होम -> समाज

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 10 जून, 2018 05:46 PM
कविता देवगन
कविता देवगन
  @kavitadevganwriter
  • Total Shares

सुपरस्टार विटामिनों जैसे विटामिन सी, डी और ए के बारे में बहुत बातें हो चुकी हैं और हमें पर्याप्त जानकारी भी मिल चुकी है. लेकिन एक विटामिन जो उतना ही जरुरी है जितना की विटामिन सी, डी और ए. लेकिन फिर भी इसके बारे में लोगों को न तो ज्यादा मालूम है न ही इसके बारे में ज्यादा बात होती है. वो है विटामिन बी. शायद इसलिए क्योंकि इसके बारे में बताना और समझाना थोड़ा जटिल है.

विटामिन बी वास्तव में एक कॉमप्लेक्स है और इसमें आठ पानी में घुलनशील विटामिन होते हैं- बी 1, बी 2, बी 3, बी 5, बी 6, बी 7, बी 9 और बी 12. इनमें से सभी सेल मेटाबोलिज्म में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.

vitamin Bविटामिन बी के बारे में लोगों को बहुत ही कम जानकारी है

इसके बारे में जानना इसलिए जरुरी है क्योंकि इस विटामिन का हमारे स्वास्थ्य पर दूरगामी प्रभाव होता है. उनके लाभ हमारे मेटाबोलिज्म को बढ़ावा देने, लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण, मस्तिष्क कार्य को अनुकूलित करने, जीन गतिविधि को नियंत्रित करने (कैंसर की रोकथाम के लिए महत्वपूर्ण), और मुक्त कणों के कारण होने वाले नुकसान का सामना करके स्वस्थ बाल, त्वचा और नाखूनों को बढ़ावा देकर हमारे सौंदर्य को भी बढ़ाते हैं.

इसके अलावा विटामिन ए और डी जैसे विटामिन को जमा करके रखा जा सकता है, हमारा शरीर विटामिन बी कॉमप्लेक्स को स्टोर करके नहीं रख सकता है. इसका मतलब ये है कि अतिरिक्त विटामिन बी शरीर से बाहर निकल जाता है. इसलिए हमें विटामिन बी की दैनिक आपूर्ति की आवश्यकता है.

अब समय आ गया है कि उन सभी आठों विटामिनों के साथ दोस्ती कर ली जाए:

1- विटामिन बी 1 (थायमिन):

यह डीएनए और आरएनए के सिंथेसिस, नर्वस सिस्टम के सही से काम करने, हृदय और मांसपेशियों के उचित कामकाज के लिए और कार्बोहाइड्रेट मेटाबोलिज्म के लिए भी बहुत जरुरी है. इसे "एंटी-स्ट्रेस" विटामिन भी कहा जाता है. क्योंकि यह तनाव से संबंधित मूड स्विंग को नियंत्रित करने में मदद करता है.

vitamin Bमछली खाओ रोग को दूर भगाओ

सर्वोत्तम स्रोत: मछली- ट्राउट और सालमन. सूरजमुखी के बीज.

2- विटामिन बी 2 (राइबोफ्लेविन):

बी 2 एक एंटीऑक्सिडेंट है जो शरीर को रोगों से लड़ने, ऊर्जा बनाने, और लाल रक्त कोशिकाओं का उत्पादन करने में मदद करता है.

vitamin B

सर्वोत्तम स्रोत: चीज, बादाम, मैकेरल ( छोटी समुद्री मछली)

3- विटामिन बी 3 (नायसिन):

यह पाचन तंत्र, त्वचा और नसों को ठीक से काम करने में मदद करता है और भोजन को ऊर्जा में परिवर्तित करता है.

सर्वोत्तम स्रोत: चिकन और टर्की और मूंगफली.

4- विटामिन बी 5 (पेंटोथेनिक एसिड):

यह फैट मेटाबोलिज्म और ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक है. क्योंकि यह कार्बोहाइड्रेट, वसा और प्रोटीन को ईंधन में परिवर्तित करने में मदद करता है.

सर्वोत्तम स्रोत: सूरजमुखी के बीज, एवोकैडो, सालमन

5- विटामिन बी 6 (पाइरोडॉक्सिन):

यह हीमोग्लोबिन (लाल रक्त कोशिकाओं का हिस्सा) बनाने में मदद करता है. शुगर को स्थिर करता है. और रोगों से लड़ने वाले एंटीबॉडी बना देता है. यह लिवर डीटॉक्सीफिकेशन के लिए भी महत्वपूर्ण है.

vitamin B

सर्वोत्तम स्रोत: ट्यूना मछली. और शाकाहारियों के लिए पालक और छोले.

6- विटामिन बी 7 (बायोटिन):

शरीर में महत्वपूर्ण एंजाइम बनाने के लिए यह आवश्यक है. और इसकी भूमिका के कारण इसे विटामिन एच (बालों) के रूप में भी जाना जाता है क्योंकि बालों और नाखूनों को मजबूत करने में ये महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.

vitamin B

सर्वोत्तम स्रोत: दलिया, मकई, काजू, अंडे और डेयरी

7- विटामिन बी 9 (फोलेट):

यह नर्वस सिस्टम का समर्थन करता है. कार्डियोवैस्कुलर प्रणाली को समर्थन प्रदान करता है. और लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन के लिए भी आवश्यक है.

सर्वोत्तम स्रोत: दाल, खासकर लोबिया (काला आंखों वाले मटर). मूंग दाल, पालक और शतावरी.

8- विटामिन बी 12 (कोबालिमिन):

इस विटामिन के बारे में हम सभी को जानना चाहिए. आज के समय में ये विटामिन हम में से बहुतों में इसकी कमी है. यह महत्वपूर्ण है क्योंकि यह एनीमिया (खुन की कमी) के खिलाफ सुरक्षा, थकान और कमजोरी को रोकने में मदद करता है और हमारे तंत्रिका तंत्र को ठीक से काम करने में मदद करता है.

vitamin B

सर्वश्रेष्ठ स्रोत: घोंघा, गोमांस और मैकेरल (छोटी मछली) तीन सर्वश्रेष्ठ स्रोत हैं; शाकाहारियों को ये टोफू और मशरूम से प्राप्त हो सकता है.

इनका खानपान में अधिक उपयोग करें-

इस विटामिन के बारे में ऐसी कुछ चीजें हैं जिन्हें पता होना चाहिए.

गर्मी विटामिन बी 1, विटामिन बी 5, बी 9 को तोड़ देती है, इसलिए जब इन विटामिन के स्रोतों को आप कच्चा या हल्के ढंग से पका कर खाते हैं तो इसका अधिकतम फायदा पा सकते हैं.

शराब, विटामिन के अवशोषण में रुकावट पैदा करता है. खासकर बी 1, बी 3 और फोलिक एसिड के अवशोषण में. जो लोग नियमित रूप से शराब पीते हैं उन्हें सावधान रहने की आवश्यकता है. क्योंकि लगातार शराब पीने से पेट के अस्तर को परेशान कर सकते हैं और पेट एसिड और विटामिन बी के अवशोषण को कम कर सकते हैं. इसलिए इन विटामिनों के अधिक खपत पर ध्यान केंद्रित करें.

जिन दवाइयों को आप खाते हैं उनका भी ध्यान रखें. एस्पिरिन, बीटा ब्लॉकर्स, एंटासिड्स, एंटी-अल्सर और मधुमेह और पीसीओडी नियंत्रण करने वाली कुछ दवाएं आपके शरीर की विटामिन बी 12 को अवशोषित करने की क्षमता को कम कर सकती हैं. गर्भ निरोधक गोलियों का लंबे समय तक उपयोग भी तीन विटामिन बी- फोलिक एसिड, बी 12 और बी 6 को कम कर सकता है.

(DailyO से साभार)

ये भी पढ़ें-

इस बार लोगों के लिए आम 'खट्टे' हैं

फलों का राजा आम है तो आमों का राजा अलफांसो

10 फ़ूड, जो गर्मी से बचाव वाले सुरक्षा कवच हैं

लेखक

कविता देवगन कविता देवगन @kavitadevganwriter

लेखक दिल्ली में न्यूट्रीशन स्पेशलिस्ट, वेट मैनेजमेंट कंसल्टेंट और स्वास्थ्य लेखक हैं. इन्होंने Don’t Diet! 50 Habits of Thin People की लेखिका हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय