होम -> सियासत

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 13 जनवरी, 2021 08:11 PM
मशाहिद अब्बास
मशाहिद अब्बास
  @masahid.abbas
  • Total Shares

सोशल मीडिया एक ऐसी चीज़ हैं जहां तिल का ताड़ भी बनाया जा सकता है और ताड़ का तिल भी बनाया जा सकता है. ऐसा अकसर देखने को मिलता हैं जहां सोशल मीडिया पर फर्जी खबरें या फर्जी चीज़ें तेज़ी के साथ दौड़ पड़ती है. किसी दूसरे वीडियो या किसी दूसरी फोटो का इस्तेमाल नई घटनाओँ के साथ कर दिया जाता है और फिर इसे ही सच माान लिया जाता है और आखिर सच माना भी क्यों न जाए. जब सामने वाला झूठ बड़ी सच्चाई के साथ बोला जा रहा हो. कांफिडेंस बड़ी चीज़ है भैय्या. अब देखिये न सोशल मीडिया पर एक वीडियो तैर रही है जिसमें एक पुलिस अधिकारी बोलते हुए दिखाई दे रहे हैं 'अभी तो शायद नहीं पेला है अब सुबह देखेंगें पेलते हैं कि नहीं पेलते' शब्दों का इस्तेमाल जैसा उऩ्होंने किया वैसा ही लिखा है, बात शब्दों की है तो आप तौलिये कि ये शब्द सहीं हैं या नहीं. लेकिन बात यहां मैं दूसरी करूंगा. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है कि आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती जिन्हें रायबरेली में गिरफ्तार किया गया है ये पुलिस अधिकारी उन्हीं के बारे में बयान दे रहे हैं. मामला इतना तूल पकड़ बैठा की रायबरेली पुलिस को ट्वीटर पर आकर इसका खंडन करना पड़ गया.

Somnath Bharti, Aam Aadmi Party, Arvind Kejriwal, UP, Yogi Adityanath, UP Police, Arrestसोमनाथ भारती मामले में पुलिस का एक वीडियो बहुत तेजी से वायरल हो रहा है

दरअसल ये वीडियो राजस्थान के जोधपुर जेल का बताया जा रहा है और सलमान खान के दंड पेलने यानी शारीरिक कसरत की बात की जा रही है. अब इसी वीडियो को सोशल मीडिया पर सोमनाथ भारती से जोड़ दिया गया है. सोमनाथ भारती की गिरफ्तारी इसलिए हुयी है क्योंकि उऩ्होंने उत्तर प्रदेश की सरकार पर हमला करते हुए विवादित टिप्पणी कर दी थी और उत्तर प्रदेश के अस्पतालों पर निशाना साधते हुए कहा था कि यहां के अस्पतालों में बच्चे तो पैदा होते हैं लेकिन कुत्तों के बच्चे पैदा होते हैं.

इसी विवादित टिप्पणी के चलते रायबरेली पुलिस ने सोमनाथ भारती को गिरफ्तार किया था. जबसे ही सोमनाथ भारती गिरफ्तार हुए हैं तबसे ही सोशल मीडिया पर उनकी गिरफ्तारी पर मीम्स, जोक्स वगैरह खूब धड़ल्ले से शेयर किए जा रहे हैं. सोमनाथ भारती की गिरफ्तारी पर केवल यह वीडियो ही नहीं शेयर किया जा रहा है बल्कि साथ में उनका मज़ाक उड़ाते हुए कुछ लोगों ने लिखा कि उत्तर प्रदेश पुलिस को इनको इनोवा गाड़ी से एक बार कानपुर के रास्ते ले जाना चाहिए.

कुछ ने लिखा उत्तर प्रदेश पुलिस को इन्हें उत्तर प्रदेश के अस्पतालों का दौरा कराना चाहिए. कुछ कहते हैं योगी जी को इनके उपर रासुका लगा देना चाहिए और इनकी संपत्ति ज़ब्त कर अस्पतालों को बेहतर बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाना चाहिए. कुल मिलाकर बात सिर्फ इतनी सी है कि सोमनाथ भारती दिल्ली से यूपी आए तो थे आप के पक्ष में माहौल बनाने और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को घेरने के मकसद से लेकिन वह अपनी ही फज़ीहत करा बैठे.

उनकी गिरफ्तारी से एक तरफ आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता चीख-पुकार कर रहे हैं तो दूसरी ओर लोग इसे उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ का एक और करारा फैसला बता रहे हैं और सोमनाथ की गिरफ्तारी को जाएज़ ठहरा रहे हैं और कह रहे हैं उत्तर प्रदेश का अपमान करने वालों के साथ ऐसा ही सलूक करना चाहिए.

सोमनाथ भारती ने कभी भी नहीं सोचा रहा होगा कि उनका इस कद्र मज़ाक बन बैठेगा. भाई यही तो सोशल मीडिया है जहां पर कब क्या किसके नाम से वायरल हो जाए कुछ ठीक-ठाक नहीं कहा जा सकता है.

ये भी पढ़ें -

Bihar cabinet expansion: नीतीश कुमार की प्रेशर पॉलिटिक्स का एक और नमूना

Priyanka Gandhi को इग्नोर तो किया जा सकता है, पूर्णतः ख़ारिज नहीं!

वसुंधरा राजे का बीजेपी नेतृत्व से टकराव का नया तरीका कहां ले जाएगा?

लेखक

मशाहिद अब्बास मशाहिद अब्बास @masahid.abbas

लेखक स्वतंत्र पत्रकार हैं और समसामयिक मुद्दों पर लिखते हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय