होम -> सिनेमा

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 18 अप्रिल, 2020 05:10 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

इंस्टाग्राम (Instagram) या फेसबुक (Facbook) पेज पर टिक टॉक के वीडियो डालना और उन वीडियो में अलग अलग भाव भंगिमाओं का प्रदर्शन करते हुए एक्टिंग या किसी को कॉपी करना एक बात है. जबकि कैमरा के सामने अपने टैलेंट का परिचय देते हुए असली एक्टिंग करना दूसरी. एक नॉन एक्टर के लिए एक्टिंग कराना चुनौती पूर्ण है. यदि ऐसा होता है तो वाक़ई इसके लिए डायरेक्टर बधाई के पात्र हैं. अब शिरीष कुंदर को ही देख लीजिए जिन्होंने नेटफ्लिक्स (Netflix) की थ्रिलर फिल्म 'मिजेस सीरियल किलर (Mrs Serial Killer) में उनसे एक्टिंग करा दी जिन्हें अब तक बॉलीवुड आई कैंडी मानता रहा है जी हां हम बात कर रहे हैं जैकलीन फर्नांडिस (Jacqueline Fernandez ) की. कुंदर की थ्रिलर फिल्म 'मिसेज सीरियस किलर' का ट्रेलर रिलीज हुआ है. रोल प्रभावी हो सके इसलिए जैकलीन फर्नांडिस अपनी जी जान एक करते हुए नजर आ रही हैं. वहीं इसके ठीक विपरीत एक स्थापित एक्टर होने के नाते मनोज वाजपेयी (Manoj Bajpayee) ने अपने एक्सप्रेशन की बदौलत महफ़िल लूट ली है.

Netflix,  Jacqueline Fernandez, Manoj Bajpai, Thriller, Filmफिल्म मिसेज सीरियल किलर में फिल्म की लीड एक्टर जैकलीन फर्नांडिस

नेटफ्लिक्स पर जल्द ही रिलीज होने वाली कुंदर की इस फ़िल्म में मनोज वाजपेयी और जैकलीन के अलावा आमिर खान की भतीजी जैन मैरी और पुलिस इंस्पेक्टर बने मोहित रैना भी हैं जिन्होंने अपने हिस्से में आए काम को बखूबी निभाया है. बता दें कि फ़िल्म का प्रीमियर 1 मई को नेटफ्लिक्स पर किया जा रहा है.

फ़िल्म में जैकलीन मनोज की पत्नी बनी हैं. फ़िल्म के ट्रेलर में दिखाया गया है कि मनोज पर सीरियल किलर होने के आरोप लगे हैं जिन्हें पुलिस अरेस्ट कर लेती है. पति को बेगुनाह साबित करने के लिए जैकलीन खुद सीरियल किलर बन जाती हैं और पुलिस को खूब जमकर उलझाती हैं. वहीं ट्रेलर में पुलिस इंस्पेक्टर बने मोहित रैना की भी चुनौतियां साफ दिख रही हैं वो भी इसी पशो पेश में हैं कि कैसे अपराधी को पकड़ा जाए.

 
 
 
View this post on Instagram

If looks could kill, these guys would definitely be Serial Killers. #MrsSerialKiller

A post shared by Netflix India (@netflix_in) on

1 मिनट 43 सेकंड के इस ट्रेलर को देखें तो इतना तो साफ है कि फ़िल्म में मनोज वाजपेयी के अलावा शायद ही कोई दूसरी चीज ऐसी हो जो दर्शकों को रोक पाए. फ़िल्म उस समस्या का भी अच्छे से बखान कर रही है जिसका सामना हमारी इंडस्ट्री लंबे समय से कर रही थी.

फ़िल्म में थ्रिलर के साथ साथ रोमांस रखा गया है और बात एकदम साफ है कि जब एक निर्देशक थ्रिलर और रोमांस को एक ही डिश में परोसता है तो सम्पूर्ण रेसिपी का जायका बिगड़ जाता है जैसा हमें मिसेज सीरियल किलर को देखने पर पता चल रहा है.

बहरहाल रोमांस के साथ थ्रिलर का ये तड़का जनता को कितना पसंद आएगा इसका फैसला वक़्त करेगा लेकिन जैसा फिल्म का ट्रेलर है शुरूआती नजर में सब कुछ औसत ही नजर आ रहा है. क्योंकि ये युग इंटरनेट का युग है और मनोरंजन के नामपर हमारे पास एक से एक चीजें हैं तो अब औसत चीजों को देखने के दिन लद गए हैं. हम फिर इस बात को दोहरा दें अगर दर्शकों को क्वालिटी एक्टिंग देखने का शौक है तो वो मनोज वाजपेयी और उनका बेमिसाल एक्सप्रेशन देखने के लिए नेटफ्लिक्स पर लॉगिन कर सकते हैं. हमें यकीन है दर्शक निराश नहीं होंगे.

ये भी पढ़ें -

Four More Shots Please 2 review: ये मिक्स्चर है वीरे दी वेडिंग, आयशा जैसी फ़िल्मों का

Masakali 2.0 से क्यों नाराज़ हैं AR Rahman

Salman Khan, आप सही मायने में नायक हैं

     

Mrs Serial Killer, Bollywood, Netflix

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय