होम -> सियासत

 |  7-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 10 मार्च, 2019 08:35 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujmaurya87
  • Total Shares

चुनाव आयोग ने आखिरकार लोकसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है. इसी के साथ-साथ आचार संहिता भी लागू हो चुकी है. इस बार को लोकसभा चुनाव कुल 7 चरणों में संपन्न होना है, जो 11 अप्रैल से शुरू हो कर 19 मई तक चलेगा. देश भर की कुल 543 लोकसभा सीटों पर हुए चुनाव के नतीजे 23 मई को सामने आएंगे. इस बार चुनाव आयोग ने कुछ नई चीजें भी की हैं, जिनके बारे में भी हम यहां आपको बताएंगे.

चुनाव आयोग ने ये भी बता दिया कि किस राज्य में कितने चरणों में चुनाव होगा और किन-किन तारीखों पर ये चुनाव होगा. लेकिन अभी भी राज्यवार तरीके से कोई लिस्ट नहीं दिख रही है. ऐसे में हम आपके लिए लाए हैं सभी राज्यों की लिस्ट, जिसमें बताया है कि आपके राज्य में चुनाव कितने चरणों में, किन तारीखों को और कितनी सीटों पर होगा. तो बस नीचे की लिस्ट में से अपने राज्य का नाम ढूंढिए और जान लीजिए सब कुछ.

लोकसभा चुनाव 2019, भाजपा, कांग्रेस, राजनीतिदेश भर की कुल 543 लोकसभा सीटों पर हुए चुनाव के नतीजे 23 मई को सामने आएंगे.

आंध्र प्रदेश- पहले चरण में 11 अप्रैल को सभी 25 सीटों पर चुनाव.

अरुणाचल प्रदेश- पहले चरण में 11 अप्रैल को सभी 2 सीटों पर चुनाव.

गोवा- तीसरे चरण में 23 अप्रैल को सभी 2 सीटों पर चुनाव.

गुजरात- तीसरे चरण में 23 अप्रैल को सभी 26 सीटों पर चुनाव.

हरियाणा- छठे चरण में 12 मई को सभी 10 सीटों पर चुनाव.

हिमाचल- सातवें चरण में 19 मई को सभी 4 सीटों पर चुनाव.

केरल- तीसरे चरण में 23 अप्रैल को सभी 20 सीटों पर चुनाव.

मेघालय- पहले चरण में 11 अप्रैल को सभी 2 सीटों पर चुनाव.

मिजोरम- पहले चरण में 11 अप्रैल को 1 सीट पर चुनाव.

नागालैंड- पहले चरण में 11 अप्रैल को 1 सीट पर चुनाव.

पंजाब- सातवें चरण में 19 मई को सभी 13 सीटों पर चुनाव.

सिक्किम- पहले चरण में 11 अप्रैल को 1 सीट पर चुनाव.

तेलंगाना- पहले चरण में 11 अप्रैल को सभी 17 सीटों पर चुनाव.

तमिलनाडु- दूसरे चरण में 18 अप्रैल को सभी 39 सीटों पर चुनाव.

उत्तराखंड- पहले चरण में 11 अप्रैल को सभी 5 सीटों पर चुनाव.

अंडमान निकोबार- पहले चरण में 11 अप्रैल को 1 सीट पर चुनाव.

दादरा नागर हवेली- तीसरे चरण में 23 अप्रैल को 1 सीट पर चुनाव.

दमन और दीव- तीसरे चरण में 23 अप्रैल को 1 सीट पर चुनाव.

लक्षदीप- पहले चरण में 11 अप्रैल को 1 सीट पर चुनाव.

दिल्ली- छठे चरण में 12 मई को सभी 7 सीटों पर चुनाव.

पुडुचेरी- दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 1 सीट पर चुनाव.

चंडीगढ़- सातवें चरण में 19 मई को 1 सीट पर चुनाव.

कर्नाटक (दो चरण- 28 सीट)- दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 14 सीट और उसके बाद तीसरे चरण में 23 अप्रैल को बाकी बची 14 सीटों पर चुनाव होगा.

मणिपुर (दो चरण- 2 सीट)- पहले चरण में 11 अप्रैल को 1 सीट और फिर दूसरे चरण में 18 अप्रैल को बची हुई 1 सीट पर चुनाव.

राजस्थान (दो चरण- 25 सीट)- चौथे चरण में 29 अप्रैल को 13 सीट और फिर पांचवें चरण में 6 मई को बची हुई 12 सीटों पर चुनाव.

त्रिपुरा (दो चरण- 2 सीट)- पहले चरण में 11 अप्रैल को 1 सीट और फिर दूसरे चरण में 18 अप्रैल को बची हुई 1 सीट पर चुनाव.

असम (तीन चरण- 14 सीट)- पहले चरण में 11 अप्रैल को 5 सीट, दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 5 सीट और फिर तीसरे चरण में 23 अप्रैल को बची हुई 4 सीटों पर चुनाव.

छत्तीसगढ़ (तीन चरण- 11 सीट)- पहले चरण में 11 अप्रैल को 1 सीट, दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 3 सीटों और फिर तीसरे चरण में 23 अप्रैल को बची हुए 7 सीटों पर चुनाव.

झारखंड (चार चरण- 14 सीट)- चौथे चरण में 29 अप्रैल को 3 सीट, पांचवें चरण में 6 मई को 4 सीट, छठे चरण में 12 मई को 4 सीट और सातवें चरण में 19 मई को बची हुई 3 सीटों पर चुनाव.

मध्य प्रदेश (चार चरण- 29 सीट)- चौथे चरण में 29 अप्रैल को 6 सीट, पांचवें चरण में 6 मई को 7 सीट, छठे चरण में 12 मई को 8 सीट और सातवें चरण में 19 मई को बची हुई 8 सीटों पर चुनाव.

महाराष्ट्र (चार चरण- 48 सीट)- पहले चरण में 11 अप्रैल को 7 सीट, दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 10 सीट, तीसरे चरण में 23 अप्रैल को 14 सीट और चौथे चरण में 29 अप्रैल को बची हुई 17 सीटों पर चुनाव.

ओडिशा (चार चरण- 21 सीट)- पहले चरण में 11 अप्रैल को 4 सीट, दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 5 सीट, तीसरे चरण में 23 अप्रैल को 6 सीट और चौथे चरण में 29 अप्रैल को बची हुई 6 सीटों पर चुनाव.

जम्मू-कश्मीर (पांच चरण- 8 सीट)- पहले चरण में 11 अप्रैल को 2 सीट, दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 2 सीट, तीसरे चरण में 23 अप्रैल को 1 सीट, चौथे चरण में 29 अप्रैल को 1 सीट और पांचवें चरण में 6 मई को 2 सीटों पर चुनाव.

बिहार (सात चरण- 40 सीट)- पहले चरण में 11 अप्रैल को 4 सीट, दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 5 सीट, तीसरे चरण में 23 अप्रैल को 5 सीट, चौथे चरण में 29 अप्रैल को 5 सीट, पांचवें चरण में 6 मई को 5 सीट, छठे चरण में 12 मई को 8 सीट और सातवें चरण में 19 मई को बची हुई 8 सीटों पर चुनाव.

उत्तर प्रदेश (सात चरण- 80 सीट)- पहले चरण में 11 अप्रैल को 8 सीट, दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 8 सीट, तीसरे चरण में 23 अप्रैल को 10 सीट, चौथे चरण में 29 अप्रैल को 13 सीट, पांचवें चरण में 6 मई को 14 सीट, छठे चरण में 12 मई को 14 सीट और सातवें चरण में 19 मई को बची हुई 13 सीटों पर चुनाव.

पश्चिम बंगाल (सात चरण- 42 सीट)- पहले चरण में 11 अप्रैल को 2 सीट, दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 3 सीट, तीसरे चरण में 23 अप्रैल को 5 सीट, चौथे चरण में 29 अप्रैल को 8 सीट, पांचवें चरण में 6 मई को 7 सीट, छठे चरण में 12 मई को 8 सीट और सातवें चरण में 19 मई को बची हुई 9 सीटों पर चुनाव.

चुनाव आयोग ने इस बार नया क्या किया?

इस बार के लोकसभा चुनाव में पिछले या यूं कहें कि अब तक के लोकसभा चुनाव से कुछ अलग और नई चीजें हुई हैं. चलिए जानते हैं इनके बारे में-

- अभी तक वोटिंग मशीन में सिर्फ उम्मीदवार का चुनाव चिन्ह दिखता था, लेकिन अब उसके साथ उम्मीदवार की तस्वीर भी दिखेगी.

- इस बार कुल 10 लाख पोलिंग बूथ होंगे, जबकि पिछली बार इनकी संख्या करीब 9 लाख थी.

- हर बूथ पर वीवीपैट का इस्तेमाल होगा, ताकि मतदाता ये सुनिश्चित कर सके कि उसका वोट सही व्यक्ति को गया है.

- लोकसभा चुनाव के लिए एक हेल्पलाइन नंबर 1950 भी जारी किया है.

- चुनाव के दौरान रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउड स्पीकर बजाने पर रोक लगाई गई है.

- इस बार के लोकसभा चुनाव में मतदाता चुनाव आयोग के एक ऐप (C-VIGIL) का इस्तेमाल करते हुए आचार संहिता का उल्लंघन या फिर किसी तरह की अनियमितता के बारे में चुनाव आयोग को शिकायत कर सकता है. अक्सर सबूतों के अभाव में आरोपी बच जाते थे, लेकिन इस ऐप के जरिए तस्वीरें और वीडियो आरोपी का पूरा सच जगजाहिर कर देंगे.

- मनी ट्रांजेक्शन जैसी शिकायतों पर एक्शन लिया गया है, ये बताने के लिए एक्शन की खबर को इलाके के लोकल अखबार में प्रकाशित भी करवाया जाएगा. इससे गुप्त शिकायतकर्ता तो भी पता चल सकेगा कि आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई हुई या नहीं.

ये भी पढ़ें-

यूपी की 7 खानदानी सीटें जीतने के बीजेपी के ख्वाब अधूरे न रह जाएं

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के पहले 15 उम्‍मीदवारों में से कितने जीतेंगे?

...तो मां गंगा ने जिस काम के लिए बुलाया था मोदी ने पूरा कर दिया!

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय