होम -> समाज

 |  5-मिनट में पढ़ें  |  
Updated: 10 फरवरी, 2017 06:54 PM
पारुल चंद्रा
पारुल चंद्रा
  @parulchandraa
  • Total Shares

वैलेंटाइन डे पर प्‍यार की बात करते हैं, तो ब्रेकअप की बात को दिगाम से मत निकालिए. अगर आप प्यार पर भरोसा करते हैं तो ब्रेकअप पर भी जरूर करते होंगे? बात बनी तो प्यार को मंजिल मिल जाती है, नहीं तो ब्रेकअप पक्का. पर जमाने के साथ-साथ ब्रेकअप का रूप भी बदलता जा रहा है. और यकीन मानिए ये रूप भयावह है. क्योंकि अब रिश्ता टूटने के बाद प्रेमी बदला लेने लग गए हैं. वजह चाहे जो भी हो लेकिन आजकल ये बदला लेने की प्रवृत्ति बहुत कॉमन होती जा रही है.

बदला लेने के लिए कुछ लड़के लड़कियों पर कई तरह से हमला करते हैं. एसिड अटैक, कत्ल, या फिर उनका चरित्र हनन के कई मामले आपने सुने होंगे लेकिन इंटरनेट के युग में एक और शब्द प्रचलन में है जिसे 'रिवेंज पॉर्न' कहते हैं.

cyber-crime650_021017064306.jpg

क्या है 'रिवेंज पॉर्न'

अपने एक्स पार्टनर से बदला लेने के लिए अगर कोई सबसे घिनौना और घटिया रास्ता है, तो वो रिवेंज पॉर्न ही है. ये एक तरह का ऑनलाइन शोषण है, जिसमें सोशल साइट्स पर लोग अपने एक्स पार्टनर की निजी तस्वीरें या वीडियो सबके सामने ले आते हैं. किसी की भी निजी जिंदगी अगर पब्लिक प्लैटफॉर्म पर ला दी जाए, तो सिवाय शर्मिंदगी के कुछ भी हासिल नहीं.

इसका एक छोटा सा उदाहरण आपने अक्सर फेसबुक पर देखा होगा. जिसमें एक भली सी लड़की की तस्वीर किसी फेक अकाउंट से पोस्ट होती है और नीचे लिखा होता है कि 'मैं कैसी लग रही हूं' या साथ में उसका नंबर भी पोस्ट कर दिया जाता है. उसे सेक्स वर्कर बताया जाता है. इसके बाद उस लड़की के फोन पर किस तरह के फोन और मैसेज जाते होंगे, आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते. ये तो सिर्फ एक साधारण तस्वीर के साथ होता है, जरा सोचिए बॉयफ्रेंड के साथ खींची हुई निजी तस्वीरें, वीडियो भी इसी तरह सोशल मीडिया पर सर्कुलेट हो जाते हैं.

_photo_blackmail650_021017064321.jpg

रिवेंज पॉर्न का मुख्य उद्देश्य एक्स पार्टनर की जिंदगी बर्बाद करना ही होता है. पर कई बार इन निजी तस्वीरों और वीडियो का इस्तेमाल लड़के अपनी एक्स गर्लफ्रेंड को ब्लैकमेल करने के लिए करते हैं, जिससे वो उनके पास वापस आ जाएं.  

प्यार है तो भरोसा अपने आप हो जाता है, और इसी भरोसे के चलते प्रेमी के साथ बिताए निजी पल, ब्रेकअप के बाद सार्वजनिक हो जाते हैं और उंगलियां लड़कियों के चरित्र पर ही उठाई जाती हैं. हाल ही में एक लड़के ने अपनी गर्लफ्रेंड से पुरानी तस्वीरें डिलीट करने के एवज में न्यूड वीडियो चैट की डिमांड कर डाली. और उसे ब्लैकमेल किया. परेशान लड़की ने पूरी घटना का कच्चा चिट्ठा एक वेबसाइट अपलोड कर दिया तब जाकर मामला खुला.

रिवेज पॉर्न का असर शर्मिंदगी और आघात से ज्यादा होता है. जो लोग इसे बर्दाश्त नहीं कर पाते वो अक्सर डिप्रेशन, सामाजिक अलगाव के शिकार होते हैं और आत्महत्या का प्रयास भी करते हैं (कई कामयाब भी हो जाते हैं)

आंकडों की मानें तो

- 2014 के NCRB डाटा के अनुसार साइबर क्राइम में 63.7% की बढ़ोत्तरी हुई है. और इस तरह के अश्लील कंटेंट का सर्कुलेशन 104.2% बढ़ गया.

- रिवेंज पॉर्न के पीड़ित सबसे ज्यादा महिलाएं होती हैं, करीब 90 %

- 93% पीड़ितों का कहना है कि इसका शिकार होने के बाद वो भावनात्मक रूप से पूरी तरह टूट चुकी हैं.

- 49% पीड़ितों का कहना है कि उनकी तस्वीरों ऑनलाइन आने के बाद लोगों ने उन्हें मानसिक रूप से प्रताड़ित किया और परेशना किया.

क्या आप भी 'रिवेंज पॉर्न' के शिकार हुए हैं?

अगर आप भी रिवेंज पॉर्न के विक्टिम हैं तो कानून की मदद लेने में ही भलाई है. क्योंकि जो सामग्री एक बार इंटरनेट पर चली गई उसे न तो आप छिपा सकते हैं और न ही हटा सकते हैं.

- किसी भी व्यक्ति की गोपनीयता के उल्लंघन करने (जानबूझकर किसी की तस्वीर बिना आज्ञा के प्रसारित करना, जिससे व्यक्ति की निजिता खत्म होती हो ) पर सजा दिलवाने के लिए आईटी एक्ट 2008 के सेक्शन 66 ई का इस्तेमाल किया जा सकता है. सेक्शन 354 सी और 66 ई के तहत तीन साल की सजा या दो लाख का जुर्माना या दोनों की सजा हो सकती है.

- सेक्शन 67ए के तहत सेक्सुअल मैटीरियल को प्रसारित करने पर 5 साल की सजा और 10 लाख तक का जुर्माना हो सकता है.

- इंडियन पीनल कोड के सेक्शन 504, 506 और सेक्शन 500(मानहानि) के तहत भी शिकायत दर्ज की जा सकती है, सेक्शन 354 सी केवल महिलाओं के लिए है, जबकि बाकी पुरुषों पर भी लागू होते हैं. क्योंकि रिवेंज पॉर्न के पीड़ित केवल महिलाएं नहीं, पुरुष भी हैं.

- सोशल मीडिया साइट्स की खास बात ये भी है कि यहां आप खुद भी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं. फेसबुक पर 'रिपोर्ट' फीचर इसी काम आता है. अगर आपको फेसबुक पर इस तरह का कोई पोस्ट दिखाई दे तो आप तुरंत उसकी रिपोर्ट कर सकते हैं.

अब आते हैं इस खतरनाक हथियार की जड़ पर. अक्सर लोग कहते हैं कि प्यार में लोग अंधे हो जाते हैं. उन्हें अच्छा बुरा कुछ नहीं दिखता. पर रिवेंज पॉर्न की घटनाओं को देखकर इस बात पर यकीन होने लगता है कि वाकई, प्यार लोगों की आंखों पर पर्दा डाल देता है. वो भरोसे में किसी को अपना सबकुछ देने के लिए तैयार हो जाते हैं. और तो और, प्यार का सबूत देने के लिए लड़कियों से अक्सर उनकी सेक्सी तस्वीरों की डिमांड भी की जाती है. भला ये किस तरह का प्यार?? पर लड़कियां शायद उस वक्त दिमाग से काम नहीं लेतीं और नादानी में ये कर बैठती हैं. पर आगे चलकर अगर ब्रेकअप हो, तो इस नादानी का नतीजा बेहद भयानक होता है. 

हम ये तो नहीं कहते कि किसी पर भरोसा मत कीजिए. प्यार कीजिए, लेकिन आंख-कान खुले रखिए, अक्ल पर पर्दा मत पढ़ने दीजिए.

ये भी पढ़ें-

ब्रेकअप क्‍या इतना भयानक हो सकता है !

सोशल मीडिया पर तीन चौथाई महिला शिकार हैं साइबर ट्रॉलिंग की

ये प्राइवेट वीडियो चैट वायरल हुआ है... हमें सावधान करने के लिए

लेखक

पारुल चंद्रा पारुल चंद्रा @parulchandraa

लेखक इंडिया टुडे डिजिटल में पत्रकार हैं

iChowk का खास कंटेंट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक करें.

आपकी राय