होम -> सोशल मीडिया

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 27 जनवरी, 2021 12:15 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

एक कहावत है. किसने कही? पता नहीं. कहावत के अनुसार, कोशिश इतनी खामोश होनी चाहिए कि सफलता चीखें, शोर मचाए. कोशिश दो तरह की होती है पहली पॉजिटिव दूसरी नेगेटिव. आईएएस, पीसीएस, डॉक्टर, इंजीनियर, पायलट, सीए, लॉयर ये सब पहली केटेगरी में हैं. वहीं एक्टर Swara Bhaskar की केटेगरी दूसरी वाली है. बीते दिनों ही स्वरा की 5 एपिसोड्स की वेब सीरीज 'आपके कमरे में कोई रहता है' (Aapkey Kamrey Mein Koi Rehta Hai) MX player पर रिलीज हुई है. वेब सीरीज ऐसी है कि दर्शकों के अलावा क्रिटिक्स तक का मुंह खट्टा है. किसी भी बड़े सिने क्रिटिक को देख लीजिए 'आपके कमरे में कोई रहता है' में ज्यादातर लोगों ने इसी बात पर बल दिया है कि साल के शुरुआत में ऐसी वाहियात सीरीज ने सिर्फ और सिर्फ दर्शकों के साथ बड़ा धोखा कर उनका टाइम बर्बाद किया है. सीरीज में जिस चीज की सबसे ज्यादा आलोचना हो रही है वो स्वरा की एक्टिंग है. सीरीज की रिलीज के बाद जैसा स्वरा का रुख है मालूम देता है कि वो आलोचना झेल नहीं पाई हैं और अब उनकी ये सीरीज और उनका एक्टिंग करियर दोनों ही ट्रोल्स के भरोसे है.

Swara Bhasker, Aapkey Kamrey Mein Koi Rehta Hai, Review, Web Series, Troll, Memeसफलता पाने के लिए जो स्वरा कर रही हैं वो उनके कद को सूट नहीं करता

हम अपनी तरफ से कोई बात नहीं कह रहे. ये ख़ुद स्वरा का कहना है. अगर आपको बात समझने में थोड़ी दुविधा हो रही हो तो ज्यादा मेहनत करने की कोई ज़रूरत नहीं है. आपको स्वरा की ट्विटर प्रोफाइल का रुख करना चाहिए. जहां पिट चुकी इस सीरीज को उठाने के लिए स्वरा ने ऐसा बहुत कुछ कर दिया है जो न केवल स्वरा की खिजलाहट दर्शा रहा है. बल्कि ये भी बता रहा है कि, जब बात पब्लिसिटी की होगी तो स्वरा किसी भी लेवल पर जाने से चूकेंगी नहीं.

स्वरा ने कुछ बेहद अतरंगी तस्वीरें क्लिक कराई हैं. जिसे ट्विटर पर शेयर करते हुए उन्होंने लिखा है कि 'ठीक है! ये नफरती चिंटूओं, ट्रोल्स, हटर्स और तमाम रचनात्मक लोगों के लिए संडे गिफ्ट है. इन्हें कैप्शन दीजिये. मीम बनाइये. जिसका भी मीम क्रिएटिव होगा उसे शेयर किया जाएगा. इसके बाद स्वरा ने अपनी वेब सीरीज को प्रमोट किया है. यानी स्वरा खुद इस बार यही चाह रही हैं कि उन्हें ट्रोल किया जाए.

एक ऐसे समय में जब इंसान पब्लिसिटी को बहुत सिरियसली ले रहा हो. जो स्वरा ने किया उसने ये साफ कर दिया है कि, वो अपने हाथों से अपनी एक्टिंग स्किल्स और करियर दोनों की हत्या कर रही हैं. बात सीधी और साफ है. इसमें कोई शक नहीं कि स्वरा एक उम्दा एक्टर हैं. जिन्होंने पूर्व में कई एक से एक फिल्में की हैं. ऐसे में अपना काम छोड़ जिस तरह वो व्यर्थ की चीजों में अपनी ऊर्जा बर्बाद कर रही हैं. वो इस बात की तसदीख कर देता है कि पब्लिसिटी का मोह स्वरा को तिल तिल करके मार रहा है और वो भी अपनी उस मौत का जश्न मना रही हैं.

बहरहाल अपने इस अतरंगे पोस्ट पर स्वरा को कैसे और क्या क्या कमेंट मिलते हैं जवाब उनकी ट्विटर प्रोफाइल देगी. लेकिन जिस तरह स्वरा ट्रोल्स से ये कह रही हैं कि वो उन्हें ट्रोल करें, उन्हें पब्लिसिटी वो ख़ुद देंगी इस बात की पुष्टि कर देता है कि सफलता का पैमाना काम नहीं विवाद है. विवाद उन्हें पब्लिसिटी देता जो खुद बी खुद सफलता में परिवर्तित होगा. स्वरा का ये पैंतरा सही है या गलत इसका फैसला जनता करे और हो सके तो हमें भी बताए कि स्वरा अपने पेअर पर कुल्हाड़ी मार रही हैं. या केवल हमें ही ऐसा महसूस हो रहा है.

ये भी पढ़ें -

'तांडव' सुधरने को तैयार लेकिन आरोप-प्रत्यारोप करने वाले नहीं...

Varun Dhawan-Natasha Wedding: ‘बेगानी शादी' में ट्रोलर्स दीवाने

कॉमेडियन मुनव्वर फ़ारूक़ी जैसे मामले में Swara Bhaskar क्या कभी अपनी भावना पर काबू रख पाएंगी?

#स्वरा भास्कर, #आपके कमरे में कोई रहता है, #MX Player, Swara Bhaskar, Swara Bhaskar Look, Aapkey Kamrey Mein Koi Rehta Hai Review

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय