होम -> ह्यूमर

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 04 सितम्बर, 2020 01:48 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

मनोविज्ञान एक बड़ा ही रोचक विषय है, जो हमें इंसानी फितरत से रू-ब-रू कराता है. आप चाहे मनोविज्ञान के मोटे मोटे ग्रंथ पढ़ अपनी आंखें फोड़ लीजिये या फिर किसी दिलजले मनोवैज्ञानिक की बातें सुन लीजिये ज्यादातर मामलों को देखने पर मिलेगा कि एक इंसान कभी दूसरे इंसान को ख़ुश देख ही नहीं सकता. उसे मजा तब आता है जब अगले का नुकसान हो. व्यवहारिकता में ऐसे इंसान को 'जलकुकड़ा' कहा गया है. इंसान ऐसी टुच्चई करे और किसी दूसरे के दुख में हंसे तो समझ में आता है कि ये इसकी फितरत में है इसलिए ये ऐसा करेगा ही लेकिन तब क्या? जब तकनीक (Technology) भी इसी ढर्रे पर उतर जाए और इंसान की बनाई हुई ऐप्स भी इसी टुच्चई का पालन करें? दरअसल हुआ कुछ यूं है कि भारत में पब्जी (Pubg Ban In India) पर मोदी सरकार (Modi Govt) द्वारा लगाए प्रतिबंध के बाद टिंडर ने यहां इंडिया में ट्विटर (Twitter) पर बैठकर चुटकी ली. अभी टिंडर ट्विटर पर बैठकर आए हुए रिप्लाई का आनंद ले ही रहा था कि जो टिंडर के साथ पाकिस्तान की हुकूमत ने किया (Tinder Banned In Pakistan) उसके बाद उसके दिल के अरमां आंसुओं में बह गए और सीख मिली कि चाहे इंसान हो या ऐप हमें किसी के गम में हंसना नहीं चाहिए.

Pakistan, Tinder, App, Ban, Pubg Ban, Pubg, Indiaपाकिस्तान में टिंडर बंद होने के बाद गम का माहौल है

दरअसल हुआ कुछ यूं है कि अभी बीते दिनों ही भारत ने पॉपुलर गेमिंग एप Pubg समेत 118 चीनी ऐप्स को बैन कर दिया है. जून के बाद ये तीसरी बार है जब भारत ने चीन पर इस तरह की डिजिटल स्ट्राइक की. भारत का ऐसा करना भर था डेटिंग ऐप टिंडर को पब्जी गेमर्स की मौज लेने का बहाना मिल गया.

भावों में बहकर टिंडर ने इस दुख की घड़ी में गेमर्स पर निशाना साधते हुए कहा कि 'ये जो बायो में गेमर लिखा है इसका क्या करना है?' अपने इस ट्वीट पर आए हुए रिप्लाई से टिंडर हंस हंस कर अभी लोट पोट हो ही रहा था कि जो उधर पाकिस्तान में हुआ उसने टिंडर का दिन का चैन और रातों की नींद हराम कर दी.

पाकिस्तान ने हिंदुस्तान में बहुत उड़ रहे टिंडर के पर कुतरते हुए उसे अपने मुल्क में बैन कर दिया है. टिंडर के अलावा पाकिस्तान में 4 ऐप्स और बैन कर दिये हैं.जो जानते हैं ठीक है जो नहीं जानते हैं वो समझ लें कि इमरान खान ने अपने फैसले के पीछे की वजह इन एप्स द्वारा स्थानीय कानूनों का पालन नहीं करना बताया है. दिलचस्प ये है कि पाकिस्तान की तरफ से लगातार ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स को 'अनैतिक सामग्री' वाला बताते हुए तमाम तरह के प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं.

पाकिस्तान ने ऐसा क्यों किया? इसकी एक बड़ी वजह मज़हब भी है. एक मुस्लिम देश होने की वजह से पाकिस्तान में विवाहेत्तर संबंध और समलैंगिकता को गैरकानूनी माना गया है और जमाना जानता है कि टिंडर जो है अपना यही छिछोरापन उसकी यूएसपी है. इसी की रोटी खा रहा है वो. शायद आपको सुनकर हैरत हो अगर पाकिस्तान में कोई व्यक्ति 'इधर - उधर' मुंह मारता हुआ पाया जाता है तो पाकिस्तान के मिस्टर प्राइम मिनिस्टर और उनकी हुकूमत उसका 'सीधा' रास्ता दिखा देते हैं.

अरे भइया ऐसा पाकिस्तान के संविधान में लिख दिया गया है तो लिख दिया गया है. बस बात खत्म.

पाकिस्तान दूरसंचार प्राधिकरण (पीटीए) ने कहा है कि, हमने पांच एप्स के प्रबंधन को नोटिस भेजा है, जिसमें कहा गया है कि उन्हें यह बताया गया है कि उनके एप्स पर अनैतिक और अश्लील सामग्री प्रसारित हो रही हैं.

बहरहाल पाकिस्तान से जो ये खबर आई है उसके बाद कहा यही जा सकता है कि हिंदुस्तान में जो हाल पब्जी यूजर्स का है वैसा ही कुछ हाल पाकिस्तान में उन यूजर्स का है जो टिंडर पर लड़कियों से फ्लर्ट करते थे. दुख, दुख है वो छोटा बड़ा  नहीं होता. इस मामले में टिंडर को कुछ मिला हो या न मिला हो लेकिन एक सीख ज़रूर मिली है कि चाहे ग़म दुश्मन का भी क्यों न हो मगर उसे देखकर खुश तो हरगिज़ नहीं होना चाहिए.

ये भी पढ़ें -

PUBG Ban: चीन पर Tiktok की तर्ज पर एक और हमला!

चीन की चालाकी के पीछे क्या है उसकी असली चाल, जानिए...

इजराइली विमान अबू धाबी में उतरा, मानो चंद्रमा पर इंसान ने कदम रखा!

Pakistan, Tinder, App

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय