होम -> स्पोर्ट्स

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 27 जनवरी, 2019 07:09 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujmaurya87
  • Total Shares

भारतीय टीम इन दिनों न्यूजीलैंड के दौरे पर है, जहां 5 वन डे मैचों की एक सीरीज खेली जा रही है. कोहली ब्रिगेड ने घर में घुसकर न्यूजीलैंड के छक्के छुड़ा दिए हैं. अभी तक दो मैच हुए हैं और दोनों में ही भारतीय बल्लेबाजों और गेंदबाजों ने न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों को धो डाला है. भारतीय टीम का शानदार प्रदर्शन और न्यूजीलैंड की टीम की बुरी तरह धुलाई पर न्यूजीलैंड की ईस्टर डिस्ट्रिक्ट पुलिस ने एक फेसबुक पोस्ट किया है. जहां एक ओर ये पोस्ट न्यूजीलैंड की टीम के लिए कटाक्ष है, वहीं दूसरी ओर भारतीय टीम के लिए किसी पुरस्कार से कम नहीं है. फिलहाल ये पोस्ट इंटरनेट पर खूब वायरल हो रही है.

न्यूजीलैंड पुलिस की ये पोस्ट मजाकिया अंदाज में लोगों को दी गई एक चेतावनी है. बल्कि यूं कहें कि ये पोस्ट न्यूजीलैंड की टीम को ये बताने के लिए है कि वह बहुत खराब प्रदर्शन कर रहे हैं और साथ ही उन्हें ये एहसास भी कराने के लिए है कि इज्जत बचानी है तो अब सारे मैच जीतने होंगे. वहीं दूसरी ओर ये पोस्ट भारत की टीम को ये जताने के लिए है कि वह बेहद शानदार खेल रहे हैं. और यही वजह है कि इस मजाकिया चेतावनी को पढ़ने वाला शख्स इसे शेयर कर रहा है, जिसकी वजह से ये पोस्ट वायरल हो गई है. लेकिन इस पोस्ट में लिखा क्या है?

क्रिकेट, भारत vs न्यूजीलैंड, वायरल पोस्टन्यूजीलैंड पुलिस की पोस्ट घरेलू टीम के लिए कटाक्ष है और भारतीय टीम के लिए पुरस्कार.

सावधान: 'बैट-बॉल' जैसी चीज लेकर ना घूमें

न्यूजीलैंड की ईस्टर डिस्ट्रिक्ट पुलिस ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा है- 'पुलिस की तरफ से जनता को एक पीटने वाले समूह को लेकर चेतावनी दी जा रही है, जो इस समय न्यूजीलैंड के दौरे पर है. चश्मदीदों के अनुसार इस समूह ने पिछले हफ्ते नेपियर और माउंट मोनगानुई दोनों ही जगह मासूम से दिखने वाले न्यूजीलैंड के लोगों को बुरी तरह पीटा है. अगर आप क्रिकेट के बैट या बॉल जैसी दिखने वाली कोई चीज लेकर जा रहे हैं तो आपको अधिक सावधान रहने की जरूरत है.'

पुलिस के इस पोस्ट का स्क्रीनशॉट न्यूजीलैंड के पूर्व ऑलराउंडर स्कॉट स्टाइरिस ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयकर किया है और लिखा है- 'बेहद चतुराई भरा'.

कितना पिटे हैं न्यूजीलैंड के ये मासूम!

अब ये भी जान लीजिए कि पुलिस ने अपनी पोस्ट में जिन मासूमों (न्यूजीलैंड टीम) के पिटने की बात कही है, उन्हें कितना पीटा गया है. नेपियर में हुए पहले मैच में भारत ने न्यूजीलैंड को महज 157 रनों पर समेट दिया और मैच 8 विकेट से जीत लिया. माउंट मोनगानुई में खेले गए दूसरे मैच में भारत ने पहले बल्लेबाजी की और न्यूजीलैंड के सामने 325 रनों का पहाड़ जैसा लक्ष्य रख दिया. इस लक्ष्य को पाने की कोशिश में न्यूजीलैंड की पूरी टीम 40.2 ओवर में ही 234 रन बनाकर धराशाई हो गई और दूसरा मैच भी भारत 90 रनों से जीत गया. अब तो आप भी समझ ही गए होंगे कि पुलिस ने क्यों लिखा है कि भारत ने न्यूजीलैंड को बुरी तरह से पीटा है.

पुलिस की पोस्ट से जहां एक ओर भारत के खिलाड़ी बेहद खुश होंगे, वहीं न्यूजीलैंड के खिलाड़ी खफा हो गए होंगे. इस मजाकिया पोस्ट को भारत मजाक में ले और अपनी तारीफ समझे, लेकिन न्यूजीलैंड को इसे न तो मजाक में लेना चाहिए ना ही ये समझना चाहिए कि ये उसकी बेज्जती की गई है. पुलिस की ये पोस्ट न्यूजीलैंड की टीम को झकझोरने के लिए मालूम पड़ती है, ताकि उन्हें ये एहसास कराया जा सके कि अब जीतना कितना जरूरी है. और जिस तरह से ये पोस्ट इंटरनेट पर वायरल हो रही है, यूं लगता है कि ये फेसबुक पोस्ट अपने मकसद में कामयाब भी हो गई है. अगर तीसरा मैच भी न्यूजीलैंड हार जाता है तो इस वन डे सीरीज पर भारत का कब्जा हो जाएगा और भारत का 5 साल पुराना बदला पूरा हो जाएगा. आपको बता दें कि पिछली बार 2014 में न्यूजीलैंड की जमीन पर वन डे सीरीज खेली गई थी, जिसमें भारत 0-4 से बुरी तरह हारा था, लेकिन यूं लग रहा है कि इस बार कोहली ब्रिगेड अपना पुराना हिसाब बराबर कर देगी.

ये भी पढ़ें-

विराट कोहली आज वहां पहुंच गए हैं, जहां 90 के दशक में इमरान खान थे

क्या भारत 5 साल बाद न्यूजीलैंड में करारी हार का बदला ले पाएगा?

स्टंप माइक ने नस्लभेद का कड़वा सच सामने ला दिया है!

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय