होम -> समाज

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 05 सितम्बर, 2020 08:16 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

4 महीनों के अंतराल में भारत ने चीन पर 3 बार डिजिटल स्ट्राइक की और अपने दबंग होने का परिचय दिया. पहली स्ट्राइक में टिक टॉक (Tiktok Ban In India) तो तीसरी में पब्जी (Pubg Ban In India) समेत 118 ऐप्स पर बैन लगाकर भले ही एक राष्ट्र के रूप में भारत सुर्खियां बटोरने में कामयाब हुआ हो लेकिन युवा आहत हैं. इस खबर के बाद कि सरकार ने पब्जी पर नकेल कस दी है देश का वो युवा जो अपने सर्किल में अपने को गेमर कहलाना पसंद करता है सदमे में है. तमाम ऐसे गेमर्स हैं जिनको महसूस हो रहा है कि इस फैसले के बाद उनकी दुनिया उजड़ गई है. कुल मिलाकर भारत में पब्जी बैन होने से स्थिति तनावपूर्ण थी. ऐसे में वो तमाम लोग जो पब्जी के चलते उदास हैं उन्हें खिलाड़ियों के खिलाड़ी , सबसे बड़े खिलाड़ी अक्षय कुमार (Akshay Kumar) ने बड़ी राहत दी है. एक्टर अक्षय कुमार गेमर्स के लिए आत्मनिर्भर बैटल रॉयल गेम Fearless And United-Guards FAU-G गेम लेकर आ रहे हैं. चूंकि अक्षय का ये नया गेम पब्जी पर भारत (India) द्वारा लगाए गए प्रतिबंध के फौरन बाद आ रहा है, इसलिए माना जा रहा है कि न केवल ये यूजर्स के लिए किसी वरदान की तरह है. बल्कि इससे अक्षय को भी खूब फायदा होगा.

Pubg Ban, Pubg mobile  Faug, Game, Akshay Kumar, India,अक्षय कुमार ने पब्जी के यूजर्स को बड़ी राहत दी है

इस गेम की खास बात इसपर लगा 'आत्मनिर्भर' का टैग है. वो तमाम गेमर्स जो 'आत्मनिर्भर भारत' को सपोर्ट करते हैं उन सभी से गुजारिश की गई है कि वो इसे सफल बनाएं.

अक्षय ने अपने अलग अलग सोशल मीडिया अकाउंट्स पर इस नए गेम से जुड़ी जानकारियों को साझा किया है. अक्षय ने ट्वीट करते हुए कहा है कि 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर अभियान को सपॉर्ट करते हुए मैं एक ऐक्शन गेम Fearless And United-Guards FAU-G प्रेजेंट कर रहा हूं. अक्षय ने इस गेम को सेना से भी जोड़ा है और कहा है कि एंटरनेटमेंट के अलावा प्लेयर्स हमारे सैनिकों की शहादत के बारे में भी सीखेंगे.'

गेम के बारे में बात करते हुए अक्षय ने ये भी कहा है कि इस गेम से मिलने वाले रेवन्यू का 20 प्रतिशत भारत के वीर ट्रस्ट को दिया जाएगा, जो भारतीय सेना से जुड़े लोगों के लिए काम करता है.

FAU-G अक्षय कुमार का पहला गेमिंग वेंचर है जिसपर उन्होंने राष्ट्रवाद और सेना का तड़का लगाया है. साथ ही हमने ये भी बताया था कि ये गेम भारत सरकार द्वारा पब्जी पर लगाए गए बैन के फौरन बाद आया है इसलिए इतना तो निश्चित है कि इससे अक्षय को बड़ा फायदा होने वाला है. यानी अक्षय कुमार ने एक आपदा का फायदा उठाया और उसे अवसर में परिवर्तित किया.

गौरतलब है कि पब्जी के मद्देनजर भारत में पब्जी गेमर्स की संख्या लाखों में है. साथ ही हिंदुस्तान जैसे देश में अच्छे गेम्स की खासी कमी भी देखने को मिलती है. साफ है कि गेम्स के मद्देनजर भारत का युवा दिशाहीन प्रतीत हो रहा है. अब जबकि अक्षय कुमार का ये इनिशिएटिव सामने आ गया है तो कहा यही जा रहा है कि यदि ये चल निकला और साथ ही गेमर्स को अक्षय के गेम्स के फीचर अच्छे लगे तो इसका चल निकलना निश्चित है.

बहरहाल जैसा कि स्वाभाविक था इस खबर के बाद सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाओं की बाढ़ आ गयी है. सोशल मीडिया पर जहां एक बड़ा वर्ग अक्षय के साथ है तो वहीं उन लोगों की कमी नहीं है जिनका मानना है कि अक्षय राष्ट्रवाद के अलावा फौजियों की आड़ लेकर खुद के फायदे के बारे में सोच रहे हैं.

आइये नजर डालें कुछ चुनिंदा प्रतिक्रियाओं पर और समझने का प्रयास करें कि लोग अक्षय कुमार की इस पहल को किस तरह देख रहे हैं.

मजेदार बात ये है कि अक्षय के गेम ने ट्विटर पर सुगबुगाहट तेज कर दी है.

बात आलोचना की हुई है तो हिंदुस्तान में एक बड़ा वर्ग ऐसा है जो मौका कोई भी हो आलोचना का बहाना खोज लेता है.

जब विषय राष्ट्रवाद हो और उसमें अक्षय जुड़े हों तो उन्हें समर्थन मिलना भी लाजमी हैं.

तमाम ट्विटर सेलेब्स अक्षय की इस पहल को वक़्त की ज़रुरत बता रहे हैं.

बहरहाल कोई कुछ भी कह लें कितनी भी आलोचना क्यों न हो जाए लेकिन इस बात में कोई शक नहीं है कि पब्जी बैन के बाद जो खबर अक्षय कुमार ने दी है वो एक मरुस्थल में भटकते आदमी के लिए फ्रिज से निकली ठंडी पानी की बोतल सरीखी है. अक्षय ने गेमर्स की परेशानियां दूर की हैं देखना दिलचस्प रहेगा कि इस गेम की लॉन्चिंग के बाद गेमर्स इसे किस तरह लेते हैं.

ये भी पढ़ें-

PUBG Ban: चीन पर Tiktok की तर्ज पर एक और हमला!

चीन की चालाकी के पीछे क्या है उसकी असली चाल, जानिए...

भारत में PUBG ban पर हंस रहे Tinder की खुशी पाकिस्तान ने छीन ली!

Pubg Ban, Pubg Mobile, Faug Game

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय