charcha me| 

होम -> सोशल मीडिया

 |  एक अलग नज़रिया  |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 22 जुलाई, 2022 08:30 PM
ज्योति गुप्ता
ज्योति गुप्ता
  @jyoti.gupta.01
  • Total Shares

फ़िनलैंड (Finland) की रहने वाली एलेक्सांड्रा जैस्मिन (Aleksandra Jasmin) को देखकर लगता है कि लोग अलग दिखने के चक्कर में पागल होते जा रहे हैं. जैस्मीन ने अपने पूरे शरीर पर टैटू बना रखा है. उनके पूरे शरीर पर हर तरफ इंक ही इंक है, त्वचा तो कहीं दिख ही नहीं रही है.

उनका कहना है कि यह उनका शौक है. उनके पेट पर एक बड़ी सी बिल्ली और नाभि के नीचे एक खोपड़ी का टैटू है. उनकी पीठ पर ड्रैगन बना हुआ है. हमने उनका इंस्टाग्राम खंगाल मारा लेकिन उनकी एक भी ऐसी पुरानी तस्वीर नहीं मिली जिस पर कोई टैटू ना बना हो.

इससे यह समझ में आता है कि अपने शरीर पर टैटू बनाने का उनका पागलपन कितना पुराना है. उन्होंने अपने इंस्टाग्राम में 3 बच्चों की मां होने का जिक्र किया है. जैस्मीन खुद एक टैटू आर्टिस्ट (Tattoo Artist) हैं. वे जब दूसरों के शरीर पर टैटू नहीं बना रही होतीं तो अपने बॉडी पर टैटू कर रही होती हैं. इनके सनकीपन का इससे अधिक और क्या सबूत हो सकता है?

हम तो इसे सनक ही कहेंगे. उन्होंने तो अपने चेहरे पर भी ढेर सारे टैटू बना रखे हैं. ऐसा लग रहा है वह किसी और ग्रह से धरती पर आई हैं. उन्होंने बिना कपड़े पहने अपनी कुछ शेयर की हैं. ऐसा लग रहा है कि वे हॉलीवुड फिल्म की कोई कैरेक्टर हैं. या फिर वह कोई एलियन हैं. कई लोगों को उनके चेहरे को देखकर डर लग सकता है.

Finland tattoo artist Aleksandra Jasmin, Finland, Aleksandra Jasmin, mother body in ink, tattooed motherदेखकर हैरानी होती है कि अलग दिखने के लिए लोग क्या-क्या कर सकते हैं

कई रिपोर्ट्स में इस बात का दावा किया गया है कि एलेक्सांड्रा जैस्मिन आलसी हैं और उन्हें कपड़ें पहनना पसंद नहीं इसलिए टैटू बनवा लिया है. हालांकि मुझे ऐसा नहीं लगता, क्योंकि अपनी तस्वीरों में तो ये कपड़े पहने हुए हैं. इनकी तस्वीरों को देखकर कुछ लोगों ने सुंदर कहा है तो कुछ मजाक उड़ा रहे हैं.

खैर, इस लुक को पाना इतना आसाना नहीं था क्योंकि टैटू बनवाने में पैसा, समय और मेहनत तीनों लगती है. समय और मेहनत तो जैस्मिन के पास था लेकिन खुद को इस तरह दिखाने में उन्होंने अपनी कमाई के 16 लाख 30 हजार रूपए खर्च कर दिए.

टैटू से होने सेहत को होने वाला खतरा-

टैटू बनाते समय सुइयों को शरीर में गहराई तक चुभाया जाता है. इसके कारण मांसपेशियों को नुकसान पहुंच सकता है. टैटू वाली त्वचा पर अधिक पसीना नहीं आता. जिससे शरीर कम ठंडा होता है. इसलिए दिल को नुकसान पहुंचता है. टैटू बनवाने से सोराइसिस बीमारी के होने का खतरा रहता है. अगर एक इंसान पर इस्तेमाल की गई सुई का दूसरे वयक्ति पर लगा दिया जाए तो त्वचा संबंधित रोग, हेपेटाइटिस बी और एचआईवी होने का खतरा बढ़ सकता है. इतना ही नहीं टैटू की इंक में कार्सिनोजेनिक नाम का केमिकल मौजूद होते हैं जो सेहत के लिए हानिकारक हैं. टैटू बनाने के लिए नीले रंग की स्याही का इस्तेमाल किया जाता है जिसमें एल्यूमिनियम और कोबाल्ट होता है.

सुनकर हैरानी होती है कि दुनिया में अलग दिखने के लिए लोग क्या-क्या कर सकते हैं. इन पैसों से शायद जैस्मिन अपने लिए बेहतक भविष्य प्लान कर सकती थीं. या फिर अपने बच्चों का भविष्य सुरक्षित कर सकती थीं लेकिन उन्होंने ये रूपए अपनी सनक में खर्च कर दिए. शायद उनके पास बहुत पैसा हो लेकिन यह करके उन्हें क्या मिल गया?

हो सकता है कि इस शौक ने कब सनक का रुप ले लिया, यह बात जैस्मीन भी समझ नहीं पाई. यह उनका हुनर हो सकता है. शौक तब होता जब अपने शरीर पर एकाध टैटू होता जो उनकी कला का प्रदर्शन करता. उन्होंने तो अलग दिखने के लिए धीरे-धीरे अपने शरीर को रंगना शुरु किया और फिर यह नहीं रूका...

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Aleksandra Jasmin (@aleksandrajasmin)

कुछ लोग अटेंशन पाने के लिए कुछ भी करने को तैयार हैं. उन्हें सोशल मीडिया पर फॉलोअर्स चाहिए. असल में सनक कई तरह की हो सकती है. कुछ लड़कियां सुंदर दिखने के लिए किसी भी हद तक दर्द सहने को तैयार हैं. तभी को वे अपने कंफर्ट से अधिक लुक पर फोकस करती हैं. वे पार्लर के चक्कर लगाने से लेकर महंगे-महंगे कॉस्मैटिक्स का इस्तेमाल करने लगती हैं.

हालांकि इसके बाद शुरु होता है कॉस्मैटिक ट्रीटमेंट, बोटोक्स और सर्जरी...शरीर को परफेक्ट दिखाने की चाह में कहीं फिलर्स करवाएं जाते हैं तो कहीं बॉडी फैट हटाए जाते हैं. कहीं फिगर के चक्कर में लड़कियां खाना-पीना छोड़ देती हैं. जैसे किसी को जुए की लत लगती है, किसी को नशे की लत लगती है, किसी को शॉपिंग की लत लगती है वैसे ही किसी को अलग दिखने की लत लगती है.

हमें यह अपनाने की जरूरत है कि कुदरत ने हमें जैसा बनाया है हम वैसे ही सुंदर हैं. अगर हम अच्छा काम करेंगे तो वैसे ही हमरा नाम होगा. इसलिए इन फालतू के चोंचलों में पड़ने से अच्छा है कि हम अपने स्किल और पर्सनालिटी पर काम करें.

यह भी पढ़ें- 

5 करोड़ रुपए में की Kim Kardashian जैसा दिखने की गलती, 95 लाख लगे भूल सुधारने में!

#फिनलैंड, #एलेक्सांड्रा जैस्मिन, #टैटू, Finland Tattoo Artist Aleksandra Jasmin, Finland, Aleksandra Jasmin

लेखक

ज्योति गुप्ता ज्योति गुप्ता @jyoti.gupta.01

लेखक इंडिया टुडे डि़जिटल में पत्रकार हैं. जिन्हें महिला और सामाजिक मुद्दों पर लिखने का शौक है.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय