होम -> टेक्नोलॉजी

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 30 सितम्बर, 2019 11:25 AM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujmaurya87
  • Total Shares

Maruti Suzuki S-Presso आज यानी 30 सितंबर को बाजार में लॉन्च होने वाली है. जी हां, इसका नाम है S-Presso. ये नाम किसी कॉफी जैसा भले ही लग रहा है, लेकिन उम्मीद की जा रही है कि इसके फीचर्स और डिजाइन मार्केट लोगों को खूब पसंद आएंगे. वैसे ये कार उन लोगों के लिए बड़े ही काम की साबित होगी जो 3-5 लाख रुपए में एसयूवी जैसा मजा लेना चाहते हैं. यानी कीमत मारुति अल्टो से कुछ ज्यादा और फीचर्स एसयूवी जैसे. ऊंची गाड़ी चलाने की ख्वाहिश तो बहुत से लोगों की होती है, लेकिन हर कोई महंगी एसयूवी नहीं खरीद पाता है. मारुति ऐसे लोगों के लिए S-Presso गाड़ी ला रही है, जो एसयूवी का फील तो दे ही देगी. यहां ये भी जान लीजिए कि ये कार मारुति सुजुकी की 5वीं जनरेशन के हर्टेक्ट प्लेटफॉर्म पर बनी है, जिस पर वेगन-आर, स्विफ्ट, डिजायर, एर्टिगा, इग्निस और बलेनो जैसी कारें बनी हैं. वैसे अभी तक ये कार लॉन्च हुई नहीं है, सिर्फ कॉन्सेप्ट कार ही लोगों ने देखी है. कुछ तस्वीरें लीक हुई हैं, लेकिन वह कितनी सही होंगी या डिजाइन में कितना फर्क होगा, ये देखना दिलचस्प रहेगा. देखते हैं पिछले 15 सालों से लोगों के दिलों पर राज कर रही मारुति अल्टो को कंपनी की ये नई कार रिप्लेस कर पाती है या फिर मुंह की खाती है.

मारुति, कार, एसयूवीमारुति सुजुकी की ये नई कार S-Presso लोगों को एसयूवी वाला फील देगी.

फीचर्स पर एक नजर डालना जरूरी

Maruti Suzuki S-Presso की लंबाई 3,565 mm, चौड़ाई 1,520 mm, ऊंचाई 1,564 mm, व्हील बेस 2,380 mm, ग्राउंड क्लीयरेंस 180 mm, फ्यूल टैंक 27 litre और व्हील 14-inch के होने की उम्मीद है. इसके अलावा इसमें 3 सिलेंडर 1 लीटर बीएस-6 इंजन होगा, जो 68 हॉर्स पावर और 90 न्यूटन मीटर का टॉर्क देगा. S-Presso में 5 गियर होने की उम्मीद है, जो 24 किमी. की माइलेज देगी.

Maruti Alto रह जाएगी पीछे !

27 सितंबर 1999 को भारतीय बाजार में लॉन्च होने के बाद Maruti Alto एक के बाद एक रिकॉर्ड बनाती रही. 2006 से ही मारुति अल्टो भारत की सबसे अधिक बिकने वाली कार है. 2008 में मारुति 800 और मारुति ओम्नी के बाद मारुति अल्टो इस कंपनी तीसरी ऐसी कार बन गई थी, जिसकी 10 लाख से अधिक कारें बनाई गई थीं. 2014 में तो ये कार छोटी कारों में पूरी दुनिया में सबसे अधिक बेची जाने वाली कार रही. 2014 में कुल 2,64,544 मारुति अल्टो बेची गई थीं, जबकि दूसरे नंबर पर जर्मनी की फॉक्सवेगन गोल्फ थी, जिसकी 2,55,044 कारें बिकी थीं. भारत में पिछले 15 सालों में Maruti Alto बेस्ट सेलिंग कार रही है. इसकी शुरुआती कीमत 2.93 लाख है, जो अधिकतम 3.71 लाख तक जाती है.

वहीं दूसरी ओर S-Presso की कीमत के बारे में तो अभी तक खुलासा नहीं हुआ, लेकिन क्योंकि ये Renault Kwid को टक्कर देने वाली कार होगी, तो इसकी कीमत 3-5 लाख के बीच हो सकती है. आपको बता दें कि Renault Kwid की कीमत 2.76 लाख से शुरू होती है, जो 4.75 लाख रुपए तक जाती है. यानी अगर सब कुछ उम्मीदों के मुताबिक हुआ तो जिस तरह मारुति अल्टो ने मारुति 800 को पछाड़ दिया था, हो सकता है कि अब मारुति अल्टो को Maruti Suzuki S-Presso पीछे छोड़ दे. वैसे भी, अल्टो में स्पेस की दिक्कत हमेशा ही रही, जिसका समाधान इस नई कार में कर दिया गया है, ऊपर से इसके साथ स्वदेशी का टैग भी लगा हुआ है.

मारुति, कार, एसयूवीMaruti Suzuki S-Presso के ये तस्वीर लीक हुई है, लेकिन असल कार इसके कितनी करीब होगी, ये तो 30 सितंबर के बाद ही पता चलेगा.

स्वदेशी कार, जापान का कोई हाथ नहीं

मारुति सुजुकी की सारी गाड़ियां जापान में सुजुकी डिजाइन करती है, जिसे भारत में मारुति बनाकर बेचती है. यानी मारुति को हर गाड़ी बेचने पर सुजुकी को कुछ पैसे रॉयल्टी के देने होते हैं. लेकिन इस मामले में S-Presso बिल्कुल अलग है, जो एक स्वदेशी कार है. जिस तरह मारुति की Brezza गाड़ी पूरी तरह से भारत में डिजाइन हुई और बनी है, वैसे ही S-Presso भी पूरी तरह से भारत में डिजाइन हुई है और यहीं बनी है. ये मारुति की दूसरी स्वदेशी कार है. मारुति की S-Presso में बीएस-6 इंजन होगा, जो कम प्रदूषण फैलाएगा.

मारुति, कार, एसयूवीMaruti Suzuki S-Presso कार को पूरी तरह से भारत में ही बनाया गया है, जो रेनॉ क्विड को टक्कर दे सकती है.

Renault Kwid को टक्कर देना है मकसद

वैसे तो इसकी तस्वीर देखकर ही आप समझ गए होंगे कि ये कार किसे टक्कर देने वाली है. जी हां, ये कार Renault Kwid को टक्कर देगी. आपको बता दें कि Renault Kwid ने मार्केट में आते ही धूम मचा दी थी, लोगों ने Renault Kwid कार को काफी सराहा था. अब मारुति इसे टक्कर देगी S-Presso से और पूरी उम्मीद है कि ये टक्कर देने में कामयाब भी हो जाएगी. वैसे भी, मारुति सुजुकी में लोगों का एक भरोसा है, जिसके दम पर कंपनी S-Presso पर दाव लगाकर कम से कम सेमी अरबन और रूरल इलाकों में तो छा ही जाएगी. इस कार का ग्राउंड क्लीयरेंस 180 मिमी. का है. ऐसे में ऊबड़-खाबड़ और गड्ढों भरे रास्तों वाले इलाकों के लिए तो ये कार बहुत ही अच्छी है.

Maruti Suzuki S-Presso VS Renault Kwid

बात अगर लंबाई, चौड़ाई, ऊंचाई, व्हील बेस या ग्राउंड क्लीयरेंस की करें, तो इनमें बस उन्नीस-बीस का फर्क ही होगा. हालांकि, क्विड के मुकाबले S-Presso थोड़ी अधिक ऊंची है. इंजन दोनों ही कारों में एक जैसा है, बस फर्क इतना है कि क्विड में बीएस-4 इंजन है, जबकि S-Presso में बीएस-6 इंजन मिलेगा, जो कम प्रदूषण फैलाएगा. दोनों ही कारों का माइलेज भी लगभग एक जैसा 23-24 किमी. प्रति लीटर है. इसकी कीमत भी रेनॉ की क्विड के करीब यानी 3-5 लाख के बीच ही रहने की उम्मीद है. कीमत और फीचर से लेकर माइलजे तक, हर मामले में S-Presso बेहतर ही लग रही है, लेकिन यह कितनी सफल होगी, ये तो 30 सितंबर को इसकी लॉन्चिंग के बाद ही पता चलेगा.

ये भी पढ़ें-

लैंडर विक्रम पर ISRO चीफ की बातें उम्‍मीद जगाती हैं, नाउम्‍मीदी भी

लैंडर विक्रम 2.1 किमी नहीं, 400 मीटर की ऊंचाई तक संपर्क में था!

Apple TV+ ने Netflix की जमीन हिलाकर नए संग्राम का आगाज कर दिया है

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय