होम -> समाज

 |  7-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 19 सितम्बर, 2019 05:55 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujmaurya87
  • Total Shares

जब से नया संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट (Motor Vehicles Act) भारत में लागू हुआ है, तब से बहुत से लोग नए नियमों की आलोचना भी कर रहे हैं. यहां तक कि मध्य प्रदेश और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों ने तो इस संसोधित मोटर व्हीकल एक्ट को लागू तक करने से मना कर दिया. उनका तर्क है कि जुर्माना बहुत अधिक है. वैसे जुर्माना तो वाकई अधिक है, लेकिन ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वाले कम जुर्माने से डरते भी तो नहीं हैं. गुरुग्राम में एक शख्स की 15 हजार की स्कूटी का 23 हजार का चालान कटा था, तो वह वाकया सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ. ओडिशा के संबलपुर में एक ट्रक का 86,500 रुपए का चालान कटा है. नए नियम के मुताबिक को अगर आप चप्पल या सैंडिल पहन कर गियर वाली बाइक चलाते हैं तो भी चालान कटेगा और ये गलती दोबारा की तो जेल भी हो सकती है. वैसे स्पेन में भी कार चलाते समय जूते पहने होना जरूरी है, ताकि कार पर अच्छी ग्रिप बनी रहे.

मोटर व्हीकल एक्ट 2019, यातायात, नियम, पुलिसअन्य देशों में ऐसे बहुत से ऐसे नियम हैं, जिनके बारे में जानने के बाद आपको भारत के ट्रैफिक नियम सख्त नहीं लगेंगे.

संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट के नियम वाकई सख्त हैं, लेकिन क्या होगा अगर आपसे कहा जाए कि नियम तोड़ने पर आपको कोड़े मारे जाएंगे? या आपसे कहें कि सड़क पर किसी हालत में भी गाड़ी नहीं रोकनी है वरना चालान कटेगा, भले ही आपके सामने कोई पैदलयात्री क्यों ना आ जाए? अन्य देशों में ऐसे बहुत से ऐसे नियम हैं, जिनके बारे में जानने के बाद आपको भारत के ट्रैफिक नियम सख्त नहीं लगेंगे.

कार चढ़ा दो, लेकिन रोको मत

चीन में ट्रैफिक को लेकर एक सख्त और अजीब सा कानून है. यहां व्यस्त सड़कों पर भी कार रोकना सख्त मना है. यहां तक कि पैदल चलने वालों के लिए भी आप कार नहीं रोक सकते हैं, वरना चालान कट जाएगा. क्रॉसिंग के पास भी कार रोकना मना है. बावजूद इसके अगर आप कार रोकते हैं तो आपको 5 डॉलर यानी करीब 360 रुपए का जुर्माना भरना पड़ सकता है. वैसे तो पैदल चलने वालों के लिए ये नियम जानलेवा है, लेकिन चीन में ये नियम पूरी सख्ती से लागू है.

टक्कर लग गई तो जान से मार देते हैं चीनी ड्राइवर !

चीन में बहुत से ऐसे मामले सामने आए, जिनमें अगर किसी को कार से टक्कर लग जाती है तो गाड़ी का ड्राइवर उसे शख्स को जान से ही मार देता है. दरअसल, अगर चीन में कार एक्सिडेंट की वजह से किसी की मौत हो जाती है तो ड्राइवर को 30-50 हजार डॉलर का जुर्माना देना होता है, जबकि वह घायल हो जाता है तो उसके इलाज का पूरा खर्च और सही होने तक उसका खर्च ड्राइवर को उठाना पड़ता है. एक मामले में ये खर्च 4 लाख डॉलर तक पहुंच गया था, जिसमें व्यक्ति सड़क दुर्घटना के बाद विकलांग हो गया था.

मोटर व्हीकल एक्ट 2019, यातायात, नियम, पुलिसचीन में व्यस्त सड़कों पर भी कार रोकना मना है, भले ही आगे पैदलयात्री आ जाए.

नशे में गाड़ी चलाने पर कोड़े मारने की सजा

अबू धाबी में नशे में धुत होकर गाड़ी चलाने पर एक शख्स को 80 कोड़े मारने की सजा दी गई थी.

नशे में गाड़ी चलाने पर सबसे सख्त जुर्माना ताइवान में है

भारत में नए कानून के तहत नशे में गाड़ी चलाने पर 10 हजार रुपए का जुर्माना लगता है, जो लोगों को काफी सख्त कानून लग रहा है. ताइवान में नशे में गाड़ी चलाने पर 2 साल की सजा और 6700 डॉलर यानी करीब 4 लाख 82 हजार रुपए के जुर्माने का प्रावधान है. अगर नशे की हालत में गाड़ी चलाने पर एक्सिडेंट होता है तो 7 साल की जेल होगी और अगर उस एक्सिडेंट में कोई मारा जाता है तो 10 साल सलाखों के पीछे बिताने होंगे.

हमेशा के लिए जब्त हो जाती है गाड़ी

हॉलैंड में तेज रफ्तार में गाड़ी चलाने पर गाड़ी को हमेशा के लिए जब्त कर लिया जाता है.

औकात के हिसाब से करोड़ों रुपए तक हो सकता है जुर्माना

फिनलैंड में अगर आप तेज रफ्तार कार चलाते पकड़े जाते हैं तो आपका चालान काट दिया जाता है. वहां पर जुर्माने की रकत व्यक्ति की सालाना आय के हिसाब से निर्धारित होती है. आपको बता दें कि एक अरबपति का तेज रफ्तार से कार चलाने पर चालान कट चुका है, जिसके तहत उसे 5 लाख पाउंड यानी करीब 4 करोड़ 37 लाख रुपए का जुर्माना भरना पड़ा.

कार गंदी हुई तो चालान कटेगा

रूस में अगर आप सड़क पर गंदी कार लेकर निकल पड़े हैं, तो साथ कम से कम 50 डॉलर रखना ही समझदारी है. इसकी वजह ये है कि रूस में गंदी गाड़ी होने पर ट्रैफिक पुलिस चालान काट देती है, जिसकी रकम करीब 50 डॉलर यानी लगभग 3500 रुपए तक होती है. अगर नंबर प्लेट बहुत ही अधिक गंदी है तो आप पर 1000 पाउंड तक का फाइन लग सकता है.

मोटर व्हीकल एक्ट 2019, यातायात, नियम, पुलिसरूस में अगर आप सड़क पर गंदी कार लेकर निकल पड़े हैं, तो आपका चालान कट सकता है.

पैदलयात्रियों को चिढ़ाना या उन पर कीचड़ उछालना पड़ता है भारी

जापान में गाड़ी चलाते समय इस बात का ध्यान रखना होता है कि तेज रफ्तार कार से किसी भी पैदलयात्री पर कीचड़ ना उछले. सड़क किनारे जमा पानी अगर पैदलयात्रियों पर गया तो चालान कट सकता है.

ऐसे ही मैरीलैंड में अगर कोई कार चलाते समय पैदल चलने वालों को कोसता है या चिढ़ाता है तो इसका नुकसान उसे उठाना पड़ सकता है. ऐसे में उसका 100 डॉलर यानी करीब 7200 रुपए का चालान हो सकता है. अभी भारत में ऐसा ट्रैफिक नियम लागू होना बाकी है.

बिना शर्ट के कार नहीं चला सकते

ये अजीबोगरीब नियम थाईलैंड में है. यहां पर आपको कार चलाते समय शर्ट पहनना जरूरी है. देखा जाए तो ये एक तरह का ड्रेस कोड ही है, जैसा कि टैक्सी या बस ड्राइवरों के लिए होता है. भले ही आपको कार चलाते वक्त शर्ट में गर्मी लग रही हो, लेकिन शर्ट उतारी तो 5 डॉलर यानी करीब 360 रुपए का जुर्माना लग सकता है.

हर सोमवार को इस नंबर की गाड़ी का कटता है चालान

मनीला में अगर आप सोमवार को अपनी कार लेकर घर से बाहर निकलते हैं तो पहले ये सुनिश्चित कर लें आपकी गाड़ी का आखिरी नंबर 1 या 2 नहीं है. सोमवार को ऐसी गाड़ियों का चालान कटता है. दरअसल, ये नियम ठीक वैसा है, जैसा दिल्ली का ऑड ईवन था. ये नियम इसी लिए लागू किया गया है ताकि सड़कों पर गाड़ियां कम रहें. सोमवार को 1 और 2, मंगलवार को 3 और 4, बुधवार को 5 और 6, गुरुवार को 7 और 8, शुक्रवार को 9 और 0 पर जिन गाड़ियों का नंबर खत्म होता है, उन्हें इस दिन सड़क पर निकालने पर जुर्माना भरना होगा.

रविवार को काली कार सड़क पर उतारी, तो जुर्माना लगेगा

इसी तरह का कानून डेनेवर में भी है. यहां के लोग रविवार को काले रंग की कार नहीं निकाल सकते. अगर आपने रविवार को काले रंग की कार निकाली तो आपको जुर्माना भरना पड़ सकता है.

दिन हो या रात, गाड़ी की लाइट बंद नहीं कर सकते

ये नियम है स्वीडन में, जहां दिन हो या रात, कार की लाइटें बंद नहीं कर सकते. दरअसल, सर्दियों के समय में सूरज की रोशनी कम होती है, जिसके चलते शहर में हल्के अंधेरे जैसी स्थिति रहती है, ऐसे में हर वक्त लाइट जलाए रखना मजबूरी भी है और जरूरी भी. इसीलिए इसे ट्रैफिक नियम बना दिया गया है.

जाते-जाते भूटान के बारे में भी कुछ जान लीजिए. जहां भारत समेत दुनिया भर के सख्त ट्रैफिक नियमों के बारे में आप जान चुके हैं, वहीं दूसरी ओर भूटान में एक भी ट्रैफिक लाइट नहीं है. जो इलाके थोड़े व्यस्त हैं, वहां पर पुलिस तैनात रहती है, लेकिन ट्रैफिक लाइट की जरूरत महसूस नहीं होती. आपको बता दें कि एक बार कुछ जगहों पर ट्रैफिक लाइट्स लगाई भी गई थीं, लेकिन लोगों को वो पसंद नहीं आईं, तो उन्हें हटा दिया गया. वैसे अमेरिका के अलाबामा का ट्रैफिक रूल जाते-जाते आपके चेहरे पर स्माइल दे देगा और सोच में भी डाल देगा. यहां नियम है कि आंखों पर पट्टी बांधकर कार नहीं चला सकते. मतलब हद है, ये नियम बनाया किसने और क्यों? सड़क पर आंखों पर पट्टी बांधकर कौन कार चलाता है.

ये भी पढ़ें-

इस शख्स का 23 हजार रुपए का चालान कटा तो सहानुभूति न दिखाएं

Motor vehicle act नकारने वाले 4 राज्‍यों के लिए तमिलनाडु सबक

ट्रैफिक नियम अब न माने तो कभी नहीं मान पाएंगे लोग

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय