charcha me| 

सिनेमा

 |  4-मिनट में पढ़ें  |   03-12-2018
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujmaurya87
  • Total Shares

बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा की शादी की चर्चा तो खूब हो रही है, लेकिन आलोचना के साथ. वजह है एक नादानी, जिसने प्रियंका को आलोचनाएं झेलने पर मजबूर कर दिया है. दरअसल, अपनी शादी में प्रियंका चोपड़ा ने वो काम किया है, जिसे करने के लिए वह पूरे देश से मना करती रहीं. वो काम है प्रदूषण. दिवाली के दौरान तो उन्होंने लोगों से पटाखे तक नहीं फोड़ने की गुजारिश की थी, लेकिन उनकी खुद की शादी में जो आतिशबाजी हुई, उसे देखकर ये नहीं लगता कि प्रदूषण को लेकर उन्हें कोई चिंता है. और संयोग भी देखिए, शादी के एक दिन बाद यानी 2 दिसंबर को ही 'नेशनल पॉल्यूशन कंट्रोल डे' मनाया जा रहा है. अब सवाल ये है कि जब प्रियंका चोपड़ा खुद ही इतना प्रदूषण फैला रही हैं, तो लोगों को किस मुंह से रोकती हैं?

प्रियंका चोपड़ा, शादी, प्रदूषण, सोशल मीडियाअपनी शादी में प्रियंका चोपड़ा ने वो काम किया है, जिसे करने के लिए वह पूरे देश से मना करती रहीं.

कहां हुई आतिशबाजी?

1 दिसंबर को जोधपुर के उमेद भवन पैलेस में प्रियंका चोपड़ा और निक जोन्स ने ईसाई धर्म के अनुसार शादी की. जब प्रियंका के फैन उनकी शादी की तस्वीरें देखने का इंतजार कर रहे थे, उसी दौरान आसमान में घंटों तक आतिशबाजी होती रही. किसी शादी में आतिशबाजी चार-चांद लगा देती है और प्रियंका की शादी में भी यही हुआ. लेकिन आतिशबाजी के चक्कर में शायद प्रियंका चोपड़ा ये भूल गईं कि वह सिर्फ एक लड़की या हीरोइन नहीं हैं, जिसकी शादी हो रही है, बल्कि वह प्रदूषण के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान का मुख्य चेहरा हैं. वह भूल गईं कि इतनी आतिशबाजी से कितना प्रदूषण होगा. शादी की खुशी में वह इतना खो गईं कि ये भी याद नहीं रहा कि वह प्रदूषण के सख्त खिलाफ हैं. देखिए दिवाली के दौरान उन्होंने क्या कहा था?

प्रियंका चोपड़ा ने दिवाली पर पटाखे फोड़ने के लिए मना किया था. हवाला दिया था कि उनके जैसे अस्थमा के मरीजों को पटाखों से होने वाले प्रदूषण से काफी दिक्कत होती है. लेकिन अब उनके फैन प्रियंका से यही सवाल पूछ रहे हैं कि आखिर उनकी ही शादी में इतनी अधिक आतिशबाजी क्यों की गई? आतिशबाजी के कई वीडियो इंटरनेट पर खूब वायरल हो रहे हैं, जिनमें साफ देखा जा सकता है कि कितना प्रदूषण हुआ है.

जहां एक ओर प्रियंका चोपड़ा अपनी शादी की खुशी में सब कुछ भूल कर आतिशबाजी में खोई हुई हैं, वहीं 'नेशनल पॉल्यूशन कंट्रोल डे' के मौके पर गायक ए आर रहमान ने प्रदूषण पर रोक लगाने की गुजारिश करते हुए ट्वीट किया है.

दिलचस्प बात ये है कि प्रियंका चोपड़ा Breathfree की ब्रांड अंबेसडर हैं. यह एक अस्थमा से जुड़ा से हुआ कैंपेन है, जिसमें इससे जुड़े मिथकों के बारे में बताया जाता है. वह इसके जरिए इनहेलर का इस्तेमाल करने को बढ़ावा देती दिखती हैं, ताकि सही इलाज मिल सके.

इतना सब होने के बावजूद अब जब प्रियंका चोपड़ा की शादी में ही प्रदूषण फैलता हुआ दिख रहा है, तो ट्विटर पर उनकी तमाम वीडियो, तस्वीरों और मीम के जरिए उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया गया है. लोग अपना गुस्सा ट्विटर पर निकाल रहे हैं और प्रियंका चोपड़ा की आलोचना कर रहे हैं. कई तो ये भी कह रहे हैं कि उन्हें प्रदूषण के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान से हटा दिया जाना चाहिए. जब आतिशबाजी हो रही थी तब भले ही प्रियंका चोपड़ा अपनी शादी की खुशी में सब भूल गईं, लेकिन अब उन्हें जनता के सामने आकर माफी मांगनी ही चाहिए. उन्हें इस बात का अहसास होना जरूरी है कि वह प्रदूषण के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान की ब्रांड अंबेसडर हैं.

ये भी पढ़ें-

जो रजनीकांत की फिल्म 2.0 महीने भर में नहीं कर पाई, वो कमाल इस गाने ने बस 1 दिन में कर दिया

क्या दीपिका के न्यौते को स्वीकारेंगी कटरीना?

सॉरी ऋतिक, तुम्हारी प्यारी 'फैमिली' फोटो में प्रेरणा नहीं दिखती

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय