होम -> सोशल मीडिया

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 01 सितम्बर, 2019 02:35 PM
आईचौक
आईचौक
  @iChowk
  • Total Shares

'कितना भी भूखा हो, शेर कभी घास नहीं खाता'

ये वो डायलॉग है जो अक्सर आपने लोगों से उन्हें अपनी ताकत दिखाने के अंदाज में बोलते हुए सुना होगा. लोग ऐसा इसलिए कहते हैं कि शेर एक मांसाहारी जानवर है, जो सिर्फ मांस-खाता है, ना कि शाकाहारी पशुओं की तरह मैदान की घास चरता है. लेकिन इसी बीच सोशल मीडिया पर गुजरात के एक शेर का ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह घास खाता दिख रहा है. जी हां... घास. शेर घास खा रहा है, इसी वजह से ये वीडियो वायरल हुआ है. सोशल मीडिया पर अब इस बात को लेकर बहस छिड़ गई है कि शेर घास खाता है या नहीं. वैसे तो आप भी यही कहेंगे कि शेर घास-फूस नहीं खाता, वह मांस खाता है, लेकिन सच्चाई हमारी-आपकी इस अवधारणा से अलग है. शेर घास भी खाता है, ये सच है और इसका तर्क बेहद दिलचस्प है. आगे बढ़ने से पहले एक बार वो वीडियो देख लीजिए, जिसमें शेर घास खा रहा है.

ये वीडियो देखकर अधिकतर लोग हैरान हुए होंगे, लेकिन बहुत से लोग ऐसे भी होंगे, जिन्होंने अपने ही कुत्ते-बिल्लियों को कई बार घास खाते देखा होगा. खैर, भले ही बहुत से लोगों के कुत्ते-बिल्ली भी गुजरात के इस शेर की तरह घास खाते दिखे हों, लेकिन कम ही लोग जानते हैं कि जानवरों के ऐसा करने की असल वजह क्या होती है. चलिए आपको बताते हैं कि शेर या फिर कुत्ते-बिल्ली घास क्यों खाते हैं-

शेर घास क्यों खाता है, ये जानने से पहले जानना होगा कि कुत्ते और बिल्ली घास क्यों खाते हैं. शुरुआत करते हैं कुत्ते से. कुत्ते के घास खाने के पीछे कई थ्योरी हैं. पहली ये कि कुत्ते सर्वाहारी होते हैं, यानी वह मांस भी खाते हैं और सब्जी-अनाज भी. जहां एक ओर जंगली कुत्ते फल, सब्जी और अन्य प्लांट अपनी डाइट के हिस्से के तौर पर खाते हैं, वहीं पालतू कुत्तों के लिए डाइट को बनाए रखने के लिए सबसे आसानी से घास ही मिलती है. दूसरी थ्योरी ये है कि जब भी कुत्तों को अपच होता है यानी उनका खाना नहीं पचता और तो कुत्ते घास खाते हैं. घास से उनके पेट में इरिटेशन सी होती है, जिसके चलते उन्हें उल्टी आती है. जब भी कुत्ते जरूरत से अधिक ये उल्टा-सीधा खा लेते हैं तो वह घास खाकर उल्टी करते हैं और अपनी अपच की समस्या से छुटकारा पाते हैं. और तीसरी थ्योरी ये है कि कुछ कुत्तों को घास खाना अच्छा लगता है. यानी कुत्तों का घास खाना पूरी तरह से सुरक्षित है और इससे उनकी अपच की समस्या दूर होती है.

शेर, घास, वायरल वीडियो, सोशल मीडियागुजरात में एक शेर का घास खाते हुए वायरल हुआ वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर बहस की वजह बन गया है.

अब बात बिल्ली की. सबसे पहले तो ये समझ लें कि बिल्ली की हर प्रजाति घास भी खाती है, भले ही वह कोई बिल्ली हो, शेर हो, तेंदुआ हो या टाइगर हो. घरेलू बिल्लियां भले ही दूध पीने के साथ-साथ रोटी और चावल भी खाती हैं, लेकिन बिल्लियां मांसाहारी प्राणी होती हैं. भले ही बात जंगली बिल्ली की हो या शेर-चीते की, सभी मांसाहारी होते हैं. जब कभी बिल्लियां किसी चिड़िया, चूहे या फिर किसी और चीज का शिकार कर के उसे खाती हैं, तो उनके बाल, पंख और हड्डियां भी खा जाती हैं, जिन्हें पचाने के लिए उन्हें घास का सहारा लेना पड़ता है. यानी घास बिल्लियों के लिए भी पाचक का काम करती है, जैसे कुत्तों के लिए करती है. इतना ही नहीं, घास में फोलिक एसिड होता है, जो बिल्लियों की डाइट में सप्लिमेंट का काम करता है. और जिस तरह कुत्ते कुछ चुनिंदा घास की चुनिंदा पत्तियां खाते हैं, वैसे ही बिल्लियां भी चुनिंदा घास ही खाती हैं.

इसी तरह शेर भी अपने शिकार के पंख, बाल और हड्डियों को पचाने के लिए घास खाते हैं. यानी वायरल वीडियो में जो दिख रहा है वह बिल्कुल सच है, लेकिन उसके पीछे का तर्क ये है कि शेर पाचन के लिए घास खाता है. वैसे अगर आपके घर के कुत्ते-बिल्ली भी घास खाएं तो अब आप परेशान नहीं होंगे, लेकिन ध्यान रहे अगर वह बार-बार ऐसा करते हैं तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं, क्योंकि हो सकता है उनके पेट में कोई समस्या हो गई हो.

ये भी पढ़ें-

राहुल गांधी की गलतियां अब कांग्रेस की 'लाइन ऑफ कंट्रोल' के पार

चौधरी फवाद हुसैन ने पाकिस्‍तान की पैदाइश का कन्फ्यूजन जमीन पर ला दिया

केजरीवाल का हर 'जरूरत' को फ्री करना इत्तेफाक कम, चुनावी ज्‍यादा

लेखक

आईचौक आईचौक @ichowk

इंडिया टुडे ग्रुप का ऑनलाइन ओपिनियन प्लेटफॉर्म.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय