New

होम -> ह्यूमर

 |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 21 सितम्बर, 2022 01:54 PM
प्रकाश जैन
प्रकाश जैन
  @prakash.jain.5688
  • Total Shares

विपक्ष कहता है नशे में थे मान, 'आप' कह रही है तबियत ठीक नहीं थी. दोनों के अर्द्ध सत्य को जोड़ कर सत्य निकलता है कि नशे में थे मान इसलिए उनकी तबियत ठीक नहीं थी. प्रिंट मीडिया हो या डिजिटल, सुर्खियां बनी हैं. सुर्खियां कुछ यूं हैं कि -

 'Bhagwant Mann: जर्मनी में प्लेन से उतारे गए भगवंत मान! कांग्रेस ने कहा कि ऐसी हालत में थे सीएम- Amar Ujala 

पंजाब के CM को जर्मनी में फ्लाइट से उतारा: पैसेंजर्स ने कहा- नशे में धुत थे भगवंत मान, उनकी वजह से 4 घंटे लेट हुए - Dainik Bhaskar 

नशे में थे मान, प्लेन से उतारा : विपक्ष उनकी तबीयत ठीक नहीं थी : आप- Dainik Bhaskar 

जर्मनी में प्लेन से उतारे गए पंजाब CM भगवंत मान? बीजेपी-अकाली-कांग्रेस के आरोपों पर AAP का पलटवार: Aajtak 

Punjab CM Bhagwant Mann deplaned in Germany from Lufthansa flight? AAP denies claim -  Zee News 

Satirical Piece on Bhagwant Mann Deplaned for Being Drunk Goes Viral - The Quint 

Bhagwant Mann, Liquor, Intoxication, Flight, Aam Aadmi Party, Arvind Kejriwal, Allegation, Twitterभगवंत मान के साथ जो कुछ भी फ्लाइट में हुआ है एक के बाद एक मजेदार तर्क दिए जा रहे हैं

लोग ट्विटर पर भी जमकर टिटिया रहे हैं. क्या सच है क्या झूठ ?प्रश्न चिन्ह बरकरार है. परंतु  बिना आग के तो धुंआ नहीं उठता. हवाला दिया जा रहा है सहयात्रियों का, लुफ्थांसा एयरलाइन्स के फ्रैंकफर्ट से उड़ने वाले उस प्लेन की पांच घंटे की देरी का , सोशल मीडिया पर मान के नशे में धुत होने की हालत में प्लेन में बोर्ड करने की तमाम उन ख़बरों का. और फिर राजनीति है तो कयासों का दौर भी होगा ही.

'आप' कौन सा मौक़ा छोड़ती है जो 'अकाली, 'कांग्रेस' और 'बीजेपी' छोड़ेगी ?  तो पब्लिक क्या समझे ? किसे सच माने और किसे झूठ ? तो उनके लिए लुफ्थांसा एयरलाइन्स का बयान है, निष्कर्ष स्वतः ही निकल आता है. आखिर डाटा प्रोटेक्शन की आड़ लेकर इशारा दे ही दिया है एयरलाइन्स ने.  दरअसल आजकल टपर कटी चिड़िया ने बवाल मचा रखा है , सभी घबराते हैं.

और जब सवाल दर सवाल दागे जाने लगे लुफ्तांसा पर तो पहला जवाब देरी को लेकर आया कि फ्रैंकफर्ट से दिल्ली की उड़ान देरी से आने और विमान में बदलाव के कारण अपने निर्धारित समय से बाद में रवाना हुई. एक अन्य ट्वीट में जब एक कंस्यूमर ने पुछा कि क्या सीएम भगवंत मान ओवर ड्रंक (नशे में) थे, लुफ्थांसा न्यूज ने ट्वीट किया कि वह डेटा सुरक्षा कारणों से किसी ट्रैवलर की व्यक्तिगत जानकारी नहीं दे सकती. 

फिर इसी बीच जाने माने मीडिया  'द हिंदू' के ट्विटर हैंडल से 'आप' के मीडिया डायरेक्टर डोगरा का हवाला देते हुए  जो कहा गया, सशंकित करने के लिए काफी है ! डोगरा ने कहा था कि चूंकि सीएम मान थोड़े अस्वस्थ थे, वे फ्रैंकफर्ट से देर रात की फ्लाइट लेकर लौटेंगे. उनके इसी कथन को एक यूजर ने शूट करते हुए लुफ्तांसा को कह ही दिया कि देरी के टेक्निकल रीजन ही थे तो फिर डोगरा को ऐसा कहने की क्या जरुरत थी ? 

ज्यादा दिन नहीं हुए हैं शायद पंजाब चुनाव के पहले इसी साल जनवरी महीने में भगवंत मान ने केजरीवाल जी की मौजूदगी में मंच पर से हुंकार भरी थी कि, 'मां कसम मैंने 1 जनवरी से शराब पूरी तरह छोड़ दिया है अब इसे कभी हाथ भी नहीं लगाऊंगा.'

 इसके पहले भी वे हमेशा यही कहते थे कि राजनीति की वजह से उनके कभी कभार ड्रिंक करने को लेकर उन्हें 'शराबी' कहकर बदनाम किया जाता है. सो क्यों ना पब्लिक यही माने कि चूंकि मां के सम्मान में जनवरी से अब तक नौ महीने बीत गए थे बिना पीये और जब जर्मनी में थोड़ी पीनी पड़ी तो तबियत ख़राब हो गई; व्हाट ए बिग डील ? सो एक बार फिर आम आदमी को संशय में डालकर आम आदमी पार्टी डिनायल मोड में हैं ! जबकि सार्वजनिक रूप से उनके नशे में होने के आरोपों का ट्रैक है!

#भगवंत मान, #शराब, #नशा, Bhagwant Mann, Liquor, Intoxication

लेखक

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय