होम -> टेक्नोलॉजी

 |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 20 मई, 2017 04:19 PM
श्रुति दीक्षित
श्रुति दीक्षित
  @shruti.dixit.31
  • Total Shares

भारत में गर्मियां आ गई हैं और साथ ही साथ जीएसटी की टैक्स लिस्ट भी आ गई है. फ्रिज, टीवी, एसी जैसे सभी महंगे आइटम 28% टैक्स स्लैब में रखे गए हैं और अब ये और महंगे हो जाएंगे. अभी का टैक्स रेट लगभग 23% है और ये जुलाई में बढ़ जाएगा मतलब एसी जैसे किसी भी आइटम की कीमत में 4-5% तक की बढ़त.

तो क्या आपके लिए ये सही समय है AC जैसी कोई मशीन खरीदने के लिए? इसका जवाब है हां.

जीएसटीएसी खरीदने से पहले जरूर जान लें ये बातें...

अगर आप AC खरीदने की सोच रहे हैं और अभी तक फैसला नहीं कर पा रहे हैं तो चलिए आपको बताते हैं कि अपने लिए सही AC कैसे चुना जाए?

1. साइज/कैपेसिटी...

अपने लिए सही AC चुनने के लिए अपने रूम का साइज और एसी की कैपेसिटी को चेक कर लीजिए. कई बार बहुत बड़े रूम के लिए छोटा एसी आ जाता है और छोटे रूम के लिए कोई ऐसा एसी आ जाता है जिससे लगे कि आप नॉर्थ पोल में हैं. आम तौर पर 120-140 स्क्वेयर फिट एरिया के लिए 1 टन का एसी, 150 से 180 स्क्वेयर फुट एरिया के लिए 1.5 टन का एसी और 180-240 स्क्वेयर फिट एरिया के लिए 2 टन का एसी बेहतर होता है.

2. बिजली की बचत...

जहां एक ओर पारा बढ़ रहा है वहीं दूसरी ओर बिजली की कीमतें भी आसमान छू रही हैं. ऐसे में अगर आप कोई गलत AC अपने घर ले आते हैं तो बिजली बिल में ही उधड़ सकते हैं. ऐसे में EER (एनर्जी एफिशिएंसी रेटिंग) देख लें. ये स्टार में दी जाती है. मतलब जिस एसी को ज्यादा स्टार मिलेंगे वो बिजली की ज्यादा बचत करेगा.

3. स्प्लिट या विंडो...

एक और फैसला जो करना होता है वो है विंडो एसी खरीदें या स्प्लिट एसी. विंडो एसी सस्ता जरूर होता है, लेकिन आवाज करता है और कूलिंग भी ठीक तरह से कमरे में नहीं पहुंच पाती है. ऐसे में स्प्लिट एसी ज्यादा बेहतर है किसी बड़े कमरे के लिए.

4. एयर क्वालिटी....

घर के अंदर की क्वालिटी काफी जरूरी होती है. ऐसे में अगर आपने अच्छे फिल्टर वाला एसी नहीं लिया तो कूलिंग पर और बिजली की खपत पर भी असर पड़ता है. इसलिए एसी लेते समय फिल्टर का खास ध्यान रखें.

5. घर के हिसाब से ....

स्प्लिट एसी और विंडो एसी की इंस्टॉलेशन की जरूरतें दोनों अलग होती हैं. विंडो एसी को खिड़की चाहिए और स्प्लिट एसी के लिए एक यूनिट घर के बाहर लगता है और एक घर के अंदर. बेहतर होगा अपने घर के हिसाब से एसी चुनें. इंस्टॉलेशन भी सर्विस सेंटर के लोगों से ही करवाएं.

6. कूलिंग स्पीड...

एसी में एडजस्टेबल टेम्प्रेचर सेटिंग होनी चाहिए और कम से कम दो कूलिंग स्पीड. और साथ ही दो फैन स्पीड. अगर अलग-अलग लेवल नहीं होंगे तो एसी पूरे दिन एक जैसा टेम्प्रेचर रखेगा. इसके अलावा, पावर का इस्तेमाल भी ज्यादा होगा.

ये भी पढ़ें-

'भारत में ATM हो गए हैं बंद', जान लीजिए इस बात का सच

अगर किसी ने भेजा है ये वॉट्सएप लिंक तो भूलकर भी ना करें क्लिक...

लेखक

श्रुति दीक्षित श्रुति दीक्षित @shruti.dixit.31

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय