होम -> सिनेमा

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 21 नवम्बर, 2019 01:53 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

रानू मंडल के मेकअप (Ranu Mandal makeup) की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं. उन्हें भूत, चुड़ैल आदि नामों से बुलाया जा रहा है. क्योंकि वायरल तस्वीरों में रानू का मेकअप उनकी स्किन टोन से काफी लाइट दिखाई दे रहा है. लोगों ने रानू मंडल का खूब मजाक बनाया, उन्हें इतना कुछ कहा गया है कि अब और कहने के लिए शब्द भी नहीं हैं. लेकिन ऐसा करके लोगों ने अपनी मानसिकता का परिचय जरूर दिया है. सोशल मीडिया trolls तो अच्छे-अच्छे सेलिब्रिटी को नहीं बख्शते, फिर रानू मंडल तो उनके लिए सड़कों पर गाना गाने वाली एक भिखारिन थीं. उन्हें भला क्यों और कैसे छोड़ दिया जाता.

ranu mandal makeupरानू मंडल की ये तस्वीरें वायरल हो रही हैं

रानू मंडल को कुछ दिन पहले कानपुर के एक ब्यूटीपार्लर ने एक फंक्शन में बुलाया. रानू का वहां मेकओवर किया गया. और उन्हें रैंप पर वॉक भी करवाई गई. लेकिन इस कार्यक्रम की तस्वीरें बाहर आते ही वायरल हो गईं. इन तस्वीरों को देखकर मैं बहुत दावे के साथ कह सकती हूं कि ये फेक हैं. तस्वीरों पर एडिटिंग करके और एप के तमाम तरह फिल्टर से गुजरकर तस्वीर का ये हाल हुआ है कि उसमें रानू मंडल का चेहरा सामान्य नहीं बल्कि सफेद नजर आ रहा है. जबकि उस ईवेंट की बाकी तस्वीरों में रानू मंडल का मेकअप सामान्य है. जरा भी heavy और fake नजर नहीं आता.

ranu mandal makeupरानू मंडल की इन तस्वीरों में मेकअप बिल्कुल सही है

रानू का मेकअप करना बर्दाश्त क्यों नहीं?

दरअसल रानू मंडल का मेकअप लगाना ही लोगों को पच नहीं पाया. सड़कों पर गाने वाली महिला खूबसूरत कपड़े और चमचमाते गहने पहने, शानदार सा मेकअप करे, रैंप पर वॉक भी करे तो ये भला कैसे बर्दाश्त होता. क्योंकि रानू को भले ही सड़क से उठाकर स्टूडियो में खड़ा कर दिया गया लेकिन लोगों की नजरों में रानू की छवि आज भी सड़कों पर ही खड़ी है. बहुत से लोग Ranu Mandal को उसी तरह देखकर ही संतुष्ट हो पाते हैं. उसकी किस्मत का बदल जाना कुछ लोगों को अंदर तक हर्ट करता है.

रानू की किस्मत अब बदल चुकी है. एक प्यार का नगमा है गाने का वीडियो वायरल होने के बाद इंटरनेट सेंसेशन तो वो पहले ही बन गई थीं. उसके बाद Himesh Reshammiya के साथ रिकॉर्डिंग के वीडियो ने उन्हें सेलिब्रिटी भी बना दिया. क्योंकि अब रानू मंडल का नाम बॉलीवुड के प्लेबैक सिंगर की लिस्ट में आ गया है. तो सेलिब्रिटी से कम तो वो नहीं हैं. और वैसे भी रानू की किस्मत पलटने के बाद मीडिया उनसे जुड़ी हर छोटी सो छोटी बात को पहाड़ की तरह बना देता है. इंटरनेट पर रानू मंडल की चर्चा किसी भी दूसरे सेलिब्रिटी की तरह ही होती है.

रानू मंडल के साथ जो कुछ समाज ने किया वो अच्छा नहीं है

एक भले आदमी ने रानू का गाना सुना, उसे अच्छा लगा तो उसने उसे इंटरनेट पर अपलोड कर दिया. वो गाना बहुत सारे लोगों को अच्छा लगा, इसलिए वायरल हो गया. वो गाना हिमेश रेशमिया को भी अच्छा लगा तो उन्होंने एक योग्य और असमर्थ महिला को उसकी योग्यता के हिसाब से काम भी दिया. मैं फिर कहती हूं 'योग्यता के हिसाब से'. क्योंकि कुछ लोग इसपर हिमेश रेशमिया और लताजी तक को लताड़ चुके हैं. हिमेश रेशमिया को सुनाया गया कि उन्होंने रानू मंडल का इस्तेमाल किया, फिल्म में गाने का मौका तो दिया लेकिन सिर्फ एक लाइन और अलाप. Himesh Reshamiya को कोसने वालों ने ये भी नहीं सोचा कि फिल्म में एक लाइन गाने का सपना कितने ही लोग सालों से देख रहे हैं. लेकिन उन्हें मौका नहीं मिलता. और वैसे भी रानू जैसा गाती हैं उसे सिर्फ संगीत समझने वाला व्यक्ति ही जानता है. ऐसे में लता जी ने जब रानू मंडल को किसी की कॉपी न करने की सलाह दी तो ये समाज लताजी पर भी राशन पानी लेकर चढ़ गया. हैरानी हुई थी ये देखकर.

रानू मंडल और हिमेश रेशमिया का गाना तेरी मेरी कहानी के मार्केट में आते ही रानू मंडल स्टार बन चुकी थीं. और अब इस स्टार के नखरे वाला वीडियो शेयर किया गया. ये बताया गया कि उन्होंने एक महिला फैन की बेइज्जती की. कभी उनपर मीडिया की बेइज्जती करने के आरोप लगे तो कभी सही तर से बात नहीं करने के. मुझे समझ में नहीं आता कि आप उस महिला से ये उम्मीद भी कैसे कर लेते हो कि वो सेलिब्रिटी जैसी नजाकत, और स्टाइल एकदम से अपना लेंगी. वो महिला जो मीडिया के सामाने भी चिप्स खाते खाते जवाब दे रही हो उसका भोलापन क्या किसी को नजर नहीं आता? रानू जिस परिवेश से आई हैं वहां उन्होंने पेट भरने के लिए गाना गाकर रोटी कमाना सीखा था, स्टाइल और सेल्फ ग्रूमिंग नहीं.

रानू मंडल धीरे-धीरे कदम बढ़ा रही हैें, उनका अच्छा समय चल रहा है तो नाम और काम दोनों मिल रहा है. और बाकी लोग भी रानू मंडल के नाम का इस्तेमाल करके अपनी वाहवाही करवा रहे हैं. कानपुर में रानू को बुलाकर वो पार्लर वाले यही बताना चाहते थे कि जिस तरह रानू की किस्मत बदली उसी तरह वो रानू का हुलिया बदल सकती हैं. यानी रानू के नाम पर अपनी पब्लिसिटी. उसी तरह मीडिया भी यही कर रहा है. और सोशल मीडिया भी. रानू को एक सामान्य और उभरती हुई गायिका की तरह रहने दिया होता तो ही अच्छा था. उसका कसूर सिर्फ इतना था कि वो सड़कों पर गाना गाती थी, गरीब थी और इतनी शोहरत की हकदार नहीं लगती थी जितनी आज उसे मिल रही है. और उसकी यही बातें उसकी दुश्मन बन गई हैं. वरना बॉलीवुड में ऐसे तमाम लोग शोहरत की सीढ़ियां चढ़ चुके हैं जो एक समय ऐसा ही जीवन जी रहे थे. इस समाज ने रानू मंडल के साथा जो कुछ भी किया, वो बहुत क्रूर है.

ये भी पढ़ें-

सबसे अच्‍छी कॉमेडी की Good newws आएगी 2019 के सबसे आखिर में!

Lal Singh Chaddha के रूप में Aamir Khan बहरूपिया नहीं तो और क्या हैं?

Manushi Chhillar के पास फिल्‍मों की ही डॉक्‍टरी करने का रास्‍ता बचा है!

 

Ranu Mandal, Himesh Reshammiya, Makeup

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय