होम -> स्पोर्ट्स

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 16 अगस्त, 2019 10:04 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

वेस्‍ट इंडीज के लिए रवाना होने से ठीक पहले पत्रकारवार्ता में विराट कोहली से सवाल किया गया था कि बीसीसीआई हेड कोच नियुक्‍त करने से पहले यदि आपकी राय जानना चाहेगी तो क्‍या आप रवि शास्‍त्री के नाम का सपोर्ट करेंगे? विराट कोहली ने नपे तुले शब्‍दों में यही कहा था वैसे तो उनसे इस बारे में कोई बात नहीं की गई है, लेकिन यदि बोर्ड पूछेगा तो वे निश्चित ही रवि शास्‍त्री के नाम का समर्थन करेंगे. क्‍योंकि भारतीय टीम रवि शास्‍त्री के साथ खास तालमेल करती है.

इस जवाब के साथ विराट कोहली ने पत्रकारों के जरिए अपनी राय बिना मांगे उन नियोक्‍ताओं पर पहले ही थोप दी थी, जो कि एक निष्‍पक्ष फैसले के लिए बेहद गैरजरूरी थी. अब आ जाते हैं शुक्रवार को मुंबई में हुई बीसीसीआई की तीन सदस्‍यीय क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी की बैठक पर. कपिल देव, अंशुमन गायकवाड़ और शांता रंगास्‍वामी के सामने एक फॉर्मेट था, जिसमें दर्ज पैमाने पर उन्‍हें हेड कोच पद के दावेदारों को रैंक करना था. भारतीय टीम के भावी हेड कोच के दावेदारों को 5 कसौटियों पर आंका गया, जिनमें शामिल था- कोचिंग फिलोसॉफी, कोचिंग का अनुभव, कोचिंग की उपलब्धि, कम्‍युनिकेशन की ताकत और मॉडर्न कोचिंग का नॉलेज. इन तमाम कसौटियों पर भारत के मौजूदा कोच रवि शास्‍त्री, न्‍यूजीलैंड के पूर्व हेड कोच माइक हेसन और ऑस्‍ट्रेलियाई कोच टॉम मूडी के बीच मुकाबला रहा. बकौल कपिल देव बड़े ही बारीक फासले से रवि शास्‍त्री ने यह मुकाबला जीत लिया. कपिल ने यह भी जोड़ा कि भारतीय टीम के साथ शास्‍त्री का लंबा जुड़ाव उनके हक में गया. हालांकि, उन्‍होंने इस बात से साफ किया कि इस फैसले को लेने से पहले विराट कोहली से किसी भी तरह का सलाह-मशविरा किया गया.

लेकिन, क्‍या कपिल देव का इतना कह देना काफी थी? विराट कोहली की राय क्‍या है, यह तो काफी पहले ही जगजाहिर हो ही गई थी. ऐसे में सवाल ये उठता है कि क्‍या क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी विराट कोहली की पसंद से अलग जाकर किसी को हेड कोच नियुक्‍त कर सकती थी? कप्‍तान और कोच के बीच के तनाव को बीसीसीआई अनिल कुंबले प्रकरण में देख चुकी था.

शास्‍त्री को दोबारा हेड कोच बनाने पर दिलचस्‍प प्रतिक्रियाओं का सिलसिला

वर्ल्ड कप-2019 के सेमीफाइनल में हार का मुंह देखने वाली टीम इंडिया के हेड कोच के रूप में दूसरी बार चुने जाने के बाद प्रतिक्रियाओं का आना लाजमी था. एक बड़ा वर्ग है जो मान रहा है कि खराब कोचिंग के बावजूद रवि शास्त्री को कोच केवल इसलिए बनाया गया है क्योंकि उनका शुमार कप्तान कोहली के करीबियों में है और कैप्टन उन्हें खूब पसंद करते हैं.

रवि शास्त्री, टीम इंडिया, कोच, विराट कोहली, Ravi Shastri   जैसे ही खबर आई कि रवि शास्त्री दोबारा कोच बनने वाले हैं ट्विटर पर चर्चा का दौर शुरू हो गया है

रवि के सिलेक्शन की जानकारी खुद टीम इंडिया के पूर्व कप्तान कपिल देव ने प्रेस कांफ्रेंस करके दी है.

बात इस सिलेक्शन प्रोसेस पर आने वाली प्रतिक्रियाओं की चल रही है तो हमारे लिए @MyFreakyTweets के ट्वीट को समझना बहुत जरूरी हो जाता है. सत्यम सिंह नाम के यूजर ने रवि शास्त्री और विराट कोहली की एक तस्वीर पोस्ट की है. इस तस्वीर को यदि देखा जाए तो मिलता है कि इसमें शास्त्री कोहली का मसाज कर रहे हैं और कोहली भी जमकर उसका लुत्फ ले रहे हैं. तस्वीर इस बात की गवाही खुद ब खुद दे रही है कि कोहली और शास्त्री की जोड़ी जय वीरू की जोड़ी से कम नहीं है.

इस मौके पर @KingmakerOne1 ने भी रवि शास्त्री की ड्रिंक करते हुए तस्वीर पोस्ट की है. ध्यान रहे कि पूर्व में ऐसे तमाम मौके आए हैं जब पार्टी करने को लेकर रवि शास्त्री की खूब आलोचना हुई है. आपको बताते चलें कि  जिस क्षण टीम इंडिया ने वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल मुकाबला हारा. कहा तो यहां तक गया कि कोच के चलते टीम का सारा ध्यान पार्टी और फन पर था और उसने गेम पर फोकस किया ही नहीं जिस कारण उसे शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा.अब जबकि फिर से शास्त्री कोच बने हैं फिर से वही बातें दोहराई जा रही हैं.

कपिल देव की इस घोषणा पर कि रवि शास्त्री अपने पद पर बरकरार रहेंगे @beyoond_starz नाम के यूजर ने भी एक तस्वीर पोस्ट की है. तस्वीर, सेलेक्टर्स को सन्देश दे रही है कि आप जो बोल रहे हैं वो बहस के लिए,सुनने के लिए अच्छा है. लेकिन प्रैक्टिकल नहीं है.

इस खबर के बाद कि शास्त्री को दोबारा टीम इंडिया का कोच बनाया जा रहा है कि @KingmakerOne1 नाम के यूजर ने एक मीम पोस्ट किया है. मीम सलमान खान की फिल्म से है जिसमें सलमान के चेहरे के ऊपर रवि शास्त्री का चेहरा लगाया गया है और उसमें वो इस खबर के बाद डांस करते हुए नजर आ रहे हैं.

@mansha99 नाम के यूजर ने अपने ट्वीट में बताया है कि भले ही शास्त्री अब कुछ भी कहें मगर कहीं न कहीं उनकी भी  इच्छा दोबारा टीम इंडिया का कोच बनने की थी.

@Smart_Ladka नाम के यूजर ने भी बड़ा ही व्यंगात्मक ट्वीट किया है और उन तमाम लोगों की हालात बताई है जो हेड कोच के पद के लिए आवदेन करने आए थे.

अब जबकि रवि शास्त्री दोबारा टीम इंडिया के कोच बन गए हैं तो कह सकते हैं कि विराट कोहली से नजदीकियां उनके लिए फायदेमंद साबित हुईं. अगर ये न होतीं तो मुकाबला कड़ा था शास्त्री शुरूआती गेंदों में ही आउट हो जाते और पवेलियन को लौट जाते.  

ये भी पढ़ें -

रोहित-विराट क्‍या सलमान-शाहरुख वाली तनातनी की कीमत चुका पाएंगे?

विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच बंटती टीम इंडिया

क्यों खास है इस बार इंग्लैंड में खेली जा रही एशेज सीरीज

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय