होम -> ह्यूमर

 |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 20 दिसम्बर, 2020 06:36 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

Taimur Ali Khan Birthday : 20 दिसंबर 2016 होने को तो एक आम सी तारीख थी मगर क्योंकि कोहरा, धुंध और जाड़ा बहुत था हम उत्तर भारतीय जहां अपने अपने कंबलों में पड़े भाई, पत्नी या फिर रूम पार्टनर से उस कंबल के लिए लड़ाई लड़ रहे थे. छोटे नवाब की पत्नी करीना कपूर (Kareena Kapoor) लेबर में थीं और अस्पताल में भर्ती थीं. आज ही के दिन पटौदी खानदान ने वो इतिहास रचा था जो दुनिया के तमाम बच्चों और उनके मां बाप के लिए एक मिस्ट्री है. आज का दिन तैमूर (Taimur Ali Khan) के नाम है. आज सैफ अली खान (Saif AAli Khan) के बेटे और सारा अली खान के छोटे भइया तैमूर अली खान का 'हैप्पी बर्थडे टू यू' है. 2016 से 2020 हो गया है. वो तैमूर जो अपनी आया या अमीरों की भाषा में कहें तो 'मेड' की गोद में सुसू करते थे न एक कम, न एक ज्यादा. पूरे 4 साल के हो गए हैं.

Taimur, Taimur Ali Khan, Birthday, Kid, Saif Ali Khan, Kareena Kapoor, Satireतैमूर अली खान का बर्थडे है और इस खास बर्थडे का जिक्र होना ही चाहिए

देखा जाए तो अब तैमूर इस काबिल हैं कि वो वो मॉम करीना और डैड सैफ को बता सकें कि उन्हें पोकेमॉन वाला चॉकलेट केक खाना है. या फिर वो एग-लेस वनीला केक से इस कोरोना काल में दोस्तों और क्लोज कजिंस के साथ बर्थडे मना लेंगे.

सच में कमाल का बच्चा और कमाल की किस्मत है तैमूर की. ऐसी की उम्र के इतने बसंत देख चुके हम लोगों को भी रश्क हो. नहीं मतलब ख़ुद सोचिए. जिस उम्र में हमारे आपके बच्चों पर डाबर का लाल तेल लगाके उनकी हड्डियों को मजबूत बनाया जा रहा हो और उस लाल तेल के कारण मक्खियां उनपर भिन भिना रही हों और बच्चे को गोद में लेने से पहले हमें 5 बार ये सोचना हो कि कहीं शर्ट न खराब हो जाए उस उम्र में तैमूर जब अपनी लार से गुब्बारा बना रहे थे तो देश की मीडिया उस गिरती हुई लार पर न केवल मंत्रमुग्ध थी बल्कि डूबी हुई थी.

न्यूज़रूम में तैमूर को लेकर घंटों-घंटों बड़े बड़े पैकेज चल रहे थे. अरे भाई ये सब भौकाल आम आदमी और उसके बच्चों को नहीं, बल्कि तैमूर या ये कहें कि तैमूर अली खान पटौदी जैसे बच्चे को ही मिलता है. जिस बच्चे का फेंका हुआ डाइपर भी तमाम बड़े-छोटे, लंबे-छोटे पत्रकारों की रोजी रोटी का जरिया हो उसके बर्थडे पर तो देश की मीडिया को एक दिन के राष्ट्रीय अवकाश की मांग कर देनी चाहिए थी. लेकिन ख़ैर यूं ही कोई बेवफ़ा नहीं होता हर किसी की अपनी मजबूरियां होती हैं.

बात सीधी और एकदम स्पष्ट है 'एक्सक्लूसिव' के नाम पर क्यूट फ़ोटो पाने की लालच में उस दौर से लेकर आजतक जिस तरह मीडिया के कैमरे तैमूर के पीछे दौड़े हैं ये कहना अतिश्योक्ति नहीं है कि वो तो अच्छा था कि सैफ अली खान के पास पुश्तैनी पैसा था कोई हमारे आपके जैसा होता तो उस 'जगत क्यूट' बच्चे पर टिकट लगाकर शहर के आउट स्कर्ट्स में 4-6 जमीन लेकर प्रॉपर्टी खड़ी कर लेता.

बहरहाल आज सैफ़ और करीना के घर तैमूर की किलकारियां गूंजी थीं. तैमूर नाम शौक में रखा गया है. 'शौक़' बड़ी चीज़ है, 'छोटे नवाब' को बड़ी चीज़ों का शौक़ था. ग्लोबल इतिहास में 'तैमूर' एक बड़ी चीज़ है.

ये भी पढ़ें -

'इंटिमेट सीन्स' करने पर एक्ट्रेस को पति का डांटना, और फिर सुसाइड...

क्या Purushapura जैसी बोल्ड और इंटिमेट वेब सीरीज के लिए तैयार हैं भारतीय दर्शक?

सना खान को पति के दिल का मलाल पहले पता होता तो बॉलीवुड कभी न छोड़तीं

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय