होम -> टेक्नोलॉजी

 |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 07 जून, 2018 06:48 AM
ऑनलाइन एडिक्ट
ऑनलाइन एडिक्ट
 
  • Total Shares

बेंगलुरु स्थिती एक स्टार्टअप कंपनी Ather Energy ने दो नए इलेक्ट्रिक स्कूटर लॉन्च किए हैं. Ather 340, और Ather 450 दोनों ही स्कूटर की कीमतें 1 लाख से ऊपर की हैं और दोनों ही मॉडल्स लगभग एक जैसे ही लगते हैं. बस फर्क इलेक्ट्रिक मोटर और बैटरी पैक में है.

Ather 340..

ये एंट्री लेवल स्कूटर है जिसकी स्पीड 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार है और एक बार चार्ज करने पर 60 किलोमीटर तक आसानी से जा सकती है. इस स्कूटर की कीमत 1.09 लाख रुपए है.

Ather 450..

इस स्कूटर में 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार है और एक सिंगल चार्ज में 75 किलोमीटर चल सकती है. इस स्कूटर की कीमत 1.24 लाख है.

इलेक्ट्रिक स्कूटर, तकनीक, जीपीएस सिस्टम, सोशल मीडिया, ऑटोमोबाइल

दोनों ही स्कूटर में 7 इंच की एलसीडी स्क्रीन लगी हुई है जो चार्जिंग, रेंज, स्पीड आदि की जानकारी देगी साथ ही सैटेलाइट नैविगेशन और रिमोट डायग्नोस्टिक भी होंगे.

इस रेंज के स्कूटर यकीनन आम भारतीय जनता के लिए महंगे ही साबित होंगे. इस कीमत में कई अच्छी बाइक्स उपलब्ध हैं और अगर अन्य इलेक्ट्रिक स्कूटर की ही बात करें जैसे हीरो इलेक्ट्रिक प्रोटॉन, क्रूज, एवॉन ई प्लस आदि 21 हज़ार की रेंज से लेकर 60 हज़ार की रेंज तक कई मॉडल उपलब्ध हैं.

Ather में बेहतरीन डिजाइन है, बढ़िया बिल्ड क्वालिटी है, तकनीक बेहतर है, फीचर्स अच्छे हैं, लेकिन अभी भी सवाल वहीं का वहीं है, क्या इतना महंगा स्कूटर लेना चाहिए?

यकीनन दोनों स्कूटर्स में बेहतरीन फीचर्स हैं. फुल फ्रेम सैटेलाइट नैविगेशन, जीपीएस, क्लाउड कनेक्शन आदि, इंजीनियरिंग और परफॉर्मेंस के हिसाब से भी परफेक्शन है. इलेक्ट्रिक स्कूटर की मेंटेनेंस भी कम होती है और उससे चलने की कीमत भी कम ही लगती है, पेट्रोल के बढ़ते दामों के समय ये एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है. साथ ही इस स्कूटर की इंजीनियरिंग की तारीफ भी हो रही है पर फिर भी अगर खरीदने की बात की जाए तो आम आदमी के लिए ये गाड़ी नहीं है.

जरा सोचिए आपको रोज़ ऑफिस जाने के लिए एक बेहतर गाड़ी चाहिए जिसमें कम से कम दो घंटे (मेट्रो शहरों में) सफर कर पाए.

क्यां दिक्कतें आएंगी?

1. सबसे पहले तो ये स्कूटर अभी सिर्फ बेंगलुरु के लिए है और बाद में ये चेन्नई, पुने में उपलब्ध होगी. इन शहरों में दूरी बहुत है और सिंगल चार्ज में अगर कोई ऑफिस पहुंच भी जाता है तो वापस आते समय दिक्कत होगी.

2. अभी भारतीय शहरों में इतने चार्जिंग स्टेशन भी नहीं हैं कि ये गाड़ियां आसानी से चार्ज की जा सकें.

3. कीमत इतनी ज्यादा है कि इतने में कोई आम स्कूटर आ जाएगी. यकीनन भारतीयों का ट्रेंड रहा है कि वो शुरुआत में पैसे बचाने की सोचते हैं बाद की बचत को नहीं देखेगी और पर्यावरण के लिए इलेक्ट्रिक स्कूटर तो बिलकुल भी नहीं खरीदेंगे.

यकीनन टेक्नोलॉजी इस स्कूटर में बढ़िया है. पर फिर भी आम इंसान की जरूरत को देखें तो इस स्कूटर की सेल पर थोड़ा अंकुश ये कारण लगा सकते हैं. यकीनन Ather कंपनी आने वाले समय में कम कीमत वाले स्कूटर बनाने का सोच रही है, लेकिन फिर तकनीक के मामले में भी वो कम ही रह जाएंगे. फिलहाल तो अगर आप नई तकनीक के शौकीन हैं तो ये स्कूटर खरीदिए और लुत्फ उठाइए और आम आदमी के लिए फिलहाल इस स्कूटर को खरीदना उतना लाभकारी नहीं लगता है.

ये भी पढ़ें-

इलेक्ट्रिक कार: क्यों इस सरकारी सपने पर आसानी से यकीन नहीं होता..

डीजल कार लेकर खुशी मनाने वालों को मोदी सरकार ने निराश कर दिया!

लेखक

ऑनलाइन एडिक्ट ऑनलाइन एडिक्ट

इंटरनेट पर होने वाली हर गतिविधि पर पैनी नजर.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय