charcha me| 

होम -> टेक्नोलॉजी

 |  4-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 28 जनवरी, 2019 06:27 PM
बिलाल एम जाफ़री
बिलाल एम जाफ़री
  @bilal.jafri.7
  • Total Shares

जिस दिन से जियो लांच हुआ है, असली मोबाइल और इंटरनेट क्रांति हुई है. पहले सस्‍ता इंटरनेट और फिर उससे भी सस्‍ता फोन. जियो कैसे हमारे जीवन में अपना प्रभाव बढ़ा रहा है, यदि इसे समझना हो तो हमें एक खबर का रुख करना पड़ेगा. जीवन और सुगमता से चल सके इसके लिए जियो ने जियोफोन और जियोफोन 2 के उपभोगताओं के लिए एक नया ऐप लांच किया है. JioRail नाम के इस ऐप से अब आसानी से ट्रेन की टिकटें बुक की जा सकेंगी. ये पहली बार है जब फोन के किसी फीचर से ट्रेन के टिकट बुक किये जा सकेंगे. बताया जा रहा है कि जियोफोन के वो यूजर जिनके पास IRCTC का अकाउंट नहीं है, JioRail नाम की इस ऐप का इस्तेमाल करते हुए नया अकाउंट बना सकते हैं. इस ऐप के जरिए रेल टिकट का भुगतान करने के लिए ग्राहक डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड या ई-वॉलेट का इस्तेमाल कर सकते हैं.

जियो, मोबाइल, ऐप, रेलवे, रेलवे ऐप कहा जा सकता है कि जियो की रेलवे ऐप उपभोगताओं को काफ़ी फायदा देगी

ध्यान रहे कि इस सुविधा में न सिर्फ टिकट बुक होंगे. बल्कि इसमें ग्राहक टिकट कैंसल करा सकते हैं. टिकटों की तत्काल बुकिंग कर सकते हैं और साथ ही टिकट का पीएनआर स्टेट्स भी जान सकते हैं. jiophone और jiophone 2 के ग्राहकों के लिए बनाई गई इस ऐप में जहां एक तरफ ट्रेन रूट, ट्रेन टाइमिंग की जानकारी मिल सकती है. तो वहीं दूसरी तरफ इसमें ये भी पता लगाया जा सकता है कि आरक्षण के लिए सीट उपलब्ध हैं या नहीं.

ये कोई पहली बार नहीं है कि ग्राहकों को लाइनों से मुक्त करने को आतुर दिख रहे जियो ने कोई नया इतिहास रचा है. जियो लगातार सुर्ख़ियों में है. अभी कुछ दिन पहले ही जियो ने तकरीबन सभी मोबाइल निर्माता कंपनियों को उस वक़्त दांतों तले अंगुली दबाने पर मजबूर कर दिया था. जब ये कहा गया था कि भारतीय बाजार में जियो कि 21 प्रतिशत हिस्सेदारी है. साथ ही वो फीचर फोन के 38 प्रतिशत बाजार पर अपनी गहरी पकड़ जमाकर बादशाहत करने में कामयाब है.

बात अगर 2018 की हो तो जिस तेजी के साथ लोगों ने जियो फोन को हाथों हाथ लिया. अपने आप ही साफ हो गया कि, सस्ते दामों में अधिक से अधिक सेवा के चलते लोग इसे पसंद कर रहे हैं. ध्यान रहे कि भारतीय  मोबाइल फोन बाजार का वर्ष 2018 में 10% की दर से विस्तार हुआ है. तकनीक के जानकारों  से जब इस विषय पर राय मांगी गई तो उनका भी यही कहना था कि, अभी ये शुरुआत है. जिस हिसाब से जियो मुनासिब दामों में अधिक से अधिक फीचर या ये कहें कि सेवाएं दे रहा है वो दिन दूर नहीं जब जियो स्मार्टफोन पूरे भारतीय बाजार को आसानी से पस्त कर नंबर वन बन जाएंगे.

बहरहाल, जियो का रेल एप लांच करना इसलिए भी अहम है क्योंकि अभी बीते दिनों ही रेलवे का रेलवे का ऑफशियल सर्विस प्रोवाइडर बनने के लिए तमाम कंपनियों में लड़ाई चल रही थी. जियो का सबसे बड़ा मुकाबला एयरटेल के साथ माना जा रहा था जिसे रेस में जियो ने करारी शिकस्त दी थी.

अंत में बस इतना कि अब जियो हमारे जीवन का, हमारे ईको सिस्टम का हिस्सा हो गया है. जियो ने जिस हिसाब से हमारे लिए सूचना क्रान्ति और इंटरनेट को सुगम बनाया है तमाम कंपनियों के बीच बेचैनी बढ़ गई है. आज जिस तेजी से जियो अपना विस्तार कर रहा है. ये बात खुद ब खुद संकेत दे रही है कि, भविष्य में जियो हमें ऐसी तमाम सौगात देगा जिसकी हमने शायद ही कभी कल्पना की हो.

ये भी पढ़ें -

तो क्या जियो से पहले मोबाइल कंपनियां लूट रही थीं या मजबूर थीं?

जियो का नया ऑफर 5 सवालों के साथ आया है

ये है वो वजह, जिससे रिलायंस जियो ने 'दुनिया बदल दी'

लेखक

बिलाल एम जाफ़री बिलाल एम जाफ़री @bilal.jafri.7

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय