होम -> सिनेमा

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 18 नवम्बर, 2019 09:12 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

पिछले साल शाहरुख खान (Shahrukh Khan) की बेटी सुहाना खान (Suhana Khan) को वोग मैगजीन(vogue magazine) के कवर पर देखा था, जिसपर बॉलीवुड में नेपोटिज्म की बहस छिड़ गई थी. सुहाना खान को कोसा जा रहा था. क्योंकि इतनी बड़ी उपलब्धि हासिल करने के लिए सुहाना खान की अपनी पहचान बहुत छोटी थी. लेकिन आज सुहाना खान ने ये साबित कर दिया कि वो अपनी पहचान खुद बनाने लायक हैं. खुद यानी बॉलीवुड या फिर अपने पिता की मदद के बिना वो अपनी एक्टिंग का लोहा मनवा सकती हैं.

suhana khan short film debutशॉर्ट फिल्म के जरिए खुद को साबित किया

सुहाना खान की पहली short film द ग्रे पार्ट ऑफ ब्लू (The grey part of blue) रिलीज हो गई है. 10 मिनट की ये अंग्रेजी फिल्म भले ही आपको समझ न आए, लेकिन सुहाना के अभिनय की बारीकियों और गहराइयों को समझा जा सकता है. फिल्म में सुहाना अंग्रेजी बोल रही हैं और उनके बोलने के लेहजे में आपको जरा भी बनावट नजर नहीं आती.

फिल्म की कहानी एक यंग कपल के इर्द-गिर्द घूमती है. जो दो दिन के रोड ट्रिप में अपने रिलेशनशिप की सच्चाई से रूबरू होते हैं. फिल्म को थियोडर गिमेनो ने डायरेक्ट किया है. फिल्म में सुहाना के अलावा रोबिन गोनेला लीड रोल में हैं.

सुहाना खान को हम अब तक केवल सोशल मीडिया पर वायरल होने वाली तस्वीरों में ही देखते आ रहे हैं. लेकिन इस छोटी सी फिल्म के जरिए सुहाना ने खुद को साबित करने की पूरी कोशिश की है. अभिनय की गहराइयों को इस फील्ड के एक्सपर्ट्स बहुत अच्छी तरह से समझ सकते हैं. लेकिन एक आम आदमी सुहाना खान की नेचुरल एक्टिंग को सिर्फ इसी बात से समझ सकता है कि जब कार में बैठी सुहाना अपने साथी से बहुत उत्साहित होकर बात कर रही थीं, तो उनकी आंखों में भी आपको उत्साह और excitement चमक के रूप में दिखाई देगा. वो भले ही सामान्य रूप से बैठी हैं और सामान्य रूप से ही बात कर ही हैं. लेकिन असल में वो एक्टिंग है, जिसे सामान्य दिखाया जा रहा है. और एक अच्छे कलाकर की यही पहचान होती है कि कितनी सहजता के साथ वो अभिनय कर पाता है.

Suhana Khan debut vs Shahrukh Khan debut

अगर शाहरुख खान और Suhana Khan acting debut की बात की जाए तो मुझे तो सुहाना खान अपने पिता से एक कदम आगे ही नजर आती हैं. इसकी वजह भी है. शाहरुख खान फिल्मों में आने से पहले टीवी कलाकार थे और उनका स्क्रीन पर डेब्यू 1988 में एक सीरियल दिल दरिया में हुआ था. उस वक्त के वीडियो में शाहरुख खान की शुरुआती एक्टिंग को देखा जा सकता है.

अब इस सीरियल में शाहरुख खान के चलने का तरीका, बोलने का तरीका, उनका स्टाइल ऐसा है जिसे देखकर आप भी शाहरुख खान की अदाकारी पर उंगली उठा सकते हैं कि यहां पर चूक गए...खैर 30 साल पहले की एक्टिंग और आज के जमाने के एक्टिंग में जमीन आसमान का फर्क है. और ये फर्क सुहाना खान की एक्टिंग को देखकर आप आसानी से समझ सकते हैं. एक शब्द में कहा जाए तो वो परिपक्वता के काफी करीब लगती हैं.

suhana khan short film debutसुहाना के काम की तारीफ हो रही है

इस बार तारीफ सुहाना के काम की

सोशल मीडिया पर सुहाना की तरीफ हो रही है, और इस बार ये तारीफ उन्हें शाहरुख खान की बेटी होने के लिए नहीं मिल रही है. शाहिद, अलीगढ़ और omerta जैसी फिल्मों के निर्माता जय मेहता का कहना है कि सुहाना आजकल के एक्टर्स से कहीं बेहतर हैं.

कुछ समय पहले एक्ट्रेस शबाना आजमी ने भी सुहाना की एक्ट‍िंग की तारीफ की थी. उन्होंने ट्वीट किया था कि - मेरे शब्द मार्क कर लें. आगे चलकर सुहाना खान एक बेहतरीन एक्टर बनेगी. मैंने उसकी शॉर्ट फिल्म की क्ल‍िप देखी है और वो जबरदस्त है'.

सुहाना खान अपने पिता के पद चिन्हों पर चल रही हैं और इसके लिए वो न्यूयॉर्क फिल्म एकेडमी में एक्टिंग सीख भी रही हैं. बॉलीवुड में एंट्री करना सुहाना के लिए कोई मुश्किल बात नहीं है. बल्कि शाहरुख खान ही उन्हें लॉन्च कर सकते हैं. लेकिन एक पिता की विरासत को संभालने के लिए बेटी अपने कंधे मजबूत कर रही है. और सुहाना की ये जिम्मेदारी और भी बढ़ जाती है क्योंकि वो शाहरुख की बेटी हैं और बॉलीवुड नेपोटिज्म के लिए पहले से ही बदनाम है. इस फिल्म के जरिए सुहाना खान ने उनकी आलोचना करने वालों के मुंह बंद कर दिए.

ये भी पढ़ें-

सुहाना खान पर नेपोटिज्म की बहस करना बेमानी है

Lal Singh Chaddha के रूप में Aamir Khan बहरूपिया नहीं तो और क्या हैं?

Manushi Chhillar के पास फिल्‍मों की ही डॉक्‍टरी करने का रास्‍ता बचा है!

Suhana Khan, ShahRukh Khan, Short Film

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय