होम -> सिनेमा

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 25 अक्टूबर, 2019 03:13 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

रिलीज से पहले Housefull 4 का खूब प्रचार किया गया था. Akshay Kumar और उनकी पूरी टीम ने मुंबई से दिल्ली ट्रेन तक का सफर किया था, सिर्फ और सिर्फ इस फिल्म के प्रचार के लिए. सेलिब्रिटियों की ट्रेन की यात्रा और जबरदस्त तरह से प्रचार करने के लिए तो इन्हें फुल मार्क्स मिलने चाहिए, लेकिन इस जिस फिल्म के लिए इतनी कवायद की गई वो फिल्हाल नंबरों के मामले में पिछड़ती दिखाई दे रही है.  

Housefull 4 का ट्रेलर रिव्यू करके हमने आपको पहले ही समझा दिया था कि इस फिल्म को देखने के लिए आप दिमाग घर पर रखकर जाएं, लेकिन फिर भी हमारी न मानकर आप दिमाग साथ लेकर चले गए तो आप खुद ही जिम्मेदार होंगे. वैसे जो अक्षय कुमार की कॉमेडी के फैन्स हैं वो सिर्फ अक्षय के लिए ये फिल्म देख सकते हैं. बाकी Ritesh Deshmukh, Bobby deol का काम औसत रहा. और फिल्म की हीरोइनें Kriti Sanon, Pooja Hegde, Kriti Kharbanda सिर्फ शोपीस की तरह ही नजर आती हैं.

housefull4फिल्म में सिर्फ अक्षय कुमार ही देखने लायक हैं

सोशल मीडिया रिएक्शन्स दिमाग की बत्ती जला देंगे

सोशल मीडिया रिएक्शन्स तो कुछ यही बता रहे हैं कि फिल्म काफी निराश करती है. पूरी फिल्म में सिर्फ अक्षय कुमार ही फिल्म को संभालने का प्रयास करते दिखाई दे रही हैं. और आखिर में वो प्रयास भी बेकार हो जाता है. दर्शक फिल्म को टॉर्चर कह रहे हैं. किसी ने तो ये भी कहा है कि 'अपने दुशमनों को हाउसफुल 4 दिखानी चाहिए.'

लोगों को फिल्म देखकर गुस्सा आया. इस भाई की माने तो ये जेल में बंद होना ज्यादा पसंद करेंगे लेकिन ये फिल्म नहीं देखेंगे. ये सलाह दे रहे हैं कि gunpoint पर भी ये फिल्म नहीं देखना.

किसी का कहना है कि इस फिल्म को देखना दुनिया का सबसे बड़ा पाप है.

फिल्म को देखने के बाद लोगों ने खुद को ठगा हुआ महसूस किया. उनके हिसाब से फिल्म बकवास है. और अफसोस कि टिकट के पैसे वापस भी नहीं मिलने वाले.

film critic रोहित जैसवाल ने इसे 1.5 स्टार दिए हैं और उनका कहना है कि अगर ये फिल्म चली तो वो सिर्फ दिवाली का वजह से ही चल सकेगी. हालांकि बॉलीवुड से आने वाले रिएक्शन्स पर मत जाइए, क्योंकि वो तो अपनी कम्यूनिटी के लोगों को सपोर्ट करने के लिए फिल्म की तारीफ किया करते हैं.

अक्षय से नाराजगी की वजह जायज है

इस फिल्म की एक और बात के लिए इसकी आलोचना की जा रही है. लोग अक्षय कुमार से नाराजगी दिखा रहे हैं क्योंकि Pad Man फिल्म के बाद अक्षय को एक जिम्मेदार अभिनेता के रूप में देखा गया जो महिला और उनसे जुड़े मामलों को लेकर गंभीर हैं, वहीं हाउसफुल फिल्म में लड़कियों को जिस तरह portray किया गया है वो किसी भी रूप में महिलाओं के हित में नहीं दिखाई देता. फिल्म में महिलाओं को वस्तु की तरह दिखाया गया है. और इसे लेकर अक्षय कुमार से दर्शक नाराज दिखाई दिए.

फिल्म के गाने एक चुम्मा...पर तो पहले भी विवाद हुआ था जब इसे महिला विरोधी बता या गया था. लेकिन कृति सेनन ने इसपर अपनी राय देते हुए कह दिया था कि ये महिला विरोधी नहीं है. लेकिन एक महिला होने के नाते बुरा लगता है जब ये गाना कही पर भी बजता है कि - 'गुंडो से छुड़ाया है, मैंने तुझे बचाया है...एक चुम्मा तो बनता है'.

इसमें कोई शक नहीं है कि ये फिल्म 100 करोड़ कमा ले जाएगी. आजकल 100 करोड़ कमाना फिल्म के अच्छा होने की गारंटी भी नहीं है. दिवाली का माहौल है इस बहाने ये फिल्म चलेगी ही, लेकिन दर्शकों की उम्मीदों पर खरी नहीं उतरती. फिल्हाल तो सोशल मीडिया पर सलाह दी जा रही है कि इस फिल्म पर पैसा बर्बाद न किया जाए. लेकिन आपको जाना है तो बेशक जाइए, लेकिन अपनी जिम्मेदारी पर.

ये भी पढ़ें-

Malaika Arora का 46वां बर्थडे मनाना लोगों को पच क्यों नहीं रहा

Housefull 4 नहीं, कॉमेडी का बाहुबली कहो..

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय