होम -> सिनेमा

 |  6-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 06 नवम्बर, 2019 06:32 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

Malaika Arora ने हाल ही में अपना 46वां जन्मदिन मनाया था जिसपर हमारे समाज के लोगों ने उनके डांस करने, उनके बर्थडे मनाने और उनके छोटे कपड़े पहनने को लेकर उन्हें ढेर सारा ज्ञान दिया था. कि आप 17 साल के बच्चे की मां हैं, 46 साल की हैं और इसलिए ये सब चीजें आप पर सूट नहीं करतीं. आपको उम्र के हिसाब से काम करना चाहिए. Malaika Arora एक मॉडल रही हैं. फैशन जगत में काफी मशहूर हैं. उमदा डांसर भी हैं, जिनके आइटम नंबर्स पर लोग जमकर नाचते और उन्हें देखकर आहें भरते आए हैं. लेकिन मलाइका अगर पर्दे के अलावा अपनी निजी जिंदगी में भी अपनी hotness बरकरार रखती हैं तो लोग उन्हें उनकी उम्र याद दिलाते हैं. उम्र तो छोड़िए कुछ पढ़े लिखे लोगों को तो ये भी बर्दाश्त नहीं होता कि मलाइका एक किशोर की मां होने के बावजूद भी इतनी फिट और सेक्सी कैसे लग सकती हैं. और उनकी खीज बड़े ही अजीब तरीके से सोशल मीडिया पर निकलती है.

malaika aroraमलाइका और उनके बेटे की इस तस्वीर पर बहस हो रही है

Kangana Ranaut की बहन Rangoli Chandel ने एक बार फिर हंगामा खड़ा करने का पूरा इंतजाम कर दिया है. Malaika Arora ने Instagram story पर अपने बेटे के साथ एक तस्वीर शेयर की जिसमें मलाइका ने सफेद रंग की नाइट ड्रेस पहन रखी है, और बेटा अरहान पीछे से कैमरे में झांकता दिख रहा है. मलाइका ने लिखा है- 'जब बेटा अच्छा बनकर अपनी मां का ध्यान रखे.'

रंगोली चंदेल ने इस तस्वीर को अपने ट्विटर पर शेयर करते हुए इसपर तंज किया जो किसी को भी निराश कर सकता है. रंगोली ने लिखा- This is modern Indian mother, very good 👏👏👏👏 यानी 'ये हैं मॉर्डन भारतीय मां, बहुत अच्छे'.

इस तस्वीर में ऐसा क्या है जिसपर तंज किए जाएं?

अब सवाल ये है कि मां-बेटे इस तस्वीर में ऐसा क्या है जिसकी वजह से रंगोली ने इसपर तालियां बजाते हुए ट्विटर पर शेयर कर दिया. सिर्फ इसलिए कि ये मलाइका के बेडरूम की तस्वीर है, और उन्होंने नाइटी पहन रखी है. इस तस्वीर को शेयर करके रंगोली जो कहना चाह रही हैं उसने उनकी ओछी मानसिकता का परिचय दुनिया से करवा दिया है.

मलाइका के मां होने और parenting पर कोई सवाल कैसे खड़े कर सकता है. वो भी दुनिया की हर मां की तरह अपने बच्चे की परवाह करने वाली मां हैं. मलाइका समय के हिसाब से चल रही हैं, पति से अलग होकर एलिमनी पर जिंदगी नहीं बिता रहीं. वो काम कर रही हैं, बच्चे की परवरिश कर रही हैं. और अपने बेटे के लिए वो आज एक स्वाभिमानी और आत्म निर्भर मां का उदाहरण पेश करती हैं. लेकिन मॉर्डन मां होने को अगर इसी तरह से समझा जाए तो ही अच्छा है. और रही बात मॉर्डन होना और लगने की तो वो उनके काम की ही जरूरत है. और कोई भी शख्स अपने घर में क्या पहनता है, कैसे रहता है वो निजी मामला है, जिसपर सभ्य लोगों को चुप ही रहना चाहिए.

malaika arora and sonमलाइका अपने बेटे अरहान और बहन के साथ

Single mothers की जिंदगी मुश्किल बनाता है समाज

अब थोड़ी देर के लिए ये भूल जाइए कि मलाइका अरोड़ा कोई सेलिब्रिटी हैं. उन्हें एक आम महिला के तौर पर समझिए. वो भी भारत की तमाम Single mothers में से एक ही हैं जो अपने पैरों पर खड़ी हैं, सफल हैं और अपने दम पर अपने बच्चे की परवरिश कर रही हैं. और तब शर्म आएगी ये सोचकर कि हमारा समाज तलाकशुदा महिलाओं को किस तरह देखता है.

पति से अलग होने वाली महिलाओं पर समाज किस तरह नजरें गड़ाकर रखता है. वो कहां जा रही है, किससे मिल रही है. उसके कपड़े किस तरह के हैं. 'पुरुषों को आकर्षित करने के लिए ही इतना बन ठन के रहती है'. 'वो उस व्यक्ति से बहुत मिलती है, जरूर चक्कर चल रहा होगा.' 'ऐसी ही है, तभी तो अलग हो गई.' '40 की उम्र में भी लाल रंग की लिपस्टिक लगाती है'. इस तरह की बातें हमारे समाज से ही उठती हैं और अफसोस कि इन्हें उठाने वाली ज्यादातर महिलाएं ही होती हैं.

क्यों तलाकशुदा महिलाओं को ये समाज एक individual नहीं समझता. उसके लिए क्यों हदें बनाई हुई हैं, उसे उसके अतीत से अलहदा देखने की कोशिश ही नहीं की जाती. वो किसी से प्यार कर ले तो समाज खाने को दौड़ता है. वो दोबारा शादी कर ले तो सवाल उठते हैं. क्यों उसके हर रिश्ते को शक की निगाह से देखा जाता है? क्यों उसकी parenting पर सवाल खड़े किए जाते हैं.

malaika arora arjun kapoorमलाइका अरोड़ा और अर्जुन कपूर के रिलेशनशिप को अजीब क्यों कहा जाता है?

मलाइका अरोड़ा ने जिस भी वजह से अरबाज खान से तलाक लिया वो उनका निजी फैसला था. लेकिन जब Arjun Kapoor के साथ उनकी रिलेशनशिप के चर्चे हुए तो मलाइका को ही दोष दिया गया कि अर्जुन कपूर को उसी ने फंसाया होगा. ये दोनों की पर्सनल लाइफ है, वो शादी करें न करें ये उनकी अपनी मर्जी है. लेकिन इसपर बातें बनाने में लोगों को मजा आता है.

कंगना और रंगोली की सिर्फ शक्ल मिलती है, अक्ल नहीं

Kangana Ranaut से जब प्यार और सेक्स पर बात की गई थी तो वो खुलकर बोली थीं. उन्होंने बड़ी बेबाकी से कहा कि जब सेक्स की इच्छा हो तो कर लेना चाहिए. उन्हें बड़ी उम्र के लोगों की जरूरतों के बारे में भी बात की. बच्चों के माता-पिताओं से ये अपील भी की कि उन्हें अपने बच्चों के सेक्शुअल पार्टनर्स से कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए.

यानी कंगना को न उम्र से कोई परेशानी है और न सेक्स से. प्यार और सेक्स जैसे टैबू पर वो बड़ी खुली सोच रखती हैं, समाज और संस्कृति पर कई बार उन्होंने अपनी समझदारी का परिचय दिया है. लेकिन बहन रंगोली की सोच उतनी ही छोटी हो जाती है जब बात एक तलाकशुदा महिला की आती है.

यहां मलाइका अरोड़ा अगर Single mothers का प्रतिनिधित्व कर रही हैं तो रंगोली चंदेल उसी असंवेदनशील समाज का, जो हर अकेली मां को नोचने के लिए बैठा रहता है. अफसोस यही होता है कि रंगोली चंदेल जो खुद एक बेटे की मां हैं वही दूसरी मां के ऊपर कीचड़ उछाल रही है.

ये भी पढ़ें- 

Malaika Arora का 46वां बर्थडे मनाना लोगों को पच क्यों नहीं रहा

एक महिला के खूबसूरत लगने का वैज्ञानिक कारण भी जान लीजिए

Bigg Boss ने जानबूझकर TRP की ओखली में सिर दिया, मूसल तो पड़ेंगी ही!

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय