होम -> सियासत

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 11 अगस्त, 2019 06:46 PM
अनुज मौर्या
अनुज मौर्या
  @anujmaurya87
  • Total Shares

कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद सबसे अधिक दुखी पाकिस्तान है. इमरान खान तो एक-एक कर के भारत से सारे रिश्ते ही तोड़ने में लगे हैं. अब जब इमरान खान ये सब कर रहे हैं, तो उनके मंत्री पीछे कैसे रहते. इसी बीच रेल मंत्री शेख रशीद अहमद ने मोदी सरकार के इस सख्त कदम पर पिछले दिनों पाकिस्तान की संसद में अपनी प्रतिक्रिया दी. पूरे भाषण में वह सिर्फ मोदी को कोसते रहे और दुनियाभर के मुसलमानों से एकजुट होने की अपील करते रहे. उन्होंने तो भारत को नेस्तनाबूत करने की धमकी तक दे डाली. ये तक कह डाला कि कश्मीर के जरिए मोदी सरकार पाकिस्तान को नुकसान पहुंचाना चाहती है.

पुलवामा हमले के बाद जब भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव शुरू हुआ तो भी शेख राशीद अहमद ने भारत को डराने की खूब कोशिश की थी. यहां तक कह दिया था कि उन्होंने चूडियां नहीं पहनी हैं. दरअसल, पुलवामा हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान में पनाह लिए मसूद अजहर के संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी. इसके बाद से ही भारत की ओर से पाकिस्तान पर दबाव बनाया जा रहा था कि या तो वह खुद इन आतंकी संगठनों के खिलाफ एक्शन ले, वरना भारत को ही कोई सख्त कदम उठाना होगा. उस वक्त बात ये होने लगी थी कि भारत की ओर से पाकिस्तान पर हमला किया जा सकता है. उसी दौरान शेख रशीद अहमद ने भारत को चुनौती दी थी. लेकिन हाल ही में पाकिस्तानी पत्रकार नाइला इनायत ने एक ऐसा वीडियो शेयर किया है, जो साफ कर रहा है कि गीदड़भभकी देने वाले शेख रशीद अहमद तो एक भगौड़े हैं.

शेख रशीद अहमद, पाकिस्तान, परमाणु बम, कश्मीरशेख रशीद अहमद कई बार भारत को धमकी दे चुके हैं, लेकिन खुद एक नंबर के डरपोक हैं.

पोखरण परीक्षण के दौरान देश छोड़कर भाग गए थे रशीद

वैसे तो अगर ये बात कोई कहे कि शेख रशीद अहमद भगौड़े हैं, तो बेशक वह गुस्से में आग बबूला हो जाएंगे. और अगर कहीं ये बात भारत ने कही तो तब तो तुरंत ही वह अपने परमाणु बम, मिसाइलें और तमाम असलहा गिनाना शुरू कर देंगे. लेकिन हकीकत तो ये है कि जब भारत 11 मई 1998 में पोखरण में परमाणु बम का परीक्षण किया था तो शेख रशीद अहमद के पैरों तले डर के मारे जमीन ही खिसक गई थी. आपको बता दें कि भारत ने एक के बाद एक 5 परमाणु टेस्ट किए थे, जिसने भारत को दुनिया के नक्शे पर और भी ताकतवर देश बना दिया.

शेख रशीद अहमद कहते हैं कि जब उन्हें इस परीक्षण के बारे में पता चला था तो वह बेहद खौफज़दा हो गए थे. यहां तक कि वह तुरंत पाकिस्तान को छोड़कर भाग गए थे. उन्हें डर था कि कहीं कुछ ऊंच-नीच हो गई और निशाना गलत हो गया तो पाकिस्तान भी नेस्तनाबूत हो सकता है. खैर, जिस तरह का डर शेख रशीद अहमद को था वह बेहद बचकाना था. वह बोल रहे हैं कोई पटाखा इधर उधर हो गया, कोई लीकेज हो गई तो क्या होगा. मंत्री जी, ये परमाणु बम है, दिवाली में जलाया जाने वाला मुर्गाछाप पटाखा नहीं, जो इधर उधर होने की गुंजाइश हो. खैर, वह किस दर्जे के डरपोक हैं, ये तो उन्होंने अपने ही मुंह से साफ कर दिया है.

फिर भी गीदड़भभकी देने से पीछे नहीं हटते

पुलवामा हमले के बाद जब दोनों देशों में तनाव हुआ और ये बात होने लगी कि भारत की ओर से पाकिस्तान पर हमला हो सकता है तो उन्होंने भारत को धमकाया था. वह बोले थे- 'अगर वक्त आया तो ऐसा काम दिखाऊंगा कि दुनिया मेरी शहादत को याद रखेगी कि मैंने कैसे दुनिया की सेमीपावर का सत्यानाश कर दिया. इंडिया का मीडिया सुन ले कि शेख रशीद की बात हिंदुस्तान के मुसलमान भी सुनते हैं. मैं जंग नहीं करना चाहता, लेकिन अगर ऐसा हुआ तो फौज तो लड़ेगी ही, लेकिन मैं किस तरह लड़ूंगा ये भी बताऊंगा.' खैर, परमाणु बम के परीक्षण भर से खौफजदा हो जाने वाले शेख रशीद गरजने वाले बादल रखते हैं. इनका वीडियो आपको जरूर देखना चाहिए.

धारा 370 पर भी दिखाया गुस्सा

जब मोदी सरकार ने कश्मीर से धारा 370 हटाने का फैसला किया तो पाकिस्तान से प्रतिक्रियाएं आने लगीं. इसी बीच संसद में एक बार फिर शेख रशीद अहमद ने भारत को धमकी दी. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने इजराइल की तर्ज पर कश्मीर में ये सब किया है और अब इजराइल की तरह ही कश्मीर में कत्लेआम होगा. उन्होंने संसद में कहा कि ये वक्त है जब पाकिस्तान को इस मुद्दे को दुनिया में ले जाना चाहिए और सभी मुसलमानों से एकजुट होने की अपील की. ये तक कहा कि भारत में मुसलमानों को कीड़े-मकौड़ों की जिंदगी जीने के बजाय शहादत का जज्बा लेकर निकलना चाहिए. उन्होंने भारत को धमकाते हुए कहा- अगर पाकिस्तान की सरजमीं पर हमला हुआ तो भारत में ना चिड़िया चहकेंगी, ना घास उगेगी ना परिंदे फड़फड़ाएंगे, हिंदुस्तान को उसकी सफाहस्ती से मिटा के रख देंगे.

जिस शेख रशीद ने चंद दिनों पहले धारा 370 को लेकर भारत को धमकाया, उसी शेख रशीद ने पुलवामा के बाद भी भारत को धमाकया था. पर ये कैसे भूल जाएं कि यही शेख रशीद परमाणु परीक्षण की खबर सुनकर ही डर से थर-थर कांपने लगे. अब वो धमकी इस बात की दे रहे हैं कि हिंदुस्तान को मिटा देंगे. पाकिस्तान की ये गीदड़भभकियां हमेशा ही आती रही हैं और उम्मीद है कि आती रहेंगी, क्योंकि इसी के दम पर उनकी राजनीति चल रही है. वैसे भी पाकिस्तान ने जब-जब मर्यादा लांघी है तो उसका खामियाजा भी उसे भुगतना ही पड़ा है. कश्मीर भारत का मुद्दा है और अगर इसमें वह अपनी नाक घुसाएगा तो इसका हश्र भी उसे भुगतना ही होगा.

ये भी पढ़ें-

पाकिस्तानी अर्थव्यवस्था की बर्बादी के लिए इमरान खान को नमन रहेगा!

Kashmir में 70 सालों के दौरान ऐसे बदली लाइन ऑफ कंट्रोल

धारा 370 का हटना - आधी हकीकत, आधा फसाना

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय