होम -> स्पोर्ट्स

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 29 जुलाई, 2019 06:47 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

इन दिनों भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और उप कप्तान रोहित शर्मा के बीच से उसी तरह की खबरें सामने आ रही हैं जैसी कभी बॉलीवुड से सलमान खान और शहरुख खान के रिश्तों को लेकर आया करती थीं. आज भले ही क्रिकेट के खिलाड़ी भी स्टार्स कहे जाते हैं, लेकिन फिर भी दोनों क्षेत्रों के ये सितारे और इनसे जुड़े विवाद कभी एक जैसे नहीं हो सकते.

बॉलीवुड में कई बड़े सितारे हैं जिनकी आपस में नहीं बनती. सितारों के आपसी रिश्ते भले ही उनकी निजी जिंदगी का हिस्सा हों लेकिन लोगों के लिए वो इंटरटेनमेंट की डोज़ की तरह ही होते हैं. और जब बॉलीवुड वाला ग्लैमर क्रिकेट के मैदान तक पहुंच ही गया है तो इसी तरह की खबरें खिलाड़ियों के आपसी रिश्तों से भी आने लगी हैं.

virat kohli and rohit sharmaआजकल विराट कोहली और रोहित शर्मा के रिश्ते चर्चा में बने हुए हैं

सिनेप्रेमियों ने वो दौर भी देखा है जब सलमान खान और शाहरुख खान के बीच रिश्ते दोस्ताना थे और वो दौर भी जब ये दोस्ती दुश्मनी में बदल गई थी. ऐश्वर्या राय को लेकर शाहरुख खान ने न जाने क्या कहा कि सलमान खान ने शाहरुख खान पर हाथ तक उठा लिया था. और तब इन दोनों के बीच दीवार खड़ी हो गई थी. लेकिन लोगों को इससे क्या...ज्यादा से ज्यादा उन्होंने शाहरुख और सलमान खान को साथ में नहीं देखा, बस. इस झगड़े से इन दोनों की पर्सनल लाइफ भले ही डिस्टर्ब हुई होगी लेकिन इन दोनों की प्रोफेशनल लाइफ पर कोई फर्क नहीं पड़ा. बल्कि दोनों ने जमकर फिल्में कीं और बॉक्स ऑफिस पर करोड़ों कमाए भी. वो इसलिए क्योंकि दोनों अलग-अलग शख्सियतें हैं, अलग-अलग फिल्में करते हैं और सिर्फ अपने लिए ही काम करते हैं.

लेकिन अगर यहीं क्रिकेट के दो सितारे विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच के रिश्तों की बात करें तो इन दोनों के रिश्ते न सिर्फ क्रिकेट प्रेमियों को प्रभावित करते हैं बल्कि पूरे देश को भी. दो समकक्ष खिलाड़ियों में मतभेद होना स्वाभाविक होता है. दोनों ही अपने अपने अनुभवों से अपनी अपनी बात रखते हैं और अलग-अलग तरीके से सोचते हैं. लेकिन अगर ये मतभेद मनभेद में बदल जाते हैं तो इन दोनों की प्रोफेशनल लाइफ जरूर प्रभावित होती है. शाहरुख और सलमान खान की तरह ये दोनों अलग-अलग नहीं बल्कि एक टीम हैं. दोनों अपने लिए नहीं खेलते, देश के लिए खेलते हैं. इसलिए अगर इनमें मनमुटाव होता है तो वो प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से खेल को ही प्रभावित करता है. और खेल प्रभावित हुआ तो उसकी कीमत देश को हार से चुकानी पड़ती है.

ऐसा नहीं है कि दो समकक्ष खिलाड़ियों के बीच के रिश्तों में पहली बार खटास आई हो. कपिल देव और सुनील गावस्कर के बीच भी ये दौर आया था. वो खेल के मैदान के बाहर चाहे कभी साथ नहीं आए हों. लेकिन दोनों जब खेल के मौदान में होते तो सिर्फ खेल के बारे में सोचते और एक दूसरे का साथ देते. उन दोनों की आपसी समझ ने देश को कभी निराश नहीं किया.

salman-shahrukhसलमान खान और शाहरुख खान के रिश्तों की तरह नहीं हो सकते कोहली और रोहित शर्मा के रिश्ते

बॉलीवु़ड सितारों की जिंदगी में क्या हो रहा है उसे जानने के लिए जितने बेताब दर्शक होते हैं उससे कहीं ज्यादा उस खबर को दर्शकों तक पहुंचाने के लिए जर्नलिस्ट. लेकिन खिलाड़ियों की जिंदगी से जुड़ी छोटी-छोटी बातों को भी चटखारे लगाकर छापने से इन खिलाड़ियों की चर्चा खेल को लेकर कम और अनबन को लेकर ज्यादा होने लगी है. खिलाड़ियों की जिंदगी से भी इंटरटेनमेंट की वही डो़ज तैयार की जा रही है जो एक्टर्स की जिंदगी से की जाती रही है. इंस्टाग्राम पर कौन किसे फॉलो कर रहा है और किसने किसे अनफॉलो कर दिया. इतना ही नहीं, उनकी पत्नियों के बीच रिश्‍तों की खटास भी सुर्खी बनी. कुल मिलाकर एक टीम के सदस्‍यों के बीच रिश्‍ते और उनकी एकजुटता पर सवाल खड़ा हो रहा है. लेकिन सलमान-शाहरुख आने वाले समय को भी जानते थे इसलिए दोनों ने अपने फायदे के लिए ही सही वापस दोस्ती का हाथ एकदूसरे के लिए बढ़ा दिया और आज दोनों अपनी-अपनी फिल्मों के लिए एकदूसरे की मदद करते हैं. लेकिन क्या रोहित और विराट के रिश्तों में इतनी गुंजाइश होगी?

अपडेट: वेस्टइंडीज दौरे पर जाने से पहले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. रोहित शर्मा से अपने रिश्‍ते की बात पर उन्‍होंने इतना ही कहा कि इस बारे में आई सभी खबरें बकवास हैं. विराट कोहली का बयान साबित करता है कि वे टीम की जीत के लिए सभी खिलाडि़यों को साथ लेकर चल रहे हैं. इस प्रेस कान्‍फ्रेंस के खत्‍म होते होते एक दिलचस्‍प वाकया ये हुआ कि कुछ पत्रकारों ने विराट से चलते-चलते पूछा कि क्‍या उनकी रोहित शर्मा से बात हुई, तो उन्‍होंने इतना ही कहा कि वे अब जा रहे हैं और रोहित से बात करेंगे. यानी प्रेस कान्‍फ्रेंस ने इस विवाद पर फिलहाल सिर्फ अपना पक्ष रखा है. रोहित की ओर का हिस्‍सा बाकी है.

इस पूरे वाकये का निचोड़ ये है कि विराट और रोहित इस गफलत को जितनी जल्‍दी दूर कर लें, उतना अच्‍छा है. क्‍योंकि क्रिकेटर्स कभी एक्टर्स की तरह की तकरार अफोर्ड नहीं कर सकते. वो कभी एक जैसे हो ही नहीं सकते. उनके बीच के रिश्ते बॉलीवुड गॉसिप की तरह नहीं हो सकते. खिलाड़ियों के बीच भले ही कितने मतभेद हों, लेकिन खेल के मैदान पर वो भारत का प्रतिनिधित्व करते हैं जिसे आपसी रिश्तों की वजह से कभी दांव पर नहीं लगाया जा सकता.

ये भी पढ़ें-

विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच बंटती टीम इंडिया

टेस्ट मैच की नई रोमांचक दुनिया में क्रिकेट प्रेमियों का स्‍वागत है

क्यों खास है इस बार इंग्लैंड में खेली जा रही एशेज सीरीज

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय