होम -> सिनेमा

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 14 अगस्त, 2019 06:03 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

बॉलीवुड सिंगर मीका सिंह को पाकिस्तान की एक शादी में परफॉर्म करना इतना महंगा पड़ेगा ये उन्होंने सोचा भी नहीं होगा. ऑल इंडिया सिने वर्कर्स एसोसिएशन (AICWA) ने मीका सिंह पर बैन लगाया है. मीका के मूवी प्रोडक्शन हाउस, म्यूजिक कंपनी और ऑनलाइन कंटेंट प्रोवाइडर के साथ उनके सभी कॉन्ट्रैक्ट्स को बॉयकॉट करने का फैसला लिया गया है. इसके अलावा एसोसिएशन ने मीका की सभी फिल्मों, गाने और एंटरटेनमेंट कंपनी के साथ काम करने पर भी रोक लगा दी है. ऑल इंडिया सिने वर्कर्स एसोसिएशन (AICWA) इस बात का ध्यान रखेगा कि इंडस्ट्री में कोई भी मीका सिंह के साथ काम नहीं करेगा. अगर कोई ऐसा करता है तो उसके खिलाफ लीगल एक्शन लिए जाएंगे और उसे कोर्ट में पेश होना होगा. कहा गया है कि- जब दोनों देशों के बीच का तनाव अपने चरम सीमा पर है, उस समय में मीका ने देश के गौरव से बढ़कर पैसों को ज्यादा अहमियत दी.

ये सब इसलिए किया गया क्योंकि मीका सिंह 8 अगस्त को पाकिस्तान के कराची में एक अरबपती की बेटी की शादी में परफॉर्म करने गए थे. जैसे ही मीका के कराची में परफॉरमेंस के वीडियो वायरल हुए दोनों देशों में हंगामा मच गया. पाकिस्तानी अपनी सरकार को कोस रहे थे कि आखिर मीका सिंह को वीजा कैसे दे दिया गया, और भारतीय मीका सिंह को- कि दुश्मन देश में परफॉर्म करके आए. 

Mika Singh bannedकराची में परफॉर्मेंस देने पर मीका सिंह की दोनों ओर आलोचना हो रही है

लेकिन पाकिस्तान जाकर पारफॉर्म करना मीका सिंह के लिए नया तो था नहीं. वो शो करने के लिए पाकिस्तान जाते ही रहते हैं. लेकिन इस बार नया ये था कि कश्मीर से धारा 370 हटा लेने के बाद पाकिस्तान ने गुस्से में आकर भारत से अपने सभी व्यापारिक संबंध डाउनड्रेड कर लिए थे. पाकिस्तान ने दोनों देशों को जोड़ने वाली समझौता एक्सप्रेस पर ब्रेक लगाए, भारतीय फिल्मों को बैन कर दिया और व्यापारिक संबंध तोड़ लिए.

AICWA की ये प्रतिक्रिया सिर्फ मूर्खता है क्योंकि...

यहां ध्यान देने वाली बात ये है कि भारत से संबंध तोड़ने का निर्णय सिर्फ और सिर्फ पाकिस्तान का था. भारत ने पाकिस्तान से संबंध नहीं तोड़े. बल्कि भारत ने तो पाकिस्तान से अपने निर्णय पर एक बार फिर से विचार करने की सलाह दी थी. भारत का इस मामले पर कोई भी प्रतिक्रिया न देना इसी बात को और मजबूत करता है कि कश्मीर पर फैसला करना भारत का निजी मामला है. जिसपर पाकिस्तान की कोई भी प्रतिक्रिया मायने नहीं रखती.

हां, मीका के पाकिस्तान जाने पर कुछ देशभक्त नाराज हो सकते हैं, स्वाभाविक है. लेकिन नाराज होकर मीका सिंह की आवाज बंद कर देने का निर्णय वैसी ही प्रतिक्रिया है जैसी इस वक्त पाकिस्तान दे रहा है.

परिस्थितियां पहले वाली नहीं हैं. जब भारत पर कोई आतंकी हमला होता और पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए भारत पाकिस्तानियों से रिश्ते खत्म कर रहा होता. जिसके बीच में इक्वेशन बिगाड़ने वाले लोगों (कलाकारों) को बैन किया जाता. जिसपर पाकिस्तानी मजे लेते थे और भारत का मजाक उड़ाते थे. आज परिस्थितियां बिल्कुल उलट हैं. यूं समझिए कि पाकिस्तान आज वो महसूस कर रहा है जो भारत करता था.

Mika Singh bannedअब इंडस्ट्री में कोई भी मीका सिंह के साथ काम नहीं करेगा

इसलिए AICWA का मीका सिंह को बैन करना एक अच्छा फैसला नहीं कहा जा सकता. और हम AICWA की इस देशभक्ति पर भरोसा कैसे कर सकते हैं. जब भारत ने पाकिस्तानी कलाकारों पर बैन लगाया था तब भारत में तो उनके साथ काम करना आसान नहीं था तब इसी इंडस्ट्री के लोगों ने पाकिस्तानी कलाकारों के साथ दुबई में शूटिंग की थी. तब देशभक्ति नहीं जागी थी? तब देश के गौरव से बढ़कर पैसों को अहमियत नहीं दी गई?

AICWA का मीका सिंह पर बैन लगाना सिर्फ झूठी देशभक्ति और दोहरी मानसिकता ही दिखाता है. एक कलाकार की नजर से देखें तो मीका सिंह दुनियाभर में गाते हैं, यही उनकी रोजी रोटी है. ऐसे में जब भारत पाकिस्तान से संबंध नहीं तोड़ रहा तो AICWA किस आधार पर मीका सिंह से उनका काम छीन रहा है?

एक बात उनके लिए भी जो मीका सिंह के लिए कह रहे हैं 'जो पाकिस्तान का यार है वो भारत का गद्दार है'. मीका सिंह का पाकिस्तान के साथ सिर्फ व्यपार का रिश्ता है. वो व्यापार करने गए थे. ठीक उसी तरह का व्यापार जो भारत भी पाकिस्तान के साथ करता आया है. (जिसे पाकिस्तान ने बंद किया है, भारत ने नहीं). ऐसे में लोगों को भी अपनी देशभक्ति को थोड़ा एनलाइज़ करने की जरूरत है. आखिर भारत से ही देशभक्ति है. फिर भारत के निर्णयों का भी तो सम्मान करना चाहिए. आपकी भावनाएं भारत की भावनाओं के अलग कैसे हो सकती हैं?

ये भी पढ़ें-

Mika Singh का कराची शो पाकिस्तानियों को सर्जिकल स्ट्राइक जैसा क्यों लगा!

बॉलीवुड से पाकिस्तान की Love-Hate रिलेशनशिप बड़ी पुरानी है

Mika Singh, Ban, Pakistan

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय