charcha me |  

होम -> स्पोर्ट्स

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 18 जून, 2019 12:52 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujkumarmaurya87
  • Total Shares

India Vs Pakistan मैच भले ही खत्म हो चुका हो, लेकिन उस पर बहस खत्म होने में अभी कई दिन लगेंगे. रविवार को हुए इस मैच में पाकिस्तान ने टॉस जीता था और पहले बॉलिंग का फैसला किया था. यहां आपको बताते चलें कि भारत-पाकिस्तान के बीच अब तक हुए 7 वर्ल्डकप मैचों में ये दूसरी बार था, जब पाकिस्तान ने टॉस जीता. भले ही पाकिस्तान 7 में से 2 बार टॉस जीत गया हो, लेकिन सातों बार मैच में भारत के हाथों बुरी तरह से हारा है. वैसे, जैसी तैयारियां पाकिस्तानी ने भारत से भिड़ने के लिए की थीं, उनको देखकर ये साफ हो जाता है कि पाकिस्तान को तो हारना ही था.

एक ओर पाकिस्तान को भारत ने बुरी तरह से हराया, वहीं दूसरी ओर सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो और तस्वीरें वायरल होनी शुरू हो गईं. भारत के हाथों पाकिस्तान को मिली करारी हार के बाद पाकिस्तान के लोगों का गुस्सा पाकिस्तानी खिलाड़ियों पर फूट पड़ा है. फैन्स तो जो भला बुरा कह रहे हैं, वो अलग है, लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीरों और वीडियो में से एक वीडियो पाकिस्तानी क्रिकेटर और सानिया मिर्जा के पति शोएब मलिक का भी है. मैच से पहले वह हुक्का बार का मजा लेते दिख रहे हैं.

भारत, पाकिस्तान, सरफराज अहमद, शोएब मलिकशोएब मलिक हुक्का बार में दिखे और सरफराज अहमद मैदान पर उबासी लेते रहे.

पाकिस्तानी फैन कह रहे हैं कि मैच से पहले लोग तैयारी करते हैं और हमारे खिलाड़ी पार्टी कर रहे हैं. जो तस्वीरें और वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहे हैं, उनमें साफ दिख रहा है कि शोएब मलिक और सानिया मिर्जा अपने बच्चे के साथ हुक्का बार पहुंची हैं. वायरल हो रही तस्वीरों में पाकिस्तानी खिलाड़ी हुक्का पीते दिख रहे हैं. खाने की मेज पर शराब की बोतल भी रखी हुई है. वैसे तो सानिया मिर्जा ने शोएब का बचाव करते हुए उल्टा वीडियो बनाने वाले पर हमला बोला है और इसे प्राइवेसी का अनादर कह दिया है, लेकिन ये तो दिख ही रहा है कि मैच से पहले शोएब मलिक कैसी तैयारी कर रहे हैं.

वसीम अकरम की कोई क्रिकेटर सुनता नहीं

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर वसीम अकरम ने मैच से पहले ही इशारा कर दिया था कि पाकिस्तान हारेगा. उन्होंने कहा था कि उनका दिल कहता है कि पाकिस्तान जीतेगा, लेकिन दिमाग कहता है कि भारत जीतेगा. यानी कहीं न कहीं उन्हें पहले से ही शक था कि इस मैच में पाकिस्तान फिर से हारेगा. वसीम अकरम ने कहा है कि उनकी कोई सुनता ही नहीं है, वह परेशान हो गए हैं. वह बोले कि इस मैदान पर वह खेल चुके हैं, लेकिन शाहीन शाह अफ्रीदी के अलावा पाकिस्तान का कोई भी खिलाड़ी उनके पास किसी भी तरह के सुझाव लेने नहीं आया.

वसीम अकरम ने कहा- 'जब आप 5 बॉलर्स के साथ मैदान में उतरते हैं तो इसका मतलब है कि आप एक बैट्समैन कम कर रहे हैं. यानी बॉलिंग आपकी ताकत होगी. ऐसे में टीम पहले बैटिंग करती है, बाद में बॉलिंग. मैं उन लोगों से ये बातें पिछले दो खेलों से कह रहा हूं, लेकिन अब मैं बोलते-बोलते थक गया हूं.'

स्विंग के सुल्तान कहे जाने वाले वसीम अकरम का गुस्सा जायज है, लेकिन अगर उनकी कोई सुनता नहीं है तो इसकी शिकायत क्यों नहीं करते? और अगर वो भी नहीं सुनते तो इस्तीफा क्यों नहीं दे देते? वैसे भी, क्रिकेट टीम का कोई खिलाड़ी उनसे सुझाव मांगने नहीं आया तो वह खुद भी तो आगे बढ़कर सुझाव दे सकते थे. आखिरकार, ये कोई गली क्रिकेट तो है नहीं, मामला वर्ल्ड कप का था. खैर, गंभीरता ना तो पाकिस्तानी खिलाड़ियों में दिख रही है, ना ही मार्गदर्शकों में.

इंजमाम उल हक तो अपनी भतीजे को सेट करने में लगे रहे !

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के चीफ सेलेक्टर इंजमाम उल हक तो पहले से ही भारतीय टीम के मुरीद हुए पड़े थे. उन्होंने भी मैच से पहले ही ये इशारा कर दिया था कि भारत ही जीतेगा. उन्होंने माना था कि इस मैच में दबाव पाकिस्तान पर ही होगा. कोहली की तारीफें भी कीं और कहा कि भारत एक संतुलित टीम है. जिस तरह वह भारतीय टीम की तारीफ कर रहे हैं, वैसा उन्होंने अपनी टीम को बनाने की शायद कोशिश भी नहीं की. फैन्स तो यहां तक कह रहे हैं कि इंजमाम उल हक का पूरा ध्यान सिर्फ अपने भतीजे इमाम उल हक को टीम में सेट करने पर रहा. वैसे देखा जाए तो ये कुछ हद सही भी लगता है. अगर वाकई वह पाकिस्तान के लिए गंभीर होते तो शायद टीम को बेहतर बनाने की कोशिश करते.

कप्तान सरफराज अहमद उबासी लेते रहे

भारत की बैटिंग चल रही हो और पाकिस्तानी खिलाड़ी मैदान पर हों तो कोई आलसपना कैसे दिखा सकता है? वैसे पाकिस्तानी टीम के कप्तान ने ये किया. बीच मैदान में वह उबासी लेते हुए नजर आए. एक ओर तेजी से रन बनाती भारतीय टीम को देखकर पाकिस्तानी फैंस की धड़कनें बढ़ी हुई थीं, चिंता थी कि मैच जीत पाएंगे या नहीं, वहीं दूसरी ओर पाकिस्तानी टीम के कप्तान को बोरियत हो रही थी. अब बीच मैदान पर उबासी लेने की वजह से कप्तान सरफराज अहमद बुरी तरह से ट्रोल हो रहे हैं.

इतना ही नहीं, बॉलिंग कोच अजहर महमूद के खिलाफ भी आवाजें उठ रही हैं. फैन्स कह रहे हैं कि जब आपके बॉलर विकेट ही नहीं पे पा रहे तो आप उन्हें कोचिंग क्या दे रहे हैं. वैसे फैन्स की इस बात में दम भी है. पाकिस्तान की ताकत बैटिंग तो है भी नहीं, बॉलिंग ही उनकी ताकत है और उसमें भी वह कोई कमाल नहीं दिखा पाए. देखा जाए तो पूरी पाकिस्तानी टीम, चयनकर्ता और पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी, सारे के सारे वर्ल्ड कप जैसे मैच को हल्के में लेते रहे. किसी ने कोई गंभीरता नहीं दिखाई. इमरान खान ने कुछ टिप्स दिए तो वो भी मैच शुरू होने से चंद घंटे पहले. अब जब ऐसे हालात होंगे तो कोई टीम कैसे जीत सकती है. सो पाकिस्तानी टीम फिर से हार गई, वो भी बुरी तरह से.

ये भी पढ़ें-

India vs Pakistan: इमरान खान ने टीम को 3 टिप्स दिए, खिलाड़ियों ने एक भी नहीं माने !

India vs Pak: ये 6 मैच पाकिस्तान कभी नहीं भूलेगा

वर्ल्ड कप को बारिश से बचाने के लिए क्या उपाय अपना सकती है ICC?

#भारत Vs पाकिस्तान, #पाकिस्तान, #सरफराज अहमद, India Vs Pakistan, Lazy Sarfaraz Ahmed, Shoaib Malik Enjoying Hookah

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय