होम -> सिनेमा

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 05 जनवरी, 2021 02:55 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

OTT ने मौका दिया है, काबिल एक्टर्स को अपनी प्रतिभा जाहिर करने का... ये स्टेटमेंट तब अतिश्योक्ति नहीं होता जब हम टाइगर ज़िंदा है, सुलतान, भारत जैसी हिट फिल्में देने वाले निर्देशक अली अब्बास जफर (Ali Abbas Zafar) की अमेज़न प्राइम (Amazon Prime) पर 15 जनवरी को रिलीज हो रही पॉलिटिकल ड्रामा सीरीज 'तांडव' का ट्रेलर (Tandav Trailer) देखते हैं. सैफ अली खान (Saif Ali Khan), डिम्पल कपाड़िया (Dimple Kapadia), कुमुद मिश्रा (Kumud Mishra), ज़ीशान अय्यूब, तिग्मांशु धूलिया, सुनील ग्रोवर (Sunil Grover), डिनो मोरिया स्टारर तांडव का ट्रेलर लांच हो चुका है. करीब 3 मिनट के इस ट्रेलर में सस्पेंस, थ्रिल, एक्शन और ड्रामा के जरिये सियासी गलियारों का वो चेहरा दिखाया गया है जिसको देखकर इस बात का आभास होता है कि एक आम आदमी के लिए राजनीति को समझना और उसमें उतारना अपने आप में एक टेढ़ी खीर है. महज कुछ ही घंटों में तकरीबन 80 लाख व्यूज हासिल कर चुका तांडव का ट्रेलर इस बात का भी एहसास करा देता है कि निर्देशक अली अब्बास जफर अपने निर्देशन और एक्टर्स अपनी एक्टिंग से उस संदेश को ऑडियंस तक पहुंचाने में कामयाब हुए है जिसे सोचकर इस सीरीज का निर्माण किया गया. अमेज़न प्राइम की वेब सीरीज तांडव का ट्रेलर देखते हुए कहा जा सकता है कि इस सीरीज का शुमार उन चुनिंदा वेब सीरीज में है जो सियासत से जुड़ी दुनिया का सियाह चेहरा हमारे सामने लाएगी.

Tandav Web Series, Amazon Prime, Politics, Saif Ali Khan, Sunil Grover, Dimple Kapadia, Trailerट्रेलर बता रहा है कि आने वाले वक़्त की एक बड़ी हिट है सैफ और डिम्पल की तांडव

क्या है कहानी

3 मिनट के इस ट्रेलर में दिखाया गया है कि देश के प्रधानमंत्री की रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो जाती है. पीएम की चिता की आग अभी ठंडी भी नहीं हुई थी कि तमाम लोग पीएम बनने के लिए आगे आ जाते हैं जिसमें सबसे आगे है दिवंगत प्रधानमंत्री का बेटा समर प्रताप सिंह (सैफ अली खान). समर अभी पीएम बनने के ख्वाब देख ही रहा था कि अंतिम संस्कार के वक़्त ही अनुराधा (डिम्पल कपाड़िया) ने वो दांव खेल दिया कि समर की सारी चालाकी और चालबाजी धरी की धरी रह जाती है. चूंकि कहानी में कई ट्विस्ट एंड टर्न्स हैं क्या नेता का रोल करते तिग्मांशु धूलिया क्या कुमुद मिश्रा हर कोई देश के प्रधानमंत्री की कुर्सी पर नजरें गड़ाए बैठा है.

सीरीज में दिखाया गया है कि कैसे एक राजनेता अपने निजी स्वार्थ के लिए पुलिस वालों से लेकर छात्र राजनीति तक हर उस चीज का इस्तेमाल करता है जिससे उसे फायदा मिले.

आज़ादी के नारे और जेएनयू जैसा माहौल नया प्रयोग है

थियेटर और कई फिल्मों में अपनी अदाकारी से क्रिटिक्स का ध्यान आकर्षित कर चुके एक्टर ज़ीशान अय्यूब को ट्रेलर की जान कहा जा सकता है. जीशान एक छात्रनेता 'शिवा'के रूप में हैं जिनके कंधे पर बंदूक रखकर समर प्रताप सिंह अपना लक्ष्य हासिल करना चाहता है. दिलचस्प बात ये है कि जो यूनिवर्सिटी दिखाई जा रही है और जिस तरह वहां आज़ादी के नारे लग रहे हैं और जैसा शिवा का तेवर न चाहते हुए भी हमारी आंखों के सामने जेएनयू की तस्वीर आ जाती है. ध्यान रहे कि जिस तरह जेएनयू के छात्र और वहां की राजनीति देश की सियासत को प्रभावित करती है उसकी एक झलक हमें इस सीरीज में भी देखने को मिलेगी.

वो दो चेहरे जिन्हें इस सीरीज की जान कहा जा सकता है

यूं तो निर्देशक अली अब्बास जफर की इस सीरीज में लीड रोल सैफ अली खान का है मगर जब हम ट्रेलर देखते हैं और उस ट्रेलर में एक्ट्रेस डिम्पल कपाड़िया और अपनी कॉमेडी के लिए मशहूर सुनील ग्रोवर को एक बेहद गंभीर रोल करते हुए देखते हैं तो महसूस होता है कि सीरीज के केंद्र में सैफ से ज्यादा सुनील और डिम्पल हैं. जिस तरह का रोल सुनील और डिम्पल ने किया है और जैसा उनका अंदाज है वही अमेजन प्राइम की इस वेब सीरीज की यूएसपी है.

हर एक एलिमेंट कुछ कहता है

OTT पर रिलीज होने वाले कंटेंट का एक नियम है और वो ये है कि वो बोरिंग न हो. अब ऐसे में अगर हम निर्देशक अली अब्बास ज़फर की इस सीरीज को देखते हैं तो वाकई वो कमाल करते हुए नजर आए हैं. निश्चित तौर पर तांडव एक ऐसी सीरीज होगी जिसमें चाहे वो एक्शन हो, ड्रामा हो, सस्पेंस हो, रोमांस हो हर वो एलिमेंट है जो एक सीरीज को हिट करने के लिए जरूरी है. कहना गलत नहीं है कि सीरीज की कहानी कुछ इस तरह गुथी गई है कि दर्शक जब एक बार इसे देखना शुरू करेगा तो वो इसे अधूरा नहीं छोड़ेगा और पूरी देखकर ही उठेगा.

कलाकारों का चयन निर्देशक की काबिलियत दर्शाता है

निर्देशक अली अब्बास जफर ने अपनी इस वेब सीरीज के लिए मेहनत की है. निर्देशक की मेहनत कितनी गंभीर है इसका अंदाजा हम कलाकारों के चयन से लगा सकते हैं. ट्रेलर में चाहे वो एक्टर सैफ अली खान हों या फिर डिम्पल कपाड़िया, कुमुद मिश्रा, ज़ीशान अय्यूब, तिग्मांशु धूलिया, सुनील ग्रोवर, डिनो मोरिया. जो लोग हैं उनका अभिनय कुछ कहता है और चूंकि सबकी एक्टिंग लाजवाब है कहानी कहीं से भी ढीली नहीं होती.

एंटरटेनमेंट के हिसाब से साल 2021 अच्छा रहेगा

चूंकि तांडव का ट्रेलर बहुत प्रभावी है इसलिये कहा यही जा सकता है कि इसने OTT के लिए काम कर रहे निर्देशकों को टफ कॉम्पटीशन दिया है. क्यों कि शुरुआत ही क्वालिटी कंटेंट से हुई है इसलिए कह सकते हैं कि अब शायद निर्देशक भी इस बात को समझ चुके हैं कि उन्हें क्या दिखाना है और अपनी ऑडिएंस की थाली में क्या परोसना है. कुल मिलाकर OTT प्लेटफॉर्म पर एंटरटेनमेंट के लिहाज से साल 2021 काफी अहम होने वाला है.

अमेजन प्राइम की वेब सीरीज तांडव हिट होती है या फिर राजनीति पर केंद्रित होने के चलते देश की जनता इसे हल्के में लेती है फ़ैसला वक़्त करेगा. लेकिन इस बात में कोई शक नहीं है कि इसका कंटेंट शानदार है. क्यों कि सीरीज की कहानी एक प्रधानमंत्री की मौत और उस मौत के बाद उसकी कुर्सी पर नजरें गड़ाए हुए लोग हैं. राजनीति को बोरिंग मानने वाले लोग भी कहानी के प्लॉट और एक्टर्स की उम्दा एक्टिंग के कारण कम से कम एक बार तो इस सीरीज को हर हाल में देखेंगे ही.

ये भी पढ़ें -

January 2021 में रिलीज हो रही फिल्में-वेब सीरीज बनाएंगी इस महीने को फिल्मी चहेतों का त्योहार

Aashram 3 लेकर अहम जानकारी सामने आई है जिसे फैंस को जरूर जानना चाहिए

Paurashpur Review: सेक्स सीन ढंक नहीं पाए बर्बाद स्टोरीलाइन, और एक अच्छी Web Series की लंका लग गई

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय