charcha me| 

होम -> समाज

 |  एक अलग नज़रिया  |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 06 अक्टूबर, 2021 09:27 PM
ज्योति गुप्ता
ज्योति गुप्ता
  @jyoti.gupta.01
  • Total Shares

बिजनेस ड्रिंक (China business drinking) जिसे लेकर पूरे देश में बहस छिड़ गई है. इसके नाम का संबंध बिजनेस और शराब से है इतना तो आप भी समझ गए होंगे. चलिए बताते हैं कि आखिर इस शब्द का अचानक से इतना विरोध क्यों हो रहा है? हर देश की खासियत होती है, कुछ रिवाज होते हैं, कुछ परंपराएं होती हैं. समय तो तेजी से बदलता रहता है लेकिन लोगों की सोच वही रह जाती है और वे उन्हीं परंपराओं को आगे पीड़ी दर पीड़ी बढ़ाते रहते हैं.

जबकि लोगों को उन्हीं परंपराओं का आगे बढ़ाना चाहिए जो लोगों के हित में हों. समय के साथ दकियानुसी परंपराओं का त्याग कर देना चाहिए. चलिए बताते हैं कि जब कुरीतियां समाज में बनी रहती हैं तो लोगों को किस तरह इसकी कीमत चुकानी पड़ती है?

business drinking, what is business drinking in China , alcohol, china, work placeबिजनेस ड्रिंक की वजह से महिलाओं का उत्पीड़न होता है

दरअसल, चीन में जैक मा की कंपनी अलीबाबा के एक सीनियर मैनेजर पर अपनी महिला सहयोगी से दुष्कर्म का आरोप लगा है. बात बस इतनी सी नहीं है, बात है रेप के पीछे की असली वजह यानी बिजनेस ड्रिंक की. जिसे लेकर बवाल मचा हुआ है. चीन में बिजनेस ड्रिंकिंग का चलन काफी पुराना है. जिस कारण महिलाओं का उत्पीड़न होता है. चलिए बताते हैं कि यह रिवाज क्या है जिसके कारण चीनी कॉर्पोरेट जगत में महिलाओं को असहज महसूस होता है. वहां के लोग आखिर क्यों मांग कर रहे हैं कि ऑफिस में शराब पीने की परंपरा को अब खत्म कर देना चाहिए.

दरअसल, चीन में कॉर्पोरेट जगत की महिलाओं को क्लाइंट्स के साथ पार्टी करने पर मजबूर किया जाता है. कई बार पुरुष साथी गंदे जोक और चुटकले पर हंसते हैं. कई बार उन्हें क्लाइंट्स के लिए पैंग बनाना पड़ता है.

चीन में व्यक्तिगत संबंध बनाने की संस्कृति का चलन है. जिसे ग्वांग्शी भी कह सकते हैं. व्यक्तिगत संबंध बनाकर लोग अपने व्यापार को बढ़ावा देते हैं और प्रबंधन की नजरों में सम्मान हांसिल करते हैं.

पब्लिक रिलेसंश कंसलटेंट के रूप में काम करने वाली एक महिला के अनुसार, उन्हें मजबूरी में क्लाइंट्स के साथ पार्टी करनी पड़ती है. नौकरी बचाने के लिए सब चुपचाप सहना पड़ता है. कई बार पुरुषों की हरकतों को इग्नोर करना पड़ता है और जबरदस्ती मुस्कुराना पड़ता है.

चीन में युवा कर्मचारी वरिष्ठ सहकर्मियों को सम्मान देने के लिए पेग बनाते हैं. बिजनेसमैन भी अपने क्लाइंट्स के लिए यही करते हैं. इनसब में महिला कर्मचारियों को पिसना पड़ता है. महिला सहकर्मियों को इन शराब वाली पार्टियों में बिना मन के भी शामिल होना ही पड़ता है. कई बार तो सीनियर मैनेजर ही अपने जूनियर कर्मचारी को पीने के लिए कहते हैं.

जूनियर कर्मचारी अपने बॉस को ना नहीं कह पाते क्योंकि चीन में वरिष्ठता की एक संस्कृति है. इस वजह से कर्मचारी को अपने बॉस को मना करना बहुत मुश्किल हो जाता है. दूसरी तरफ यह डर भी होता है कि अगर मना कर दिया तो करियर में यहीं ब्रेंक लग जाएगा, वे आगे नहीं बढ़ पाएंगे.

क्यों मचा हंगामा?

यह विषय पर बहस तब छिड़ी जब अलीबाबा कंपनी में काम करने वाली एक महिला कर्मचारी ने अपने मैनेजर पर रेप का आरोप लगाया है. असल में वह महिला कारोबार से जुड़ी शराब परंपरा में शामिल हुई थी. शराब पीने के बाद वह बेहोशी की हालत में थी. इस दौरान उसके साथ रेप किया गया. इस महिला कर्मचारी ने 11 पेज के खत में अपनी आपबीती बयां की है. जो दिल को दुखाने वाली है. उसने बताया है कि उसके सीनियर ने शराब पीने का आदेश दिया.

इसके बाद जब उसकी आंख खुली तो उसने खुद को नग्न अवस्था में पाया. इस दौरान उसके साथ क्या हुआ इसकी उसे कोई जानकारी नहीं थी. महिला ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दावा किया उस रात मैनेजर कमरे में आया था. फिलहाल कंपना ने उस मैनेजर को नौकरी से निकाल दिया है, लेकिन क्या इतना काफी है? उन तमाम लड़कियों का क्या जिन्हें इस परंपरा को झेलना पड़ता है.

महिला का 11 पेज के खत अब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म वीबो पर वायरल हो रहा है. जिसके बाद से हंगामा मचा है. लोग शराब पीने की इस परंपरा के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं. अब देखिए आगे क्या होता है? क्योंकि परंपरा कितनी भी बुरी क्यों ना हो, उसे खत्म होने में वक्त तो लगता है. वैसे आपकी क्या राय है? क्या कार्यस्थल पर इस तरह शराब परोसने का रिवाज सही है?

#बिजनेस ड्रिंकिंग, #बिजनेस ड्रिंक, #चीन, Business Drinking, What Is Business Drinking In China, Alcohol

लेखक

ज्योति गुप्ता ज्योति गुप्ता @jyoti.gupta.01

लेखक इंडिया टुडे डि़जिटल में पत्रकार हैं. जिन्हें महिला और सामाजिक मुद्दों पर लिखने का शौक है.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय