New

होम -> टेक्नोलॉजी

 |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 17 जनवरी, 2023 04:17 PM
रजनीश कुमार सक्सेना
रजनीश कुमार सक्सेना
  @rajneeshksaxena
  • Total Shares

ऑटो एक्सपो में आने वाले दर्शकों को सड़क सुरक्षा के बारे में जागरुक करने के प्रयास में SIAM ने परिवहन समाधानों के मार्केट लीडर रोज़मर्टा के साथ साझेदारी में ग्रेटर नोएडा के मोटर शो-ऑटो एक्सपो 13 से 18 जनवरी 2023 के दौरान सुरक्षित सफल पैविलियन का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम का आयोजन राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह 11 से 17 जनवरी 2023 के मद्देनज़र किया गया.

केन्द्रीय मंत्री ने किया सुरक्षित सफ़र पैविलियन का उद्घाटन

सुरक्षित सफ़र पैविलियन का उद्घाटन नितिन गड़करी, केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री, भारत सरकार द्वारा किया गया. 12 जनवरी 2023 को हुए उद्घाटन के अवसर पर विनोद अग्रवाल, प्रेज़ीडेन्ट, सियाम एंव ऑटोमोबाइल उद्योग से अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे. नितिन गड़करी ने सड़क सुरक्षा के बारे में जागरुकता बढ़ाने के सियाम के प्रयासों की सराहना की साथ ही पैविलियन आने वाले विशेष सहायता प्राप्त बच्चों से मुलाकात कर उनसे बातचीत भी की.

Road, Accident, Nitin Gadkari, Safety, Auto Expo, Automobile, Technologyनितिन गड़करी ने सड़क सुरक्षा के बारे में जागरुकता बढ़ाने पर बल दिया

ओईएम जगत के दिग्गजों जैसे होंडा मोटरसाइकल और स्कूटर, मारूति सुजुकी, बजाज ऑटो लिमिटेड, होण्डा कार्स, स्कोडा ऑटो वॉक्सवेगन के अलावा टाटा मोटर्स ने ऑटो एक्सपो में हिस्सा लिया. समाज के विभिन्न क्षेत्रों से आएं दर्शकों ने पैविलियन में हिस्सा लिया. इनमें छात्र, वाहन चालक, दिव्यांगजन, ऑटोमोटिव निर्माता, एमरजेन्सी देखभाल प्रदान करने वाले, राज्य संस्थानों के कर्मचारी आदि सभी शामिल थे.

SIAM प्रेज़ीडेन्ट ने की विभिन्न पहलुओं पर चर्चा

पैनल्स ने सड़क सुरक्षा से जुड़े विभिन्न पहलुओं का प्रदर्शन किया. जैसे हेलमेट का महत्व, सीट बेल्ट पहनने का महत्व और अच्छे समारितन कानून-इसके अलावा फर्स्ट रिस्पॉन्डर को भी डिस्प्ले किया गया. सुरक्षित सफर पैविलियन के उद्घाटन पर बात करते हुए विनोद अग्रवाल, प्रेज़ीडेन्ट, SIAM ने कहा कि सियाम भारतीय ऑटो उद्योग देश में सड़क सुरक्षा में सुधार लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

वाहनों की इंजीनियरिंग पर काफी काम किया गया है और अब भारतीय कारें विश्वस्तरीय मानकों के अनुरूप बन चुकी हैं, ताकि सड़क का इस्तेमाल करने वालों के व्यवहार में बदलाव लाया जा सके, जो दुर्घटनाओं को कम करने में मुख्य भूमिका निभा सकते हैं.

सुरक्षित सफ़र पैविलियन ऐसी ही एक पहल है जो आम जनता को सड़क सुरक्षा के बारे में जागरुक बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी. कार्यक्रम की सफलता को देखते हुए ने देश भर में इस पहल को दोहराने की योजना भी बनाई हैं.

ई-सिम टेक्नोलॉजी के द्वारा वी2एक्स कम्युनिकेशन्स

इसके अलावा कर्न नागपाल, प्रेज़ीडेन्ट, रोज़मर्टा, टेक्नोलॉजीज़ लिमिटेड ने कहा कि रोज़मर्टा में हमें गर्व है कि हम भारत सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की सड़क सुरक्षा पहल के अनुरूप पिछले 20 सालों से भारतीय सड़कों को सुरक्षित बनाने की दिशा में काम कर रहे हैं.सड़क सुरक्षा के लिए हमारी प्रतिबद्धता हमारी विभिन्न सेवाओं में स्पष्ट होती है.

जैसे वाहन की फिटनेस के सर्टिफिकेशन के लिए ऑटोमोटेड टेस्टिंग स्टेशन (एटीएस) तथा सेंसर एवं वीडियो एनालिटिक्स आधारित ड्राइविंग टेस्ट के लिए ऑटोमेटेड ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक (एडीटीटी), सड़क सुरक्षा में रोज़मर्टा का योगदान, टेलीमेटिक्स एवं वाहन ट्रैकिंग के लिए ई-सिम टेक्नोलॉजी के द्वारा वी2एक्स कम्युनिकेशन्स के ज़रिए सुरक्षित यात्रा एवं परिवहन समाधानों को सुनिश्चित करता हैं.

साथ ही पीके बैनर्जी, एक्ज़क्टिव डायरेक्टर, SIAM ने कहा कि सुरक्षित सफ़र की यह पहल सरकार के दृष्टिकोण के अनुरूप सड़क सुरक्षा को सुनिश्चित करती हैं. SIAM हमेशा से देश में सड़क सुरक्षा की स्थिति में सुधार लाने के लिए अग्रणी रहा हैं.

हमारा मानना है कि सड़क सुरक्षा में सुधार लाने के लिए लोगों को जागरुक और शिक्षित बनाना बेहद जरुरी हैं. इसीलिए हम विभिन्न ओईएम के साथ मिलकर स्कूल स्तर से ही बच्चों को शिक्षित करने का प्रयास कर रहे हैं, ताकि बच्चों में कम उम्र से ही सड़क सुरक्षा की आदतें विकसित की जा सकें. आने वाले समय में भी हम स्कूली बच्चों को शिक्षित करने के लिए देश भर में इस तरह की पहलों का आयोजन करते रहेंगें.

लेखक

रजनीश कुमार सक्सेना रजनीश कुमार सक्सेना @rajneeshksaxena

लेखक स्वतंत्र पत्रकार हैं और इनके लेख देश के कई समाचार पत्रों में प्रकाशित होते रहते हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय