होम -> स्पोर्ट्स

 |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 17 अगस्त, 2019 06:43 PM
बिजय कुमार
बिजय कुमार
  @bijaykumar80
  • Total Shares

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के दो पूर्व कप्तान ब्रायन लारा और रामनरेश सरवन भारत के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज की तैयारियों के लिए टीम के साथ जुड़ेंगे. वेस्टइंडीज और भारत के बीच दो टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच 22 से 26 अगस्त के बीच एंटीगा के नार्थ साउंड में सर विवियन रिचर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाएगा तो वहीं दूसरा मैच 30 अगस्त से 3 सितंबर के बीच जमैका के किंग्सटन में होगा.

वेस्ट इंडीज को भारत के खिलाफ सीमित ओवरों की सीरीज में हाल ही में हार का सामना करना पड़ा था इसके बाद इन दिग्गज खिलाडियों के टीम की प्री-सीरीज कैम्प के साथ जुड़ने से ऐसा माना जा रहा है कि वेस्टइंडीज टेस्ट मैच में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती. बता दें कि सर्वकालिक महान बल्लेबाजों में से एक लारा और अपने जमाने के शानदार बल्लेबाजों में शामिल सरवन भारत के खिलाफ एंटीगा में होने वाले पहले टेस्ट मैच से पूर्व लगने वाले शिविर में वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों को गुर सिखाएंगे और टीम के सदस्यों के साथ अपने अनुभव साझा करेंगे. 50 वर्षीय लारा वेस्टइंडीज की ओर से टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं उन्होंने 131 टेस्ट मैचों में 52.88 कि औसत से 11 हजार 953 रन बनाये हैं. टेस्ट के इतिहास में सर्वाधिक 400 नॉट आउट बनाने का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम है. तो वहीं 39 वर्षीय सरवन ने 87 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमे उन्होंने 40 की औसत से 5842 रन बनाये हैं.

Brian Lara and Ramnaresh Sarwanब्रायन लारा और रामनरेश सरवन भारत के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए वेस्टइंडीज खिलाड़ियों की मदद करेंगे

वैसे वेस्टइंडीज टीम के हालिया टेस्ट परफॉर्मेंस की बात करें तो कुछ उम्मीद दिखती है. वेस्टइंडीज ने इसी साल इंग्लैंड जैसी बेहतरीन टीम को 2-1 से मात दी थी लेकिन कप्तान जेसन होल्डर और विकेट कीपर शेन डोरिच के अलावां किसी भी बल्लेबाज ने लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था. इसी के मद्देनजर दो दिग्गज खिलाडियों को ये जिम्मेदारी दी गयी है कि वो ऊपरी क्रम के बल्लेबाजों को ऐसी सिख दें जिससे कि उनका परफॉर्मेंस अच्छा हो सके. इन ऊपरी क्रम के बल्लेबाजों में मुख्यत: जॉन कैम्पबेल, शिमरॉन हेटमाएर, शै होप और रोस्टोन चेस के नाम शामिल हैं जिन्होंने भारत के खिलाफ सीमित ओवरों की सीरीज में भी कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है.

भारतीय टीम के इस वेस्टइंडीज दौरे की बात करें तो इसका आगाज तीन मैचों की टी-20 सीरीज से हुआ था. जिसमें भारत ने 3-0 से सीरीज पर कब्जा जमाया था. इसके बाद वनडे सीरीज भी भारत ने 2-0 से अपने नाम की थी. यानी कि भारतीय टीम पहले ही टी-20 और वनडे सीरीज में जीत के आत्मविश्वास के साथ टेस्ट सीरीज में उतरेगी. ऐसे में मेजबान टीम को सभी फॉर्मेट में अपने ही घर में भारत से हार का डर सता रहा है तभी तो उसने अपने दिग्गज खिलाडियों को मैदान में उतारा है. वैसे ये पहली बार नहीं है कि किसी देश के दिग्गज अपनी टीम के सदस्यों के साथ अपने अनुभव साझा कर रहे हों. कह सकते हैं कि भारतीय टीम टेस्ट क्रिकेट में मौजूदा समय में नंबर-1 पर है तो वहीं वेस्टइंडीज आठवें नंबर पर है ऐसे में भारत जैसी मजबूत टीम को टक्कर दे पाना वेस्टइंडीज के लिए आसान नहीं होगा. जैसा कि हमने दोनों देशों के बीच पिछले साल हुई टेस्ट सीरीज में देखा था तब वेस्टइंडीज ने भारत का दौरा किया था और उसे सीरीज 0-2 से गंवानी पड़ी थी.

ये भी पढ़ें-

कपिल देव जो भी कहें रवि शास्‍त्री को हेड कोच बनाना 'मजबूरी' थी

रोहित-विराट क्‍या सलमान-शाहरुख वाली तनातनी की कीमत चुका पाएंगे?

विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच बंटती टीम इंडिया

लेखक

बिजय कुमार बिजय कुमार @bijaykumar80

लेखक आजतक में एसोसिएट प्रोड्यूसर हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय