानियों को खुश करने के लिए उसमें बहुत मसाला था. पाकिस्तानी आर्मी, वहां की मेहमान नवाजी से लेकर पाकिस्तान की चाय तक सबकी तारीफ की गई थी. अब ऐसे में चाय वाले कैसे पीछे रहते, लिहाजा अभिनंदन की तारीफ वाले वीडियो का फायदा उठाते हुए पाकिस्तान की एक चाय कंपनी खूब शोहरत बटोर रही है.

पाकिस्तान की चाय कंपनी तपल दानेदार चाय के विज्ञापन में अभिनंदन की एंट्री कराकर spoof बनाए गए हैं जो इस वक्त सोशल मीडिया पर वायरल हैं.

पहला वीडियो दिखिए-

इसके बाद थोड़ी और कलाकारी की गई है. ये दूसरा वीडियो दिखिए-

हालांकि ये चाय का विज्ञापन काफी पुराना है लेकिन इसमें अभिनंदन का वीडियो इस तरह एडिट किया गया है कि लोग इसे असली समझ रहे हैं. असल विज्ञान ये रहा-

अब वीडियो भले ही असली न हों, एडिट किए गए हों लेकिन एक बात को नकारा नहीं जा सकता कि इससे इस चाय ब्रांड का प्रमोशन ही हुआ है. और हो न हो विंग कमांडर अभिनंदन न चाहते हुए भी इस ब्रांड के ब्रांड एंबेसडर बना दिए गए. भले ही वीडियो तपल चाय वालों ने नहीं बनाया लेकिन यूट्यूब पर साफ जाहिर है कि ये कलाकारी पाकिस्तान में ही की गई है.

आखिर अभिनंदन का कितना फायदा उठाएगा पाकिस्तान?

जब से अभिनंदन पाकिस्तान की जमीन पर उतरे, पाकिस्तान ने उन्हें एक मौके के रूप में ही देखा. जो लोग अभिनंदन को पाकिस्तान में सबसे पहले मिले थे, उनके लिए भी अभिनंदन मौका थे. पाकिस्तानी सेना को पायलट के बारे में जानकारी और मीडिया को घटना का ब्यौरा देकर मोहम्मद रज्जाक चौधरी फैमस हो गया. फिर जिन्होंने लोगों ने अभिनंदन को मारा उन्होंने घटना का वीडियो बनाया और सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए पाकिस्तानियों से खूब वाहवाही लूटी.

इसके बाद जब अभिनंदन सेना के कब्जे में आए तो सेना ने भी अभिनंदन में मौका देखा. उनके साथ जो भी किया, लेकिन मजबूर किया कि वो पाकिस्तानी सेना और पाकिस्तान की तारीफ करें. जिससे पाकिस्तान सेना और सरकार की जो नकारात्मक छवि दुनिया की नजरों में है उसे पाक-साफ किया जा सके. जब सब फायदा उठा रहे हैं तो इमरान खान भी कैसे पीछे रहते. उन्होंने भी मौके का फायदा उठाते हुए अभिनंदन को भारत को वापस सौंपने का ऐलान कर दिया. जिससे पाकिस्तान के नए-नए प्रधानमंत्री अपने देशवासियों पर इंप्रेशन बना सकें कि वो साफ नियत वाले इंसान हैं, युद्ध में यकीन नहीं रखते शांति की बात करते हैं. इमरान खान तो अपने इस स्टंट की बदौलत शांति के नोबल पुरस्कार के लिए सबसे उचित दावेदार के रूप में सामने आए. पूरी दुनिया में पाकिस्तान और इमरान खान की जय होने लगी.

captain abhinandanपाकिस्तान कने कैप्टन अभिनंदन से सिर्फ फायदा उठाया है

जिस दिन अभिनंदन को रिहा किया जाना था. उस दिन भी पाकिस्तानी सेना ने सोचा कि अभिनंदन को थोड़ा और इस्तेमाल किया जाना चाहिए. जाते-जाते भी पाकिस्तान ने प्रोपेगेंडा के लिए अभिनंदन का एक और वीडियो बनाकर शेयर किया था जिसमें अभिनंदन ने पाकिस्तान की खूब तारीफ और भारतीय मीडिया की बुराई की थी.

एक तस्वीर लंदन की भी देख लीजिए जिसमें चायवाले ने अभिनंदन की तस्वीर लगाकर अपनी चाय का प्रमोशन कर दिया. हालांकि ये साफ नहीं हुआ कि इस दुकान का मालिक कौन है. हो न हो कोई पाकिस्तानी ही होगा.

देखा जाए तो अभिनंदन के साथ पाकिस्तान जितना कर सकता था उतना किया गया. और जो बच गया था उसे वहां के महत्वाकांक्षी वीडियो एडिटर्स ऐसे वीडियो एडिट करके कर रहे हैं. अभिनंदन ने भारत के लिए जो भी किया भारत उसका ऋणी रहेगा लेकिन अभिनंदन तो पाकिस्तान पर भी अहसान करके आए हैं. बैठे-बैठाए कितनों की रोजी रोटी का जुगाड़ कर दिया है. तो क्या अब भी यही कहेंगे कि पाकिसतान अपने दम पर खड़ा है?

ये भी पढ़ें-

दुश्‍मन के इलाके में उतरे अभिनंदन की रगों में लाल खून नहीं, तिरंगा दौड़ रहा था

अभिनंदन की आपबीती बता रही है कि इमरान खान और पाक सेना कितने 'नापाक' हैं

पाकिस्तान के इस झूठ को सुनकर तो मसूद अजहर भी हंसने लगेगा!

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय