charcha me |  

होम -> स्पोर्ट्स

 |  7-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 17 जून, 2019 06:41 PM
श्रुति दीक्षित
श्रुति दीक्षित
  @shruti.dixit.31
  • Total Shares

India Vs Pakistan का मैच देखने का रोमांच कुछ अलग ही होता है. खास तौर पर तब जब ICC World Cup का मैच हो. 16 जून को भारत ने सातवीं बार पाकिस्तान को क्रिकेट के सबसे बड़े मुकाबले में हरा दिया. भारत का रिकॉर्ड 7-0 का है और ये रिकॉर्ड तोड़ने के लिए अब पाकिस्तान को अगले 4 साल इंतजार करना होगा. पाकिस्तान बुरी तरह से हारने वाला है इसका अंदाजा क्रिकेट पंडितों ने तभी लगा लिया था जब पहला विकेट लेने के लिए पाकिस्तानी बॉलरों को बहुत मुश्किलें झेलनी पड़ी थीं. Manchester में खेले गए इस मैच में पाकिस्तानी टीम की हार का ठीकरा किसी के सिर तो फोड़ना था तो उसका गुस्सा निकाला गया है बर्गर पर. भारत Duckworth–Lewis–Stern method (DLS) के जरिए 89 रनों से जीत गया और उसके बाद जिस तरह से पाकिस्तानी क्रिकेट फैन्स का गुस्सा सामने आया है वो यकीनन देखने लायक है.

सोशल मीडिया पर कई वीडियो, फोटो और ट्वीट के जरिए पाकिस्तानी क्रिकेट टीम पर गुस्सा निकाला जा रहा था. कई लोगों ने तो कैप्टन सरफराज़ के साथ Pakistan Cricket Board के कई लोगों को निकालने की बात भी कह दी. इसमें शोएब मलिक, इंजमाम उल हक जैसे लोग भी शामिल थे.

भारत और पाकिस्तान का मैच 25 ओवर के बाद ही एकतरफा हो गया था.भारत और पाकिस्तान का मैच 25 ओवर के बाद ही एकतरफा हो गया था.पाकिस्तानी विदेश मंत्री चाहते हैं और मैच-

16 जून को वर्ल्ड कप हारने के बाद पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरेशी का कहना था कि पाकिस्तान और भारत को और क्रिकेट मैच खेलने चाहिए. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने जहां एक ओर इस खेल को आगे बढ़ाया है वहीं दूसरी ओर भारत-पाकिस्तान के खेल से न सिर्फ रिश्तों में सुधार होगा बल्कि ये खेल के बेहतर प्रदर्शन के लिए भी जरूरी है. ये स्टेटमेंट शाह महमूद कुरेशी ने रेडियो पाकिस्तान को दिया था. कुरेशी खुद खेल के समय स्टेडियम में मौजूद थे.

पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब अख्तर ने भी ट्वीट कर अपना गुस्सा जाहिर किया और कहा कि वो बेहद निराश हैं और अब पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को वर्ल्ड कप में बने रहने के लिए सारे मैच जीतने होंगे.

इसके जवाब में कई फैन्स ने क्रिकेट टीम के सबसे खराब प्लेयर्स की लिस्ट भी जारी की. सभी का कहना है कि सरफराज़ अहमद को पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कैप्टन के पद से हटाया जाना चाहिए.

जहां एक ओर मैच हारने के लिए इस तरह की बातें हो रही थीं और दुखी फैन्स सरफराज़ का इस्तीफा मांग रहे थे वहीं पाकिस्तानी क्रिकेट टीम का और गुस्साए फैन्स का एक दूसरा पहलू भी था.

एक बर्गर ने हरवा दिया मैच?

सोशल मीडिया पर लोग बर्गर को कोस रहे हैं जो सरफराज़ ने मैच के पहले खाए थे.

इसी के साथ, इमरान खान और वसीम अकरम का एक पुराना वीडियो वायरल हो रहा है. यहां उस वर्ल्ड कप की बात चल रही है जिसे पाकिस्तान अपने घर लेकर आया था. इमरान खान ने अपने प्लेयर्स को मैच से पहले बर्गर खाने से रोका था.

क्यों एक बर्गर नुकसानदायक है?

बर्गर खाने के तुरंत बाद शरीर में जिस तरह की प्रतिक्रिया होती है वो यकीनन खिलाड़ियों के लिए बहुत खतरनाक हो सकती है क्योंकि उससे उन्हें नींद और सुस्ती आ सकती है. खेल और वो भी इतना जरूरी खेल खेलने से पहले पाकिस्तानी टीम का बर्गर खाना खेल के साथ नाइंसाफी करना ही है. 

एक बर्गर खाने के एक घंटे के अंदर क्या होता है शरीर में...

ये लिंक आपको बता देगा कि पाकिस्तानी क्रिकेट टीम का बर्गर खाना इतनी बड़ी समस्या क्यों बन गया. 

ये किस्सा बहुत मश्हूर है क्योंकि पाकिस्तानी पीएम इमरान खान एकलौते ऐसे प्लेयर थे जिनकी रणनीति ने पाकिस्तान को वर्ल्ड कप जिताया था. इमरान खान ने मैच से पहले सरफराज़ अहमद को काफी टिप्स दिए थे लेकिन पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कैप्टन ने उसका उल्टा ही किया.

कई वीडियो में तो पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के फैन्स इतने उदास हैं कि उन्होंने अपना टीवी ही फोड़ दिया.

पाकिस्तान के साथ ये खेल एकतरफा ही रहा. ऐसा नहीं है कि भारत की तरफ से उन्हें कोई मौका नहीं मिला. एक तरफ देखिए तो टॉस जीतने के बाद पाकिस्तान के पास पहले बल्लेबाज़ी करने का मौका भी था. शिखर धवन इस टीम में नहीं थे और उसका फायदा भी पाकिस्तानी टीम उठा सकती थी. भुवनेश्वर कुमार ने मैच खेलने के 2.4 ओवर बाद ही मैदान छोड़ दिया. वो भी अब कम से कम तीन मैच के लिए बाहर हैं. रोहित शर्मा का विकेट भी एक शॉट के चक्कर में गिर गया नहीं तो वो 150 रन से पहले आउट नहीं होते. विराट कोहली ने तो बिना विकेट गंवाए ही मैदान छोड़ दिया. बाबर आउट थे, इसके लिए रिव्यू भी नहीं मांगा गया. भारतीय क्रिकेट टीम भी समझ चुकी थी कि पाकिस्तान की तरफ से कोई एफर्ट नहीं दिख रहा है और इसलिए टीम इंडिया की जीत बैटिंग के 50 ओवर खत्म होने से पहले ही हो गई थी.

कुछ लोगों ने इस खेल की हार में सानिया मिर्जा को भी घसीट लिया. कथित तौर पर पाकिस्तानी क्रिकेट टीम मैच से पहले हुक्का पीने गई थी.

ये साबित करता है कि पाकिस्तानी क्रिकेट टीम ने अपनी हार की तैयारी पहले ही कर ली थी. किसी भी खिलाड़ी के लिए खेल से एक दिन पहले इस तरह की हरकत सही नहीं रहती है. किसी खिलाड़ी के लिए अपनी फिटनेस का ख्याल रखना बहुत जरूरी होता है और ये सब कुछ एक खिलाड़ी के लिए वर्जित होता है. भारतीय टीम फिटनेस का ख्याल बहुत रखती है.

चैम्पियन्स ट्रॉफी में हारने के बाद भारत ने बहुत मेहनत की है. फिटनेस का ख्याल रखना भारतीय टीम ने बेहद अहम माना है. विराट कोहली की डायट जब वायरल हुई थी तब उनको लेकर बहुत चर्चा हुई थी. किसी भी खिलाड़ी के लिए बर्गर, पिज्जा, शीशा जैसी चीज़ें खतरनाक होती हैं.

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए पाकिस्तानी टीम कोई चैलेंज लेकर नहीं आई. चैलेंज लेकर आने का मतलब होता कि मुकाबला बराबरी का होता, लेकिन ऐसा हुआ नहीं.

अभी भी उम्मीद है पाकिस्तान को...

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को लेकर अभी भी फैन्स उम्मीद लगाए बैठे हैं. उसका कारण है 1992 का वर्ल्ड कप क्योंकि वो वर्ल्ड कप पाकिस्तानी जीता था. एक ट्वीट बहुत वायरल हो रही है कि उस वर्ल्ड कप में भी पाकिस्तान पहला मैच वेस्ट इंडीज से हारा था. दूसरा जीता था, तीसरा, चौथा और पांचवा भी इसी तरह से रिजल्ट रहा था. लेकिन उसके बाद कोई नहीं हारा.

अभी भी पाकिस्तान के पास वर्ल्ड कप की उम्मीद है, लेकिन जिस तरह शोएब मलिक ने कहा कि पाकिस्तान को इसके लिए हर मैच जीतना होगा. हर मैच में अच्छे स्कोर के साथ आगे बढ़ना होगा. अगर ऐसा नहीं किया तो पाकिस्तान के पास कोई और उम्मीद नहीं बची है. अगर पाकिस्तान जीता तो ही ऐसा हो सकता है कि भारत से फिर इस वर्ल्ड कप में उसकी टक्कर हो, अगर नहीं जीता तो यकीनन पाकिस्तान को अगले 4 साल और इंतजार करना पड़ेगा.

ये भी पढ़ें-

India vs Pakistan: इमरान खान ने टीम को 3 टिप्स दिए, खिलाड़ियों ने एक भी नहीं माने !

India vs Pak: ये 6 मैच पाकिस्तान कभी नहीं भूलेगा

लेखक

श्रुति दीक्षित श्रुति दीक्षित @shruti.dixit.31

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय