होम -> समाज

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 30 जनवरी, 2019 03:14 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujkumarmaurya87
  • Total Shares

'मोगली' की कहानी तो हर किसी ने सुनी ही होगी. एक बच्चा जो जंगली जानवरों के साथ जंगल में ही पला-बढ़ा. इन दिनों अमेरिका के नॉर्थ कैरोलिना में भी एक 'मोगली' सामने आया है. ये बच्चा जंगल में तो नहीं पला बढ़ा, लेकिन कुछ दिन पहले लापता होने के बाद दो दिन तक जंगल में एक भालू के साथ रहा, जिसने बच्चे की देखभाल की. इसका दावा खुद बच्चे ने ही किया है. कहते हैं कि बच्चे कभी झूठ नहीं बोलते, लेकिन इस बच्चे की बात को सच भी कैसे मान लें. आखिर एक जंगली भालू किसी बच्चे की देखभाल क्यों करेगा? कुछ लोग इसे भगवान का चमत्कार कह रहे हैं तो कुछ इसे बच्चे की कल्पना मान रहे हैं.

ये कहानी है अमेरिका के नॉर्थ कैरोलिना में रहने वाले 3 साल के बच्चे केसी हैथवे की. वह 22 जनवरी को अपनी दादी के घर के बाहर दो अन्य बच्चों के साथ खेल रहा था और वहीं से लापता हो गया. जैसे ही इसकी खबर पुलिस को लगी, बच्चे की खोज में सैकड़ों वॉलिंटियर से लेकर पुलिस, हेलिकॉप्टर, ड्रोन और खोजी कुत्ते तक लगा दिए गए. दो दिन के सर्च के बाद बच्चा जंगल में एक झाड़ी में फंसा हुआ मिला. शुक्र की बात ये है कि बच्चे को सिर्फ कुछ मामूली सी चोटें आई हैं और वह बिल्कुल ठीक है.

अमेरिका, मोगली, जंगलबबच्चे की आंटी Breanna Hathaway तो दो दिन भालू के साथ रहने की बात तो एक चमत्कार ही मान रही हैं.

चमत्कार या कल्पना?

बच्चा दो दिन तक एक जंगल में फंसा रहा, जहां जंगली जानवर हैं, लेकिन वह सुरक्षित बच गया. सबसे बड़ी बात ये है कि वहां का तापमान जीरो डिग्री से भी नीचे पहुंच जाता है, जिसमें घर के बाहर बच्चा बिना गर्म कपड़ों के ही जिंदा बच गया. उल्टा बच्चे ने पुलिस को बयान दिया कि वह जंगल में एक भालू के साथ था, जिसने उसकी मदद की. ये सारी बातें इस वाकये को एक चमत्कार बना देती हैं, लेकिन अगर एक भालू और इंसान के बीच का संबंध समझा जाए तो ये बच्ची की कोरी कल्पना से अधिक और कुछ नहीं लगता.

अमेरिका, मोगली, जंगलबच्चे ने पुलिस को बयान दिया कि वह जंगल में एक भालू के साथ था, जिसने उसकी मदद की.

भालू नहीं होते दोस्त

जंगल बुक फिल्म में हमने देखा है कि मोगली का एक भालू दोस्त (बलू) होता है, लेकिन यह वास्तविकता से बहुत परे है. भालू पर रिसर्च करने वाले मोन्टाना यूनिवर्सिटी के Chris Servheen ने इस मामले में कुछ खास बातें बताई हैं. वह बताते हैं कि जंगली भालू किसी इंसान पर हमला करते हैं तो उसे जान से मार देते हैं. हो सकता है कि केसी ने किसी भालू को दूर से देखा हो और वह भालू केसी की गंध से डरकर भाग गया हो. उनका कहना है कि भालू इंसानों से डरते हैं, भले ही वह इंसान बड़ा हो या छोटा बच्चा हो. भालू को अगर घर में पालतू जानवर की तरह पाला जाए, सिर्फ तभी वह इंसान के दोस्त बन सकते हैं. क्रिस के अनुसार बच्चा सच नहीं बोल रहा है, बल्कि उसे अपनी कल्पना ही सच लग रही है.

जंगल में दो दिन बिताने के बाद भी ये बच्चा जिंदा बच गया, इसे बच्चे की आंटी Breanna Hathaway तो एक चमत्कार ही मान रही हैं. उन्होंने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा भी है कि भगवान ने उसे सुरक्षित रखने के लिए एक दोस्त भेज दिया था. बच्चा फिलहाल अस्पताल में है और ठीक हो रहा है, लेकिन बच्चे की बातें सभी को हैरान कर रही है. उस जंगल में दो दिन तक क्या हुआ, ये सिर्फ उस बच्चे केसी को ही पता है. अब ये देखना दिसचस्प होगा कि अस्पताल से सही होकर घर जाने के बाद ये बच्चा कुछ और खुलासे करता है या फिर अपनी भालू वाली बात पर ही टिका रहता है.

ये भी पढ़ें-

ऑक्सफोर्ड में 'नारी शक्ति', जीत नहीं संघर्ष की कहानी है

Monkey Fever फिर लौटा लोगों का चैन छीनने

दूध लूटकर दुग्धाभिषेक करने वालों को रोकना भी रजनीकांत की ही जिम्मेदारी है!

Mogli Story, Three Yearl Old Boy In Jungle, Boy Missing In Jungle

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय