होम -> समाज

 |  7-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 14 फरवरी, 2020 01:35 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

मुराद गल्फ जा रहा था अब्बा के बड़े अरमान थे. मगर लड़का नामुराद निकला और अब सलाखों के पीछे हैं. वजह स्मगलिंग. भारतीय नागरिक मुराद आलम एयर इंडिया की फ्लाइट नंबर-AI-995 से दुबई जाने वाला था. अपने सामान के साथ एअरपोर्ट पहुंचे मुराद के चाल चलन पर पर सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्योरिटी फोर्स (CISF) को शक हुआ. जांच हुई तो पुलिस सकते में आ गई. मुराद ने तस्करी के लिए जबरदस्त प्लानिंग की थी. उसने सुरक्षा में सेंध लगाने के लिए मूंगफली, बिस्किट, मटन के पीस जैसी चीजों के अंदर नोट छिपाकर रखा थे. मतलब मुराद की चेकिंग के वक़्त हाल कुछ ऐसा था कि CISF के जवाब जिस भी चीज को खोलते उसमें से करंसी निकलती.

Murad, Smuggler, Airport, Currency, Arrestस्मगलिंग के अनोखे तरीके के चलते गिरफ्तार हुआ मुराद

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर जंगल की आग की तरफ फैल गया है. लोगों का कहना है कि जितना दिमाग लड़के ने तस्करी के लिए लगाया जरूर है जासूसी हॉलीवुड फिल्मों का शौक़ीन था.

ट्विटर पर वायरल हुआ वीडियो अगर देखा जाए तो मिल रहा है कि सिक्योरिटी वाले बिस्कुटों के बाद मुराद की मूंगफलियां चेक कर रहे हैं जिनमें करंसी थी. कोई पूछे इससे पहले ही बता दें कि मुराद जो करंसी अपने साथ ले जा रहा था उनमें  ढेर सारे सऊदी रियाल, कतर रियाल, कुवैती दीनार, ओमानी रियाल और यूरो रखे हुए थे. सुरक्षाकर्मियों के जोड़ घटने के बाद पता चला है की मुराद जो करंसी अपने साथ ले जा रहा था उसकी कीमत 45 लाख रुपए के आस पास थी.

इस नामुरादी के बाद मुराद साहब जेल हैं मगर बात क्योंकि स्मगलिंग के अनोखे तौर तरीकों की हुई है तो आइये जानें स्मगलिंग के कुछ बेहद दिलचस्प किस्से और किस्से भी ऐसे जिन्हें जानने के बाद शायद आप भी हैरत में पड़ जाएं.

सोना पीस कर डस्ट बनाई उसे डिटर्जेंट में मिलाया

दरिबा लिंडम, भारतीय राजस्व सेवा के अधीन सीमा शुल्क, आबकारी और नारकोटिक्स विभाग में असिस्टंट कमिश्नर हैं. उन्होंने तस्करी से जुड़े कई दिलचस्प मामलों की जानकारी दी है. लिंडम ने एक मामला वो भी बताया जिसमेंएक आदमी ने सोने का पाउडर बना दिया था और उसे डिटर्जेंट में मिलाया था.

Murad, Smuggler, Airport, Currency, Arrestकस्टम की असिस्टंट कमिश्नर दरिबा लिंडम ने कई ऐसे मामले पकड़े हैं जिन्हें सुनकर आदमी हैरत में पड़ जाएगा

जब इसे जांच के लिए एक्स रे मशीन में डाला साफ़ तस्वीर निकल कर सामने नहीं आई. पर सुरक्षाकर्मियों को शक था कि कुछ गड़बड़ है. लिंडम का एक साथी लगातार तस्करी होनी की बात नकार रहा था मगर जब जांच हुई तो पता चला कि सोने की तस्करी हो रही है और ये तस्करी कोई 50 या 100 ग्राम नहीं बल्कि किलो भर की थी.

हेयर बैंड में सोना

दरिबा लिंडम का साफ़ कहना है कि तस्करी के मामले में रुपए पैसों के मुकाबले सोनाहमेशा ही लोगों की पहली पसंद रहा है तो इसकी तस्करी भी बड़े रोचक तरीके से होती है. एक घटना का जिक्र करते हुए लिंडम ने बताया कि एक बार उनका सामना एक महिला से हुआ था जो अपने हेयर बैंड के जरिये सोने को इधर से उधर ले जा रही थी. महिला ने हेयर बैंड लगाया था और उसपर मेटल से नक्काशी हुई थी.

जब जांच हुई तो पुरुष सुरक्षाकर्मियों को ये एक बेहद आम ही घटना लगी मगर महिला लिंडम को शक हुआ. सिक्योरिटी चेक में क्लिरेंस मिलने के बावजूद महिला को रोका गया  और जब जांच हुई तो पता चला कि महिला सोने को तस्करी करके ले जा रही थी.

लिंडम के अनुसार एक महिला होने के नाते उन्हें पता है कि हेयर बैंड का वजन कितना होता है. ध्यान रहे कि महिला का हेयरबैंड औसत से काफी ज्यादा था और एक महिला ही ये जानती है कि उसका सही वजन और आकर क्या होगा जिससे उसे धारण करने में तकलीफ न हो.

मैगी मसाले और सूप के पैकेट से पकड़ा गया सोना

अब इसे हिंदुस्तान जैसे देश में रहने वालों के मन में सोना रखने की हवस ही कही जाएगी कि लोग ऐसे ऐसे अंदाज में तस्करी करते हैं कि क्या ही बताया जाए. लिंडम के सामने ऐसे भी मामले आए हैं जब अपने पास सोने की चाह रखने वाले लोगों ने सोने की तस्करी के लिए मैगी मसाले और सूप मसाले पैकटों का इस्तेमाल किया.

इस समय भी सुरक्षाकर्मियों के माथे पर खूब चिंता के बल पड़े लोगों को ये समझ नहीं आया कि क्या किया जाए. फिर मौजूद लोगों ने धैर्य से काम लिया और चोरी पकड़ी गई.

जब पूरे परिवार ने की तस्करी

लिंडम ने अपने साथ हुई एक बेहद दिलचस्प घटना का हवाला देते हुए बताया कि एक बार उन्होंने पूरे परिवार जिसमें एक व्यक्ति उसकी पत्नी, उसकी भाभी और 2 बच्चे शामिल थे, को पकड़ा. परिवार करीब 700 सोने की तस्करी कर रहा था.

इस मामले में दिलचस्प ये था कि कुछ सोना तो उन लोगों ने धारण किया हुआ था. वहीं कुछ को टाइगर बाम, डव क्रीम और शैम्पू की दो बोतलों में छिपाया गया था. कल्पना  करना भी मुश्किल है कि अपने पूरे परिवार के साथ यात्रा कर रहा कोई व्यक्ति ऐसी तस्करी में शामिल है.

बिस्किट में जब छेद करके स्मगल हुए पैसे

लोग कितने शातिर है और उन्होंने सोने की तस्करी के लिए कितने जुआड़ भिड़ाए हैं इसे हम उस घटना से समझ सकते हैं जब बिस्कुट में ड्रिल से इस तरह से छेद किया गया कि उसमें करंसी फिट हो जाए. दिलचस्प बात ये थी कि इस मामले में बिस्किट में छेद कुछ इस अंदाज में किया गया था कि पैकेट में मौजूद एक भी बिस्किट टूटा नहीं.

बिस्किट्स जब एक्स रे मशीन में चेक हुए तो भी सुरक्षा कर्मी ये पता लगाने में नाकाम थे कि कुछ गड़बड़ हुई है. इस मामले में अपराधी ने बहुत दिमाग से काम लिया और अपना सामान यानी उन बिस्किट्स को ऐसे पैक किया कि कोई उस चोरी को पकड़ न पाए और वो साधारण सा खाद्य प्रदार्थ लगे.

जब बैग में सिली गई ड्रग्स

तस्करी का पता लगाना इतना भी आसान नहीं है. इसके लिए सुरक्षाकर्मी को जहां एक तरफ बहुत सतर्क रहना पड़ता है तो वहीं प्रेजेंस ऑफ माइंड भी केसों की गुत्थी सुलझाने में मददगार साबित होता है. लिंडम एक घटना का जिक्र करते हुए बताती हैं एक बार उन्होंने एक लड़के को अरेस्ट किया था.

लड़के की पूरी ट्रिप स्पॉन्सर थी और उसे किसी अन्य व्यक्ति ने साउथ अफ्रीका बुलाया था और उसे किसी राजा की तरह भेजा था. एअरपोर्ट पर सुरक्षाधिकारियों को शक हुआ. उसकी तलाशी ली गई लेकिन नतीजा कुछ ख़ास न निकला जिस बैग पर सुरक्षाकर्मियों को शक था उसमें सिवाए कपड़ों के कुछ और नहीं मिला.

चेकिंग हो जाने के बाद भी सुरक्षाकर्मियों का शक बना हुआ था. आखिरकार स्निफर डॉग्स की मदद ली गई. पता चला कि जिस बैग में कपड़े रखे हुए थे उसके कपड़े में खतरनाक ड्रग्स रखकर सिलाई की गई थी. लड़के को इस बात की कोई जानकारी नहीं थी ये सब होता देख वो खुद भौचक्का रह गया.

महिलाओं ने योनी तो पुरुषों ने मलद्वार का किया तस्करी के लिए इस्तेमाल

जैसा कि हम बता चुके हैं सोने के लिए भारतीय कुछ भी कर सकते हैं तो तमाम मामले ऐसे भी आए हैं जब सोने से लेकर हीरे तक की तस्करी में महिलाओं ने योनी तो पुरुषों ने मलद्वार का किया. ऐसी स्थिति में उन्हें खूब खाना खिलाया गया और बाथरूम भेजकर उन्हें पकड़ा गया.

ये भी पढ़ें -

Gold price: कहां तक पहुंचेगा सोने का दाम? जानिए...

कैरी बैग के पैसे चुकाने से पहले पढ़ लीजिए ये नियम, आंखें खुल जाएंगी !

जानिए, Vodafone का जिंदा रहना क्यों जरूरी है

Smuggling In India, Gold Smuggling In India, Smuggling Challenge

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय