होम -> टेक्नोलॉजी

 |  3-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 15 मई, 2017 06:46 PM
मोहित चतुर्वेदी
मोहित चतुर्वेदी
  @mohitchaturvedi123
  • Total Shares

शनिवार (12 मई) को हुए साइबर अटैक ने 100 से ज्यादा देशों को अपने चपेट में ले लिया. इस ऐतिहासिक वैश्विक साइबर हमले की चपेट में ब्रिटेन, अमेरिका, चीन, रुस, स्पेन, इटली, वियतनाम जैसे देश शामिल हैं. लेकिन अब जो होने वाला है वो और भी खतरनाक होगा. क्योंकि, एक्सपर्ट्स की मानें तो सोमवार और मंगलवार को इससे भी बड़ा अटैक होने की आशंका है. इससे कंपनियां डर चुकी है वो युद्धस्तर पर कंप्यूटरों को रीस्टोर और चुस्त-दुरुस्त बनाने में जुट गए हैं.

cyber-attack_051517033917.jpg

12 मई को हुआ पहला साइबर अटैक

शुक्रवार (12 मई) को सबसे पहले ब्रिटेन के हेल्थ सर्विस को बुरी तरह प्रभावित करने के बाद, अमेरिकी अंतरराष्ट्रीय कूरियर सर्विस 'फेडेक्स' के सिस्टम को लॉक कर दिया. साइबर अटैक के अंतर्गत हैकर्स ने लंदन, ब्लैकबर्न और नॉटिंघम जैसे शहरों के हॉस्पिटल और ट्रस्ट के कंप्यूटर्स ने काम करना बंद कर दिया.

हैकर्स कंप्यूटर से वायरस हटाने के लिए फिरौती की मांग कर रहे हैं. मतलब इस वायरस के कारण करप्ट हुए कंप्यूटरों को ऐक्सस दुबारा पाने के लिए 300-600 डॉलर तक की फिरौती मांगी जा रही है.

cyber-attack1_051517033927.jpg

भारत कैसे बचा इस वायरस से

अटैक होने के बाद शनिवार और रविवार को साइबर सिक्यॉरिटी प्रफेशनल्स दिन-रात काम में जुटे रहे ताकि अपने क्लायंट्स को इस संभावित हमले से किस भी तरह बचा सकें. लेकिन एक्सपर्ट्स की मानें तो सोमवार और मंगलवार को इससे भी बड़ा और खतरनाक अटैक होने की संभावनाए हैं. जिसे हालही में हुए साइबर अटैक से ज्यादा खतरनाक होगा.

cyber-attack2_051517033936.jpg

अब हुआ तो भारत पर क्या असर पड़ेगा

अगर फिर साइबर अटैक हुआ और भारत इसकी चपेट में आ जाए तो सबसे खतरनाक साबित होगा. क्योंकि भारत में कई बड़ी संस्थाएं और कंपनी में लोग विंडोज के पुराने और आउटडेटेड वर्जन का इस्तेमाल करते हैं. साथ ही देश में नकली सॉफ्टवेयर इस्तेमाल करने वालों की संख्या भी सबसे ज्यादा है. ऐसे में अटैक हुआ तो ये सबसे आसान शिकार होंगे. अभी तक भारत में आंध्र प्रदेश पुलिस, चार कंपनियां, दो रिटेलर्स और कुछ अन्य कंपनियां प्रभावित हुई हैं.

cyber-attack3_051517033945.jpg

22 साल का ब्लॉगर बना मसीहा

साइबर अटैक होने के बाद 22 साल का ब्रिटिश ब्लॉगर लोगों के लिए मसीहा बन गया. अटैक के तुरंत बाद उसने वो कर दिखाया जो बड़े से बड़े साइबर एक्सपर्ट्स नहीं कर पाए. इस ब्रिटिश साइबर मसीहा ने एक्सीडेंटल ही सही, पर 8यूरो खर्च करके ऐसी तरकीब खोज निकाली. जिसकी वजह से साइबर वर्ल्ड आज उसे मसीहा जैसी इज्जत दे रहा है. @MalwareTechBlog नाम से लोगों की ऑनलाइन मदद कर रहा है.

उसने ट्वीट कर जानकारी दी- 'हमने इसे रोक दिया है, लेकिन कोई दूसरा आ रहा है और इसे हम नहीं रोक पाएंगे.' कुल मिलाकर अभी जो साइबर अटैक हुआ वो तो महज ट्रेलर था एक्सपर्ट्स की मानें तो इससे भी खतरनाक अटैक अभी होना बाकी है. जिससे हर व्यक्ति प्रभावित होगा.

ये भी पढ़ें-

विश्व युद्ध शुरू, 100 से ज्यादा देश हमले की चपेट में

इंटरनेट युग का डरावना ट्रेंड 'रिवेंज पॉर्न' !

इंटरनेट पर अनजाने में भी ना करना ये काम वरना हो सकती है जेल

Cyber Attack, Internet, Hacking

लेखक

मोहित चतुर्वेदी मोहित चतुर्वेदी @mohitchaturvedi123

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं.

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय