होम -> सोशल मीडिया

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 22 दिसम्बर, 2020 10:54 AM
मशाहिद अब्बास
मशाहिद अब्बास
  @masahid.abbas
  • Total Shares

सोनू सूद (Sonu Sood) एक ऐसा नाम बन चुका है जो हर मुसीबत में मदद करने के लिए जाना जाने लगा है. कोरोना काल के शुरू होते ही लगे लॅाकडाउन (Lockdown) में मुंबई में फंसे प्रवासी मजदूरों को घर भेजने से लेकर खाना पानी की व्यवस्था करने वाले सोनू सूद की लोग अब पूजा भी करने लग गए हैं. देश भर में कई जगह सोनू सूद को लोग भगवान् का दर्जा दे चुके हैं. तेलंगाना राज्य का सिद्दीपेट जिला है जहां एक गांव है टांडा, वहां पर सोनू सूद के सम्मान में एक मंदिर बनाई गई है जिसमें सोनू सूद की मूर्ती भी स्थापित की गई है. 20 दिसंबर 2020 से लोग सोनू सूद का दर्शन करना भी शुरू कर चुके हैं.

साल 2002 में सोनू सूद ने बॅालीवुड में शहीदे आज़म नाम की फिल्म से अपने कैरियर का आग़ाज़ किया था. अपनी पहली ही फिल्म से अपने काम के ज़रिए सोनू सूद ने अपनी सफलता के झंडे भी गाड़ दिए थे. उन्हें लगातार काम पर काम मिलते रहे और वह निगेटिव किरदार को बड़े ही निराले अंदाज़ में निभाने लगे. हालांकि कोरोना वायरस की दस्तक से पहले तक तो महज फिल्मी जगत में इंट्रेस्ट रखने वाले लोग ही सोनू सूद को जानते और पहचानते थे लेकिन लॅाकडाउऩ लगने के बाद सोनू सूद ने जिस तरह मसीहा बनकर लोगों की मदद करना शुरू की तो वह देश भर में सच्चे हीरो के तौर पर छा गए. उनकी यही मदद करने के अंदाज़ के कायल लोग अब उन्हें हरेक मुसीबत में याद करने लगे हैं. प्रवासी मजदूर तो सोनू सूद से मदद मांगते ही रहते हैं जिसे सोनू सूद पूरा भी करते हैं लेकिन अब लगता है मानों हर प्राब्लम का एक सल्यूशन बन गए हैं सोनू सूद. अब किसी को गर्लफ्रेंड नहीं मिल रही तो भी सोनू सूद से ही मदद मांगता हुआ दिखाई दे रहा है. सोनू सूद से मदद मांगना बड़ी बात नहीं है बल्कि सोनू सूद का हर मदद मांगने वाले को जवाब देना बहुत बड़ी बात है. 

Team India, Teat, Australia, Defeat, Virat Kohli, Sonu Soodऐसे भी लोग है जो टीम इंडिया के कल्याण के लिए सोनू सूद से मदद मांग रहे हैं

अब चाहने वालों के जैसे जैसे अजीबोगरीब सवाल हुआ करते हैं उससे कहीं ज़्यादा सोनू सूद के जवाब दिल को छू लेने वाले होते हैं. अब देखिए ज़रा भारतीय टीम आस्ट्रेलिया के दौरे पर है. टेस्ट मैच की सिरीज़ चल रही है, भारतीय टीम ने पहले टेस्ट में शर्मनाक प्रदर्शन किया है. मात्र 36 रनों पर पूरी की पूरी टीम पवेलियन में आकर बैठ गई. अब भारतीय क्रिकेट प्रेमियों के लिेए तो दिन बेहद बुरा था ही, गुस्सा भी खूब आया लेकिन करें तो करें क्या, एक क्रिकेट प्रेमी को इस मौके पर भी सोनू सूद ही याद आए और ट्वीट करते हुए महाशय ने लिख दिया कि 'भारतीय क्रिकेट टीम ऑस्ट्रेलिया में फंसी हुई है, क्या आप उसे निकाल सकते हैं?'

अब सोनू सूद जवाब देते भी तो क्या देते, सवाल ही लोटपोट कर देने वाला है. लेकिन सोनू सूद ने जो जवाब दिया वह उनका सम्मान और बढ़ा देता है सोनू सूद ने जवाब लिखते हुए कहा कि 'भारतीय टीम को एक मौक़ा और दें, अगले मैच में ऑस्ट्रेलिया टीम को घर लेकर आएंगे.'

भाई क्या मंत्रमुग्ध कर देने वाला जवाब है, दिल को छू लेने वाला दिल को जीत लेने वाला जवाब. इस जवाब से क्रिकेट प्रेमियों के बीच भी सोनू सूद छा गए हैं. अब सोशल मीडिया पर लोग उनका कस़ीदा पढ़ते हुए नज़र आ रहे हैं. कुछ सोनू सूद के लिए भारत रत्न की मांग कर रहे हैं तो कुछ उनको मुख्य अभिनेता के रूप में देखने की दुआ कर रहे हैं. सोनू सूद को मुख्य अभिनेता के तौर पर साईन करने वालों की भी बॅालीवुड में एक कतार या तो लग चुकी होगी या जल्दी ही लगने वाली होंगी. 

सोनू सूद हरेक प्राब्लम में संकटमोचन के रूप में उभर रहे हैं. हालांकि कुछेक ऐसे भी लोग हैं जो उनको ट्रोल करने का काम करते हैं लेकिन सोनू सूद की फैन फालोइंग इस कदर छाई हुयी है कि उन ट्रोलर्स को सोनू सूद के चाहने वाले ही लताड़ कर रख दे रहे हैं. सोनू सूद के प्रति लोगों की दीवानगी दिखाती है कि वह सचमुच एक ऐसे हीरो हैं जिस पर भारत को नाज़ है.

ये भी पढ़ें -

सना खान को पति के दिल का मलाल पहले पता होता तो बॉलीवुड कभी न छोड़तीं

क्या Purushapura जैसी बोल्ड और इंटिमेट वेब सीरीज के लिए तैयार हैं भारतीय दर्शक?

'इंटिमेट सीन्स' करने पर एक्ट्रेस को पति का डांटना, और फिर सुसाइड...

लेखक

मशाहिद अब्बास मशाहिद अब्बास @masahid.abbas

लेखक स्वतंत्र पत्रकार हैं और समसामयिक मुद्दों पर लिखते हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय